Top

नवाबों के शहर में कोरोना का कहर

नवाबों के शहर में कोरोना का कहर

सड़कों पर सन्नाटा सैनेटाइजेशन जारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। नवाबों के शहर लखनऊ में एक बार फिर कोरोना का कहर जारी है। नयी लहर ने सरकार के तमाम जतन को बेअसर कर दिया है। यहां हर बीते दिन के साथ कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। बच्चे तक अब इसकी जद में आ चुके हैं। अव्यवस्था का आलम यह है कि अस्पतालों और श्मशानों में वेटिंग जारी है। बढ़ते संक्रमण और मौतों के आंकड़ों ने लोगों में दहशत पैदा कर दी है। लोग घरों से बाहर निकलने में डरने लगे हैं। आज भी बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा। वहीं कोरोना वारियर्स ने वायरस के संक्रमण को कम करने के लिए विभिन्न स्थानों पर सैनेटाइजेशन का काम युद्धस्तर पर चला रखा है।




कोरोना से निपटने को अब विधायक नीरज बोरा ने संभाला मोर्चा

विभिन्न व्यवस्थाओं के लिए विधायक निधि से दिए एक करोड़

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए प्रदेश के एक और विधायक नीरज बोरा ने मोर्चा संभाल लिया है। मरीजों के लिए जरूरी व्यवस्था करने के लिए बोरा ने अपनी विधायक निधि से एक करोड़ की धनराशि देने का ऐलान किया है।

उत्तरी विधान सभा क्षेत्र के विधायक नीरज बोरा ने पत्र जारी कर मुख्य विकास अधिकारी से इस आपदा काल में उनकी विधायक निधि से एक करोड़ की धनराशि निर्गत कर विभिन्न व्यवस्थाओं को करने के लिए लिए निर्देशित किया है। कोविड की रोकथाम तथा उपचार के लिए बाल महिला चिकित्सालय को 75 लाख की धनराशि देने की घोषणा की है। यह निधि अलीगंज को कोविड टेस्टिंग किट आक्सीजन पल्स आक्सीमीटर आदि उपकरण व उपचार के लिए जारी किए गए हैं। इसके अलावा नगर निगम लखनऊ को पांच ट्रैक्टर ट्राली सैनेटाइजिंग किट सहित उपलब्ध करवाने के लिए 25 लाख रुपये निर्गत करने के आदेश दिए हैं।

ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से दो की मौत, 7 गंभीर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

औरैया। नवरात्र की सप्तमी पर जालौन देवी मंदिर से दर्शन करके लौट रहे श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्राली बीझलपुर अयाना मार्ग पर सडरापुर मोड़ के पास पलट गई। हादसे में दो महिलाओं की मौत हो गई, जबकि करीब सात लोग घायल हुए हैं। घायलों में पांच की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है।

नवरात्र पर अयाना थाना क्षेत्र के नवादा ज्वाला प्रसाद गांव से तीन ट्रैक्टर ट्राली से करीब 20 परिवारों के लोग देवी दर्शन के लिए जालौन जिला गए थे। जालौन में देवी मंदिर से पूजन करके सभी गांव लौट रहे थे। आज सुबह करीब नौ बजे रास्ते में एक दूसरे को ओवरटेक करने में ट्रैक्टर अनियंत्रित होने से ट्राली खाईं में पलट गई। ट्राली सवार लोग उसके नीचे दब गए।

पांच वर्षीय मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या

घर के आंगन में पुआल और मिट्टी में छिपाया था शव

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

बांदा। मर्का थाना क्षेत्र के गांव में पारिवारिक बाबा ने एक पांच वर्षीय मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी। इसके बाद घर के आंगन में पुआल व मिट्टी के नीचे शव छिपा दिया। आरोपी बाबा की पिटाई करने के बाद गांव आई पुलिस के हवाले कर दिया। एसपी सिद्धार्थ शंकर मीना व बबेरू सीओ सियाराम ने घटनास्थल पर पहुंचकर पड़ताल की।

मर्का थाना अंतर्गत गांव में रहने वाला युवक सूरत में रहकर मजदूरी करता है और गांव के मकान में परिवार रहता है। उसकी पांच वर्षीय बेटी रविवार देर शाम घर के बाहर खेल रही थी तभी अचानक गायब हो गई। देर रात तक उसका कुछ पता नहीं चला, जिसके बाद स्वजन ने तलाश शुरू की। इस बीच घर के सामने रहने वाले 54 वर्षीय पारिवारिक बाबा के मकान में ग्रामीण पहुंचे। यहां एक जगह पर पुराने कपड़ों का ढेर देखकर शक हुआ। इस पर कपड़े के ढेर हटाने पर नीचे पुआल दिखा। पुआल के बाद मिट्टी हटाई तो मासूम का शव मिलने से सनसनी फैल गई। उसकी गला घोंटकर उसकी हत्या की गई थी। लोगों ने पारिवारिक बाबा को पीटकर मरणासन्न कर दिया।

वरिष्ठ पत्रकार ताविशी का कोरोना से निधन

पत्रकारिता जगत में शोक की लहर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। वरिष्ठï पत्रकार ताविशी का आज कोरोना से निधन हो गया। इस सूचना से उनके करीबी और शुभचिंतक शोकाकुल है और पत्रकारिता जगत में शोक की लहर है।

लगभग चालीस बरस तक उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में तमाम अंग्रेजी हिंदी अखबारों में वे राजनीतिक पत्रकार के रूप में शरीक रहीं पर कल लखनऊ ने कोरोना से टूटती उनकी सांसों को एक अदद एंबुलेंस नहीं मिल सकी। काफी मशक्कत के बाद एंबुलेंस मिली लेकिन तब तक काफी देर हो गई थी। गौरतलब है कि कोरोना के चलते ऑक्सीजन लेवल घटते जाने पर तीन दिन से उन्हें भर्ती करवाने के लिये लखनऊ के तमाम वरिष्ठ पत्रकार कोशिश कर रहे थे। आखिर ताविशी को बचाया न जा सका और उन्होंने अंतिम सांस ली।

लोगों की जान और रोजगार बचाने के लिए काम कर रही सरकार: सीतारमण

कारोबारियों से अर्थव्यवस्था को नुकसान से बचाने के मांगे सुझाव

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि उन्होंने भारत में कोविड-19 के प्रकोप को रोकने के संबंध में विभिन्न उद्योग संगठनों से सलाह ली है और केंद्र सरकार, राज्यों के साथ मिलकर लोगों की जान और आजीविका बचाने के लिए काम करती रहेगी।

उन्होंने कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर से देश की अर्थव्यवस्था को होने वाले नुकसान से बचने के लिए कारोबारियों से सुझाव भी मांगे। कोरोना वायरस महामारी के चलते पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के दौरान अर्थव्यवस्था में 23.9 प्रतिशत का संकुचन हुआ था। वित्त मंत्री ने ट्वीट में लिखा कि इन व्यवसाय/चैंबर नेताओं में से प्रत्येक के साथ टेलीफोन पर बात की। उद्योग और उद्योग संघों से जुड़े मामलों पर उनकी राय ली।

उन्होंने बताया कि भारत सरकार विभिन्न स्तर पर कोविड की रोकथाम कर रही है। जीवन और आजीविका बचाने के लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। वित्त मंत्री ने पिछले हफ्ते साफ किया था कि सरकार बड़े पैमाने पर लॉकडाउन नहीं लगाएगी।

Next Story
Share it