Top

लोहिया अस्पताल पहुंचे सीएम योगी, हेल्थवर्करों से पूछा- ठीक तो हो ना

लोहिया अस्पताल पहुंचे सीएम योगी, हेल्थवर्करों से पूछा- ठीक तो हो ना

  • कोरोना पर वार : टीकाकरण अभियान का दूसरा चरण
  • अगला टीका 28 जनवरी और 29 जनवरी को लगेगा
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। यूपी में आज कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण है। करीब डेढ़ लाख लोगों को कोरोना का टीका लगेगा। बूथों पर टीकाकरण जारी है। सरकार की कोशिश है कि इस महीने के अंत तक अलग-अलग दिनों का मिलाकर कुल 4 लाख से ज्यादा टीके लगा दिए जाएं। आज के बाद 28 जनवरी और 29 जनवरी को टीकाकरण किया जाएगा। कोरोना वॉरियर्स यानी स्वास्थ्य कर्मियों को वरीयता पर कोरोना की पहली डोज दी जा रही है। इसी क्रम में आज 1.48 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना की वैक्सीन दी जा रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ आज लखनऊ के डॉ. राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में वैक्सीनेशन का जायजा लिया। उन्होंने हेल्थवर्करों से बात की। टीका लगवाने वालों से पूछा ठीक तो हो ना। अस्पताल में डॉक्टरों को दिशा-निर्देश देते हुए लापरवाही न बरतने के निर्देश दिए। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एमके सिंह ने बताया कि कोविन पोर्टल पर सभी स्वास्थ्य कर्मियों का पहले ही पंजीकरण करवाया जा चुका है। टीकाकरण जारी है। टीकाकरण से संबंधित किसी भी तरह की समस्या के लिए राज्य हेल्प लाइन नंबर -104 और राष्टï्रीय हेल्प लाइन नंबर- 1075 पर संपर्क किया जा सकता है। बता दें कि यूपी को अब तक 20 लाख डोज वैक्सीन मिल चुकी है। यानी सभी बूथों पर स्वास्थ्य कर्मियों को दो डोज वैक्सीन की आराम से लगाई जा सकेगी।
डॉ. एमके सिंह ने बताया कि 8500 हेल्थ वर्कर को वैक्सीन लगाई जा रही है। बूथों पर सभी अपनी बारी का इंतजार कर रहे है। उन्होंने बताया कि केजीएमयू, लोहिया संस्थान, बलरामपुर, वीरांगना अवंतीबाई में टीकाकरण का दूसरा राउंड जारी है। वहीं महानगर स्थित भाऊराव देवरस, लोकबंधु, सिविल, झलकारी बाई, रानी लक्ष्मीबाई, साढ़ामऊ स्थित रामसागर अस्पताल में पहली डोज है। जबकि निजी अस्पतालों में एरा, सहारा, मेदांता व टीएस मिश्रा मेडिकल कॉलेज में भी टीकाकरण जारी है। हर बूथों पर छूटे हुए लोगों को अगले चरण में टीकाकरण के लिए दोबारा बुलाया जाएगा। बता दें कि राजधानी में पहले चरण में टीकाकरण की शुरुआत शनिवार को हुई थी और 31,700 स्वास्थ्य कर्मियों को इसके लिए आमंत्रित किया गया था। अभी 22,643 स्वास्थ्य कर्मियों ने टीके लगवाए हैं जबकि 9057 छूटे हुए बचे सभी स्वास्थ्य कर्मियों को आज टीका लगाया जा रहा है।


सूरज के सामने कोहरे की दीवार, दीदार का इंतजार
  • कोहरे की चादर में लिपटी राजधानी
  • घने कोहरे से विजिबिलिटी हुई कम
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। राजधानी लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में ठंड व कोहरे का प्रकोप जारी है। आज सुबह से ही राजधानी लखनऊ कोहरे की चादर में लिपटी दिखाई दी। घने कोहरे से सुबह विजिबिलिटी कम रही। मौसम विभाग की मानें तो शनिवार से अगले दो-तीन दिन गलन से राहत मिलेगी। ठंड का असर कुछ कम रहने का अनुमान है। पूर्वानुमान के अनुसार 27 जनवरी तक सुबह कोहरा रहेगा, लेकिन दिन में मौसम साफ रहने की उम्मीद है। बीते दिन लखनऊ का अधिकतम तापमान 22.6 डिग्री और न्यूनतम 9.2 डिग्री सेल्सियस रहा। हालांकि बुधवार के मुकाबले न्यूनतम तापमान में कमी दर्ज की गई, लेकिन अधिकतम तापमान में ऐसा नहीं हुआ। बता दें कि राजधानीवासियों को गुरुवार को प्रदूषित हवा से राहत मिली। कई दिनों के बाद एक्यूआई घटकर 257 रिकॉर्ड किया गया। यह बुधवार के मुकाबले 65 यूनिट कम रहा। लखनऊ में आज का न्यूनतम तापमान 9 डिग्री के आसपास है। जबकि अधिकतम 21 डिग्री सेल्सियस है।

आजम को सुप्रीम कोर्ट से राहत

१4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। अब्दुल्ला आजम खान के फर्जी जन्म प्रमाणपत्र मामले में सुप्रीम कोर्ट ने आजम खान को बड़ी राहत दी है। हाईकोर्ट से सांसद आजम खान, उनकी पत्नी, बेटे को जमानत मिलने के बाद यूपी सरकार की जमानत रद्द की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है। दरअसल, इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आजम अब्दुल्ला के फर्जी जन्म प्रमाणपत्र बनवाने के आरोप में सीतापुर जेल में बंद सांसद आजम खान, पत्नी तंजीम फातिमा और बेटे मोहम्मद अब्दुल्ला आजम की जमानत अर्जी अक्टूबर 2020 में मंजूर कर ली थी और तत्काल रिहा करने के आदेश जारी किए गए थे। इसके खिलाफ यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाते हुए जमानत रद्द करने के लिए याचिका डाली थी। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फर्जी प्रमाण पत्र बनवाने के मामले में सपा सांसद आजम खान, पत्नी तंजीम फातिमा और बेटे अब्दुल्लाह आजम खान को हाईकोर्ट से मिली जमानत को रद्द करने से इनकार कर दिया।

पुलिस कमिश्नर से प्रेरित होकर ट्रैफिक लाइन का कायाकल्प कर रहे आरक्षी

  • परिसर में साफ सफाई के लिए एचसीपी ने खुद कर दी पुताई
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। राजधानी के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर से अधीनस्थ कर्मचारी भी प्रेरित हो रहे हैं। इसका उदाहरण ट्रैफिक लाइन में देखने को मिला। मुख्य आरक्षी और आरक्षी ने ट्रैफिक लाइन में पान की पीक से सनी दीवारों को सुबह आकर रंग दिया। वहीं इसका एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है। पुलिस के इस काम की लोग जमकर सराहना कर रहे हैं। साथ ही इन पुलिसकर्मियों ने मिलकर पार्किंग को भी व्यवस्थित कर दिया और एक छोटी वाटिका भी बना दी है। दरअसल लखनऊ के पुलिस कमिश्नर पुलिस मित्र की एक अच्छी छवि बदलने में लगे हुए हैं। इसके लिए वह लगातार थानों का निरीक्षण भी कर रहे हैं। पुलिस की प्रभावी कार्रवाई के साथ ही जनता के प्रति पुलिसकर्मियों के बर्ताव में भी बदलाव लाने का भी प्रयास कर रहे हैं। ट्रैफिक पुलिस लाइन में कुछ पुलिसकर्मियों ने कमिश्नर डीके ठाकुर से प्रेरित होकर ट्रैफिक मुख्यालय का कायाकल्प करना शुरू कर दिया है। ट्रैफिक एचसीपी ने ऑफिस कार्य के अतिरिक्त तड़के सुबह ट्रैफिक कार्यालय पहुंचकर पान की पीक से सनी दीवारों को टेराकोटा से रंग दिया। उनकी मदद सहकर्मी आरक्षी नरेंद्र तोमर ने की। दोनों पुलिसकर्मियों के इस मार्मिक कार्य का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। सभी ने इसकी जमकर सराहना की।
ट्रैफिक लाइन परिसर के बाहर बना दी वाटिका
राजधानी की ट्रैफिक लाइन के बाहर जिस स्थान पर सीज वाहन बेढंगे तरीके से खड़े थे। उन्हें व्यवस्थित तरीके से खड़ा कर ट्रैफिक पुलिस लाइन के मुख्य द्वार के पास एक छोटी सी वाटिका बना दी है। वाटिका में लगे पौधों को बचाने के लिए टूटी हुई बैरिकेडिंग का इस्तेमाल किया है। साथ ही पार्किंग को पी-1 ,पी-2 से पी-3 में वर्गीकृत कर दिया।
ट्रैफिक पुलिसकर्मियों द्वारा किए गए यह कार्य सराहनीय हैं। इससे अन्य लोगों को भी प्रेरणा मिलेगी।
डीके ठाकुर, पुलिस आयुक्त, लखनऊ कमिश्नरेट

Next Story
Share it