Top

मोहनलालगंज में स्थापित होगा माटी कला बोर्ड का ट्रेनिंग सेंटर : नवनीत सहगल

मोहनलालगंज में स्थापित होगा माटी कला बोर्ड का ट्रेनिंग सेंटर : नवनीत सहगल

  • अपर मुख्य सचिव सूचना ने कहा उद्योगों के विकास से आमजन की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने कहा कि राजधानी के मोहनलालगंज में माटी कला बोर्ड का ट्रेनिंग सेंटर स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग, निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने निर्देशित किया है कि राज्य की अर्थव्यवस्था में ग्रामीणों का योगदान बढ़ाने के लिए विभाग की संचालित योजनाओं का लाभ शीघ्र ही उन तक पहुंचाया जाए। गांव-देहातों तक उद्योगों के विकास से आमजन की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री की भी यही मंशा है कि गांव आत्मनिर्भर बने, इसके लिए कुटीर उद्योग लगाने वालों को कौशल प्रशिक्षण भी दिया जाए तथा उन्हें आधुनिक तकनीकि से परिचित कराया जाए। अपर मुख्य सचिव खादी एवं ग्रामोद्योग, निर्यात प्रोत्साहन नवनीत सहगल ने कहा गांव में रोजगार के लिए आवश्यक माहौल बने, इसके लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाए तथा उन्हें जरूरी उपकरण उपलब्ध कराए जाए। लखनऊ के खादी भवन में आयोजित उत्तर प्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड की 50वीं बैठक में उन्होंने कहा लोग खादी उत्पादों के प्रति आकर्षित हों, इसके प्रयास किए जायें तथा खादी की गुणवत्ता में और सुधार किया जाए। इसके लिए तकनीकि विशेषज्ञों की भी सहायता ली जाए।
ई-आफिस प्रणाली लागू किया जाना प्रस्तावित
नवनीत सहगल ने निर्देश दिए है कि खादी उत्पादों की बिक्री बढ़ाने के लिए खादी प्लाजा की भी स्थापना कराई जाए तथा माटी कला में गुणवत्ता लाने के लिए ट्रेनिंग सेंटर स्थापित कराए जाए। साथ ही कंबल बनाने के कारखानों में उत्पादन बढ़ाया जाए। इस दौरान उन्होंने बताया सरकार के प्रयासों से प्रदेश का काला नमक चावल सिंगापुर को 600 रुपए प्रतिकिलो की दर से निर्यात किया जा रहा हैं। अपर मुख्य सचिव खादी एवं ग्रामोद्योग, निर्यात प्रोत्साहन नवनीत सहगल ने कहा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम तथा मुख्यमंत्री रोजगार योजना में अन्य राज्यों की अपेक्षा प्रदेश ने कोरोना काल में भी काफी अच्छी प्रगति की है। उन्होंने कहा कि खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड में ई-आफिस प्रणाली लागू किया जाना प्रस्तावित है। उन्होंने कहा प्रशिक्षित महिला समूहों को मशीन उपलब्ध कराकर उनको रोजगार से जोड़ा जाएगा। स्वरोजगार प्रोत्साहन नीति के तहत 1500 सोलर चर्खों के साथ विभिन्न टूलकिट्स वितरित किया जाना है।


बीजेपी के पास है सिर्फ बहानों की बौछार: प्रियंका
  • कांग्रेस महासचिव बोलीं- पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से आमजन सरकार
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने महंगाई के मुद्ïदे पर भाजपा सरकार पर तंज कसा है। प्रियंका ने महंगाई के मुद्ïदों पर केन्द्रीय मंत्रियों के बयानों पर निशाना साधते हुए कहा कि आमजन की परेशानी को किया दरकिनार, इस बार बहानों की बौछार। प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर लिखा महंगाई बढ़ने पर भाजपा सरकार के बहाने... सर्दी के कारण दाम बढ़े, पिछली सरकारों का दोष, लोग कम यात्रा करें इसलिए टिकट के दाम बढ़े। पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर हमारा नियंत्रण नहीं है। आमजन की परेशानी को भाजपा अच्छे से समझ गई है तभी आमजन को बोझ तले दबा दिया है। बता दें कि केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि के सवाल पर जबाब देते हुए कहा था कि जाड़े की वजह से दाम बढ़े हैं. जाड़ा घटेगा तो दाम भी कम हो जाएगा। जैसे-जैसे मौसम बदलेगा दाम कम हो जाएगा। यह अंतरराष्टï्रीय मामला है, जैसे-जैसे सर्दियां कम होंगी, गैस का दाम भी घटेगा, अभी डिमांड ज्यादा है। वहीं जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से पूछा गया कि तेल की बढ़ती कीमतों पर सरकार लगाम कब लगाएगी? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कब होगा... इसके बारे में मैं कह नहीं सकती। अभी इस पर कुछ भी कहना धर्म संकट की तरह है।

अमौसी स्थित सनी टोयोटा ने एयरफोर्स के स्क्वाड्रन लीडर से की धोखाधड़ी

  • आरोप- फर्जी बिल थमाए, सर्विस भी ढंग से नहीं की, शिकायत पर बात ही नहीं सुनी
  • कंपनी के जीएम सहित सभी कर्मचारियों ने किया गुमराह
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। अमौसी स्थित सनी ट्योटा शोरूम में गाड़ी की सर्विस के नाम पर एयरफोर्स में स्क्वाड्रन लीडर के पद पर तैनात संचित जैन के साथ धोखाधड़ी की गई। संचित का आरोप है कि कंपनी के जीएम सहित सभी कर्मचारी उन्हें न सिर्फ गुमराह करते रहे, बल्कि फर्जी बिल भी थमा दिया। वे बोले- अमौसी स्थित शोरूम पर सभी ग्राहकों के साथ ऐसा ही किया जा रहा है। कर्मचारी गाड़ी की ठीक तरह से सर्विस भी नहीं करते। मामले को लेकर संचित ने सनी टोयोटा मुख्यालय में कई बार लिखित शिकायत की, लेकिन किसी ने बात ही नहीं सुनी। संचित जैन के मुताबिक उनके पास सनी टोयोटा की दो लग्जरी गाड़ियां हंै। उन्होंने बीते 9 जनवरी को लखनऊ के अमौसी स्थित शोरूम में गाड़ी सर्विस के लिए दी। सुबह दस बजे गाड़ी दिए जाने के बाद कर्मचारियों ने शाम 6 बजे गाड़ी देने का वादा किया। इस दौरान संचित का ड्राइवर भी शोरूम में गाड़ी के साथ रुक गया। संचित के मुताबिक ड्राइवर ने काम में लेटलतीफी करने की जानकारी दी। इस पर उन्होंने बात की। बावजूद इसके कर्मचारियों ने मनमानी की। गाड़ी ठीक तरीके से नहीं धुली और न ही साफ की। गाड़ी की पॉलिस और एसेसीरीज संबंधित कार्य भी ठीक ढंग से नहीं किए। देर शाम 7 बजे तक गाड़ी तैयार नहीं की। संचित ने बताया जब वह गाड़ी लेने शोरूम पहुंचे तो वहां मौजूद कर्मचारियों ने सर्विस के नाम पर 79800 रुपए का बिल थमा दिया। बातचीत करने पर कंपनी ने बड़ा डिस्काउंट दिए जाने का दावा करते हुए 74 हजार का भुगतान करने को कहा। इस बीच संचित द्वारा बिल की राशि जोड़ी गई, बिल 69 हजार का निकला। उन्होंने इसकी शिकायत कंपनी के कर्मचारी फैजान से की लेकिन फैजान 74 हजार का भुगतान करने पर अड़ा रहा। संचित के विरोध करने पर कंपनी के दूसरे सुपरवाइजर द्वारा बिल जोड़े जाने पर बिल की राशि 693354 निकली। फर्जी बिल की शिकायत पर संचित ने कंपनी की जीएम अलका से की, लेकिन फिर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। मामले को लेकर संचित ने सनी ट्योटा मुख्यालय में कई बार ईमेल द्वारा लिखित शिकायत की है। संचति जैन एयरफोर्स में स्क्वाड्रन लीडर के पद पर तैनात है।

उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ बोर्ड में अब नहीं होगा चुनाव

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ बोर्ड का चुनाव अब नहीं होगा। निर्धारित संख्या से अधिक प्रत्याशी होने के कारण चुनाव की संभावना थी लेकिन आज दो लोगों के नाम वापस लेने से चुनाव की सारी संभावनाएं समाप्त हो गई है। उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ बोर्ड के चुनाव में नामांकन से पहले ही मतदान की सारी संभावना समाप्त हो गई है। सदस्य के प्रत्याशी के रूप में संभल के विधायक इकबाल महमूद तथा एमएलसी परवेज अली ने आज नाम वापस ले लिया है। अब विधायक कोटे के दो पदों के लिए दो प्रत्याशी बचे हैं। इस तरह से सुल्तानपुर के विधायक अबरार अहमद तथा आजमगढ़ के विधायक नफीस अहमद का निॢ वरोध निर्वाचन तय हो गया है। बोर्ड के चुनाव के लिए सांसद, मुतवल्ली व बार कौंसिल सदस्य कोटे के दो-दो पदों के लिए पहले ही दो-दो प्रत्याशियों ने नामांकन भरे थे।

Next Story
Share it