Top

गांवों में बढ़ी प्रियंका गांधी की सक्रियता

गांवों में बढ़ी प्रियंका गांधी की सक्रियता

  • गावों से सत्ता के गलियारे की तलाश शुरू
  • चुनाव के विजेताओं को लिखी चि_ियां
लखनऊ। पंचायत चुनाव और उसके बाद कोरोना संक्रमण की वजह से हुई गांवों में मौतों से लोग दहशत में है। गांव में न लोगों को बेहतर इलाज मिल पा रहा है और न ही उनकी बेहतर देखभाल हो पा रही है। कांग्रेस ने ऐसे आरोप लगाते हुए भारतीय जनता पार्टी की सरकार को न सिर्फ घेरा है बल्कि गांव के गलियारों से उत्तर प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने के प्रयास भी शुरू कर दिए हैं। इस कड़ी में प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के ग्राम पंचायत के हाल में संपन्न हुए चुनाव के विजेताओं को चि_ियां लिखनी शुरू कर दी हैं। इन चि_ियों में प्रियंका गांधी ने उनको बधाई देते हुए कोविड की इस लड़ाई में कांग्रेस का साथ देने की बात कही है। बीते कुछ दिनों से उत्तर प्रदेश के राजनीतिक गलियारों में प्रियंका गांधी की बढ़ी हलचल से राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई है। कभी चि_ी के माध्यम से प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश सरकार में बैठे जिम्मेदारों से सवाल करती हैं तो कभी वह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के माध्यम से कोरोना में जान गंवाने वालों के घर जाकर उनका हालचाल लेती हैं। इस बार प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के गांवों के माध्यम से लोगों को जोड़ना शुरू किया है। इस कड़ी में प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के नवनिर्वाचित प्रधान बीडीसी और जिला पंचायत सदस्यों को व्यक्तिगत रूप से चि_ी लिखनी शुरू की है। यह चि_ी कांग्रेस के कार्यकर्ता और ब्लॉक प्रमुखों के माध्यम से ऐसे विजेताओं को पहुंचेगी और प्रियंका गांधी का संदेश उन तक पहुंचाया जाएगा।

कांग्रेस के साथ कंधा मिलाकर चलने की अपील

प्रियंका गांधी ने नवनिर्वाचित प्रधान बीडीसी और जिला पंचायत सदस्यों को चि_ी लिखकर कांग्रेस के साथ कंधा मिलाकर चलने की अपील की है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि इस वक्त गांव में योगी सरकार के प्रति लोगों की जबरदस्त नाराजगी है। कांग्रेस नेताओं को इस बात का अंदाजा है अगर गांव के लोगों की नाराजगी भाजपा सरकार से बढ़ रही है तो उनके पास विकल्प के तौर पर कांग्रेस जैसी पार्टी होनी चाहिए। इसी को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने प्रियंका गांधी की सक्रियता को गांव के गलियारों में बढ़ा दिया है। प्रियंका गांधी की ही सक्रियता का नतीजा है कि कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष गांव में सक्रिय हो गए हैं।

Next Story
Share it