Top

लखनऊ में उड़ीं लॉकडाउन की धज्जियां

लखनऊ में उड़ीं लॉकडाउन की धज्जियां

सड़कों पर लगीं वाहनों की कतारें

एक ओर कोरोना की चेन तोड़ने के लिए प्रदेश सरकार ने लॉकडाउन का ऐलान कर रखा है वहीं दूसरी ओर लोग इसकी धज्जियां उड़ा रहे हैं। आज राजधानी के हजरतगंज इलाके में जब पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया तो थोड़ी ही देर में सड़कों पर वाहनों की कतार लग गई। पुलिस ने उन लोगों का चालान काटा जो बिना वजह अपने घरों से बाहर निकले थे। हालांकि तमाम लोग पुलिस से बचने के लिए तरह-तरह के बहाने बना रहे थे।


राजनीतिक फायदे के लिए न हो दवाओं की जमाखोरी: हाईकोर्ट

दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस से मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट में कोरोना महामारी के दौरान मेडिकल उपकरणों और दवाइयों की जमाखोरी को लेकर आज सुनवाई हुई। इस दौरान उच्च न्यायालय ने कहा कि कोरोना के उपचार में इस्तेमाल होने वाली दवाई को जमा करने का काम राजनेताओं का नहीं है। राजनीतिक फायदे के लिए दवाइयों की जमाखोरी ठीक नहीं है, ऐसा नहीं होना चाहिए। साथ ही कोर्ट ने इस मामले में पुलिस से जांचकर स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है।

कोर्ट ने नेताओं को निर्देश दिया है कि अगर आप भला करना चाहते हैं तो जिन दवाइयों की जमाखोरी की है, उसे सरकारी अस्पतालों में वितरण के लिए स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय को सौंप दें। कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से कहा कि आपसे दवाइयों की जमाखोरी की उचित जांच करने की उम्मीद है। साथ ही कोर्ट ने स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने को कहा है।

हाईकोर्ट ने इस मामले की अगली सुनवाई 24 मई तक के लिए स्थगित कर दी है। अदालत ने पुलिस को भी निर्देश दिया है कि वह पता लगाए कि नेता कहां से दवा लाकर इकट्ठा कर रहे हैं और साथ ही इस मामले की सही जांच करें। न्यायमूर्ति विपिन सांघी और न्यायमूर्ति जसमीत सिंह की पीठ ने दिल्ली पुलिस द्वारा पेश की गई उस स्थिति रिपोर्ट पर नाराजगी जाहिर की जो राष्ट्रीय राजधानी में रेमडेसिविर तथा कोविड-19 की अन्य दवाओं की नेताओं द्वारा जमाखोरी तथा वितरण के आरोपों के संबंध में की गई जांच से संबंधित थी। अदालत एक जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिसमें आरोप लगाया गया है कि नेता बड़ी मात्रा में कोविड-19 की दवाओं को खरीद रहे हैं और उन्हें वितरित कर रहे हैं जबकि मरीज इन दवाओं के लिए दर-दर भटक रहे हैं। याचिका में इस बारे में प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की गई है।

राम मंदिर के लिए किया गया नवग्रह पूजन, नौ शिलाएं स्थापित

नींव में स्थापित किया गया कलश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। अयोध्या में बन रहे भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर के गर्भगृह स्थल पर आज नवग्रह के पूजन के साथ ही नौ शिलाओं को स्थापित किया गया। इसके साथ ही पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पूजित शिलाओं व चांदी के कलश को भी नींव में स्थापित किया गया।

पूजन के दौरान राष्ट्रीय स्वयं सेवक के सह सरकार्यवाह भैयाजी जोशी, श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, निर्मोही अखाड़ा के महंत व ट्रस्ट के सदस्य स्वामी दिनेंद्र दास, सदस्य डॉ. अनिल मिश्रा शामिल रहे। इस दौरान विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय मंत्री राजेंद्र सिंह पंकज व कार्यदायी संस्था एल एंड टी, टीसीई और बालाजी टकसन कंपनी के अधिकारी भी मौजूद रहे। राम जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण के लिए 40 फुट गहरी की गई नींव की खुदाई के ग्राउंड के इम्प्रूवमेंट का कार्य किया जा रहा है जिसके लिए 400 फुट लंबे, 300 फुट चौड़े स्थल को इंजीनियर फिल्म मैटेरियल से लगभग 44 लेयर के माध्यम से भरा जाएगा। वर्तमान में 300 एमएम की दो लेयर बिछाई जा चुकी हैं। इस कार्य को तेज गति से बारिश के पहले किया जा सके इसके लिए परिसर में बड़ी मात्रा में वर्कर व मशीनों को लगा दिया गया है।

युवती की गला रेतकर हत्या, सनसनी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। जौनपुर में एक युवती की रात में गला रेतकर हत्या होने से सनसनी फैल गई। घटना के दौरान युवती अपने कमरे में सो रही थी। युवती की क्यों हत्या की गई, इसके बारे में अभी कुछ भी पता नहीं चला है। पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। पुलिस के अनुसार, जिले के सरपतहां थाना क्षेत्र के जमदरा गांव निवासी लालमणि की पुत्री प्रियंका(20) रविवार की रात खाना खाने के बाद अपने कमरे में सोने चली गई। परिवार के अन्य लोग बरामदे में सो रहे थे। जब सुबह काफी देर तक प्रियंका बाहर नहीं आई तो परिवार के लोग जगाने के लिए उसके कमरे में गए। कमरे के अंदर की स्थिति देखकर सन्न रह गए। प्रियंका का शव खून से लथपथ शव पड़ा था। किसी धारदार हथियार से उसके गर्दन पर वार किया गया था।


जैश आतंकी गिरफ्तार, महंत नरसिंहानंद को मारने का था प्लान

महंत को पहले भी मिल चुकी है धमकियां, सुरक्षा बढ़ाई गई

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। दिल्ली पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी जान मोहम्मद को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आतंकी गाजियाबाद के डासना मंदिर के महंत नरसिंहानंद की हत्या की फिराक में आया हुआ था। दिल्ली पुलिस ने उसके कब्जे से दो पिस्टल और कारतूस भी बरामद किया है। मसूरी थाना क्षेत्र स्थित डासना देवी मंदिर के महंत स्वामी यति नरसिंहानंद को पहले धमकियां मिल चुकी हैं। उन्हें पूर्व में भी पीएफआई से जान से मारने की धमकी मिल चुकी है।

आतंकी की गिरफ्तारी के बाद एहतियातन मंदिर के महंत की सुरक्षा के लिए पीएसी की एक बटालियन तैनात कर दी गयी है। दिल्ली पुलिस के मुताबिक आरोपी जम्मू-कश्मीर का रहने वाला है और जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन के इशारे पर महंत की हत्या करने के लिए आया था। वहीं, महंत ने कहा कि वो किसी से डरने वाले नहीं हैं जिसको भी मारना है आ जाए, मैं भी पूरी तैयारी से इंतजार कर रहा हूं। जान मोहम्मद साधु का भेष बनाकर महंत की हत्या करने की फिराक में था।

आरोपी को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने यति नरसिंहानन्द को जान से मारने का टारगेट दिया था। आरोपी के पास से पिस्टल, 2 मैगजीन, 15 कारतूस, कलावा, पूजा में इस्तेमाल होने वाला टीका और साधुओं के पहनने वाले कपड़े समेत अन्य सामान बरामद हुए हैं।

Next Story
Share it