Top

थानों के नोटिस बोर्ड पर अब सिर्फ फरार अपराधियों के फोटो लगेंगे: पुलिस कमिश्नर

थानों के नोटिस बोर्ड पर अब सिर्फ फरार अपराधियों के फोटो लगेंगे: पुलिस कमिश्नर

  • टॉप टेन अपराधियों की फोटो और आपराधिक इतिहास हटाने के निर्देश
  • फरार और इनामी बदमाशों के फोटो ही नोटिस बोर्ड पर चस्पा होंगे
  • हाईकोर्ट के आदेश के बाद मुख्यालय ने सभी थानों को लिखा पत्र
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने फरार और इनामिया बदमाशों की फोटो आपराधिक इतिहास सहित राजधानी के सभी जोनो के थानों के नोटिस बोर्ड पर चस्पा करने के निर्देश दिए हैं। वहीं इसका पालन न करने वाले थाना प्रभारी पर कार्रवाई की जाएगी। हालांकि अभी तक टॉप टेन अपराधियों के नाम और फोटो थानों के नोटिस बोर्ड पर चस्पा थे। मगर अब उन्हीं अपराधियों की फोटो थानों में लगेगी, जो फरार व इनामी बदमाश होंगे। कोर्ट के आदेशों का हवाला देते हुए डीजीपी ने टॉप टेन अपराधियों के फोटो ब्यौरा हटाने के निर्देश सभी कप्तानों को जारी किए। मुख्यालय से आए आदेश के बाद कमिश्नर लखनऊ ने भी आदेश जारी कर दिए हैं। प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद अपराधियों के खिलाफ ताबड़तोड कार्रवाई हुई। इस दौरान डीजीपी मुख्यालय से आदेश आया कि प्रदेश के सभी थाना प्रभारी क्षेत्र के टॉप टेन अपराधियों को चिन्हित कर थाने के नोटिस बोर्ड पर नाम-पते के साथ उनकी फोटो व आपराधिक इतिहास भी चस्पा करेंगे। इसके बाद राजधानी सहित प्रदेश के सभी जिलों में थानों के नोटिस बोर्ड पर अपराधियों का डिटेल फोटो के साथ चस्पा कर दिया गया। पुलिस को इसका फायदा भी हुआ। इसके जरिए कई टॉप टेन अपराधी सलाखों के पीछे भी भेजे गए। इस दौरान एक व्यक्ति ने निजता के हनन का हवाला देते हुए हाईकोर्ट में रिट दाखिल कर दी। इसी रिट पर हाईकोर्ट ने यह आदेश दिया है। गौरतलब है कि प्रदेश के थानों में अब तक सभी आरोपियों के फोटो चस्पा होते थे। इसी को लेकर कई अपराधियों ने ऐतराज जताया था।
गलती होने पर होगी थाना प्रभारी के विरुद्घ कार्रवाई
प्रदेश में अब टॉप टेन अपराधियों की फोटो और उनके नाम अब थानों के नोटिस बोर्ड से हटाए जाएंगे। डीजीपी ने प्रदेश के सभी कप्तानों को हाईकोर्ट के दिशा निर्देश का हवाला देते हुए पत्र लिखकर जल्द से जल्द नोटिस बोर्ड से टॉप टेन अपराधियों की फोटो और नाम हटाने को कहा है। चेतावनी दी है कि अगर गलती से भी किसी थाने की नोटिस बोर्ड पर फोटो और नाम मिले तो संबंधित थाना प्रभारी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।
हाईकोर्ट का आदेश
हाईकोर्ट ने पुलिस मुख्यालय को निर्देश दिया है कि सिर्फ फरार व इनामी अपराधियों की फोटो और उनका आपराधिक इतिहास नोटिस बोर्ड पर चस्पा किया जाए। इसके अलावा अगर अन्य कुछ है तो उसे तत्काल हटा लिया जाए।
मुख्यालय से निर्देश मिलने के बाद आदेश जारी कर दिया है। अब नोटिस बोर्ड पर सिर्फ फरार और इनामी बदमाशों के फोटो और नाम पते ही चस्पा होंगे।
धु्रव कांत ठाकुर, पुलिस कमिश्नर लखनऊ


पीजीआई क्षेत्र के विरूरा गांव में सरकारी जमीन पर अवैध खनन

  • डॉ. नूतन ठाकुर ने की विधिक कार्यवाही की मांग
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर ने ग्राम विरुरा थाना क्षेत्र पीजीआई लखनऊ में भारी मात्रा में हो रहे अवैध खनन के संबंध में शिकायत की है। अपनी शिकायत में नूतन ने कहा है कि उन्हें दी गयी जानकारी के अनुसार ग्राम विरुरा में उसी गांव के निवासी पिंटू यादव द्वारा आवास एवं विकास परिषद् तथा वन विभाग की जमीन पर अवैध खनन किया जा रहा है। पिन्टू यादव द्वारा मौके पर हजारों ट्रक मिटटी का खनन किया जा चुका है। उनके द्वारा यह काम रात में अपनी जेसीबी संख्या यूपी32 एमएन 0945 तथा डंप ट्रक संख्या यूपी 32 जीएन 4220 के माध्यम से किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार पिन्टू यादव द्वारा यह मिटटी अपने सहयोगी मनीष सिंह यादव की जमीन पर किया जाता है तथा इसे दस हजार रुपए प्रति डंप ट्रक बेचा जा रहा है। नूतन ने कहा कि यह गांव पीजीआई थाने से मात्र एक किलोमीटर दूर है पर पुलिस द्वारा इस पर कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। अत: उन्होंने मामले की जांच कराते हुए इस संबंध में एफआईआर दर्ज कर विधिक कार्यवाही किए जाने की मांग की है।

लखनऊ नगर निगम का पुनरीक्षित बजट कल होगा पेश

  • आय से लेकर व्यय तक का प्रस्ताव तैयार
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। नगर निगम कार्यकारिणी समिति से 23 दिसंबर को मंजूरी पाने वाला पुनरीक्षित बजट कल सदन में पेश किया जाएगा। निगम मुख्यालय के त्रिलोकनाथ हाल में सदन की कार्यवाही सुबह 11 बजे से चालू होगी। सदन में महापौर के अलावा पार्षद और नगर निगम के अधिकारी मौजूद रहेंगे। सड़कों के निर्माण पर 17731 लाख, नालों की सफाई पर 850 लाख, नए कूड़ाघरों के निर्माण पर दो करोड़, ठेका सफाई पर 70 करोड़, रोड लाइट के नए कार्य पर दो करोड़, शहरी मलिन बस्तियों के निर्माण पर बीस लाख खर्च होगा। इसी तरह आय से लेकर व्यय का प्रस्ताव तैयार किया गया है। अब सदन पुनरीक्षित बजट में किन-किन मदों में संशोधन करेगा, यह शनिवार को नगर निगम सदन में तय होगा। महापौर की अध्यक्षता वाली कार्यकारिणी समिति की बैठक में 23 दिसंबर को पुनरीक्षित बजट पर मुहर लगा दी गई थी। बजट में किसी नए कर और कर में वृद्धि का प्रस्ताव नहीं था। पुनरीक्षित बजट में अधिष्ठान मद को बढ़ाया गया, जिसमें प्रधान कार्यालय का अधिष्ठान पर 32 करोड़ रुपये, सभी जोनल कार्यालयों में तैनात कर्मचारियों के वेतन और पेंशन पर सात करोड़ रुपये बढ़ाते हुए 77 करोड़ रुपए खर्च होंगे। कंप्यूटराइजेशन मद में 50 लाख रुपये का खर्च नए सॉफ्टवेयर बनाने पर होगा। संविदा सफाई कर्मचारियों का मानदेय 308.50 रुपये प्रतिदिन करने का प्रावधान है। स्वच्छता और कूड़ा उठान पर जोर, पेट्रोल डीजल खर्च में सात करोड़ की वद्धि की गई। इसमे डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन के लिए बढ़ाई गई गाड़ियों के ईंधन पर खर्च होगा। नगर निगम ने पुनरीक्षित बजट में 11 अरब, 16 करोड़ बीस लाख रुपए के खर्च और आय मद में 11 अरब, सोलह करोड़, 95 लाख रुपये का प्रावधान किया है।

यूपी बोर्ड: परीक्षा केन्द्रों की फाइनल लिस्ट कल

  • सभी परीक्षा केन्द्रों पर सेनेटाइज कराने से लेकर आवागमन तक का होगा प्रोटोकॉल का पालन
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल, इंटर परीक्षा 2021 के लिए केन्द्रों की अंतिम सूची 27 फरवरी तक जारी की जाएगी। यूपी बोर्ड के सभापति एवं निदेशक माध्यमिक शिक्षा को शासन की ओर से भेजे पत्र के अनुसार 22 फरवरी के आपके पत्र पर विचार के बाद परीक्षा केन्द्रों की सूची जारी करने की समय सीमा 27 फरवरी तक बढ़ा दी है। पहले केन्द्रों की अंतिम सूची 22 फरवरी को जारी होने वाली थी। बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 24 अप्रैल से शुरू होंगी। हाईस्कूल की परीक्षा 10 मई और इंटरमीडिएट की परीक्षा 12 मई को समाप्त होंगी। पिछले वर्ष की तरह हाईस्कूल की परीक्षाएं 12 दिनों में और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 15 दिनों में सम्पन्न होंगी। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि बोर्ड परीक्षा के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखा जाएगा। स्कूलों को सेनेटाइज कराने से लेकर आवागमन तक प्रोटोकॉल के मुताबिक होगा।

Next Story
Share it