Top

मुकदमा लिखने की जगह गाना सुनाने वाले इंस्पेक्टर की शिकायत पहुंची पुलिस कमिश्नर तक, जांच के आदेश

मुकदमा लिखने की जगह गाना सुनाने वाले इंस्पेक्टर की शिकायत पहुंची पुलिस कमिश्नर तक, जांच के आदेश

  • कभी भी गिर सकती है कार्रवाई की गाज
  • डीसीपी दक्षिणी कर रहे मामले की जांच
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। मोहनलालगंज थाने में पीड़िता की सुनवाई करने के बजाय गाना सुनाने वाले इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा की शिकायत पुलिस कमिश्नर तक पहुंच गयी। इसके तुरंत बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने जांच बिठा दी। पीड़िता का मुकदमा न दर्ज करने व गाना गाने के मामले में इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा की जांच पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने डीसीपी दक्षिणी रवि कुमार को सौंपी है। वहीं डीसीपी दक्षिणी रवि कुमार ने कहा कि मामला सही पाए जाने पर इंस्पेक्टर पर कड़ी कार्रवाई करेंगे। जानकारी के मुताबिक ससुरालीजनों की पिटाई और दहेज प्रताड़ना से तंग विवाहिता रेनू सोमवार दोपहर लड़खड़ाते हुए अपनी फरियाद लेकर मोहनलालगंज कोतवाली पहुंची थी। आरोप है कि यहां इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा से पीड़िता ने शिकायत की तो उन्होंने विवाहिता को पहले गाना सुनाया (आइए आपका इंतजार था, देर हुई आने में तुमको, शुक्र है कि जो आए तो) और पूछा कि यह किस फिल्म का गाना है। हालात की मारी विवाहिता फूट-फूट कर रोने लगी। इसके बाद उल्टे पांव लौट गई। इस बीच इस घटना का जब वीडियो इंटरनेट पर वायरल हुआ तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आलाधिकारियों ने इंस्पेक्टर को जमकर फटकार लगाई। इसके बाद पीड़िता की तहरीर पर उसके पति समेत अन्य ससुरालीजनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। मामले में इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा ने बताया कि रेनू के आरोप निराधार हैं। तहरीर के आधार पर उसके पति राहुल, ससुर महेश, सास और दो ननद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। इधर पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने डीसीपी साउथ रवि कुमार को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। दो दिन के अंदर वह अपनी रिपोर्ट देंगे। उसके आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी। गौरतलब है कि बीते 9 अक्टूबर 2016 में हरदोई जिले में पाली थाने में तैनाती के दौरान ग्रामीणों ने इंस्पेक्टर दीनानाथ मिश्रा पर मायादेवी नामक महिला के घर में पुलिस बल के साथ घुसकर पिटाई का आरोप लगाया था। वहीं बीते 14 जनवरी 2019 को हरदोई के शाहाबाद में तैनाती के दौरान दीनानाथ मिश्रा पर महिला पत्रकार से भी अभद्रता करने का आरोप लग चुका है। इंस्पेक्टर दीनानाथ पर कई गंभीर आरोप है।
थाने से लौटा दिया था इंस्पेक्टर नेे
पीड़िता रेनू के मुताबिक वह मोहनलालगंज के बिल्हानी गौरा की रहने वाली है। बीते 26 जून को उसका विवाह कल्ली पूरब निवासी राहुल के साथ हुआ था। शादी के बाद से दहेज की मांग को लेकर अक्सर पति, ससुर महेश, ननद पूनम, चांदनी और सास आए दिन मारपीट करते रहते थे। बीती 19 फरवरी को सबने पीटा और फिर छत से धक्का देकर गिरा दिया। मामले की जानकारी पुलिस कंट्रोल रूम को दी गई थी। पुलिस पहुंची समझा-बुझाकर लौट गई। इसके बाद सोमवार को जब पीड़िता शिकायत लेकर थाने पहुंची। इस पर इंस्पेक्टर साहब गाना सुनाने लगे और फिल्म का नाम पूछा। गाना सुनाने का दबाव दिया। इसके बाद बिना कार्यवाही के ही लौटा दिया।


सिंगापुर में नौकरी दिलाने के नाम पर चार लाख ठगे
  • सीएम योगी के संसदीय क्षेत्र में 11 बेरोजगारों से ठग लिए 35-35 हजार
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जिले गोरखपुर से सिंगापुर में नौकरी दिलाने के नाम पर जालसाजों ने ग्यारह बेरोजगारों से लगभग चार लाख रुपए हड़प लिए। जालसाजों ने बेरोजगार युवकों से नौकरी के नाम पर हर एक से 35-35 हजार रुपए ठग लिए। पीड़ित बेरोजगारों ने महाराष्टï्र के बेलापुर ठाणे निवासी एजेंट मुकेश नवल चोतले के खिलाफ लखनऊ के नाका पुलिस को शिकायती पत्र दिया। हालांकि इस बाबत में इंस्पेक्टर नाका मनोज मिश्रा ने कहा घटना की जानकारी हमें नहीं है। तहरीर मिलने पर एजेंंट मुकेश नवल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की पूरी छानबीन करेंगे। इंस्पेक्टर नाका ने कहा पीड़ितों को न्याय दिलाएंगे अगर वे ठगी का शिकार हुए हैं। जानकारी के मुताबिक पीड़ित सूर्यभान, सोनू, रामवेज, गोविंदा, धर्मराज व पप्पू सहित कई बेरोजगारों ने बताया कि वह सभी गोरखपुर जिले के थाना गुल्हरिया के खुटहन के करमहा बुजुर्ग निवासी हैं। पीड़ितों के मुताबिक महाराष्टï्र के बेलापुर ठाणे के रहने वाले एजेंट मुकेश नवल चोतले से फोन पर संपर्क हुआ तो उन्होंने विदेश में नौकरी दिलाने की बात कही। सिंगापुर में पेंटा ओसियन व सीबी सलेक्ïशन कंपनी में पेंटर की नौकरी दिलाने के बहाने प्रत्येक से पैतीस हजार रुपए और पासपोर्ट लेकर लखनऊ बुलाया। चारबाग के एक होटल में हम लोगों से दस्तावेज लेकर रुपए लिए। इसके बाद बची हुई रकम मुकेश नवल के महाराष्टï के बेलापुर स्थित आईसीआईसीआई बैंक खाते में जमा कर दी। पीड़ित युवकों ने बताया कि एजेंट मुकेश नवल ने सभी लोगों को सिंगापुर का वीजा, कंपनी का नियुक्ति पत्र और एयर टिकट की कॉपी भी दिखाई। एजेंट ने मजदूरों को कोरोना टेस्ट कराने के लिए कहा। टेस्ट की रिपोर्ट आने के पंद्रह दिनों बाद जब कुछ नहीं हुआ तो पता चला कि हम लोगों को ठगा गया है। आरोपी मुकेश का आधार नंबर 297077180717 है।

स्पोर्ट्स कॉलेज लखनऊ परियोजना की तकनीकी जांच के आदेश

  • एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर की शिकायत पर लोक निर्माण विभाग ने लिया एक्ïशन
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। लोक निर्माण विभाग ने गुरु गोविंद सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज, लखनऊ में निर्माणाधीन वेलोड्रम परियोजना के संबंध में एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर की शिकायत पर तकनीकी जांच के आदेश दिए हैं। अपनी शिकायत में नूतन ने कहा था कि यह काम मेसर्स आकृति इंजिनियर को दिया गया था। मेसर्स आकृति द्वारा अत्यंत ही निम्स्तरीय एवं घटिया काम करने पर उत्तर प्रदेश निर्माण निगम के पत्र दिनांक 21 जनवरी 2020 द्वारा यह काम निरस्त कर दिया गया तथा निगम के पत्र दिनांक 22 जनवरी 2020 के माध्यम से परफॉरमेंस गारंटी तथा सिक्योरिटी डिपाजिट जब्त करने के आदेश दिए गए। इसके बाद निर्माण निगम द्वारा पुन: मेसर्स आकृति को ही अवैध ढंग से वह काम दे दिया गया। इस शिकायत पर खेल निदेशालय ने तीन सदस्यीय समिति से जांच करायी थी, जिन्होंने मामला तकनीकी विषय से संबंधित होने के कारण प्रकरण की तकनीकी जांच कराए जाने की संस्तुति की थी। इस पर नूतन द्वारा खेल विभाग से जांच कराए जाने की मांग की गई थी। प्रमुख सचिव खेल विभाग कल्पना अवस्थी ने प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग नितिन रमेश गोकर्ण को मामले की तकनीकी जांच के लिए कहा। इसके बाद लोक निर्माण विभाग ने निर्माण निगम को परियोजना की तकनीकी जांच तकनीकी विशेषज्ञ से कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

यूपी सैनिक स्कूल में अगले साल कक्षा छह से होंगे प्रवेश

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। सरोजनीनगर स्थित प्रदेश के पहले कैप्टन मनोज पांडेय यूपी सैनिक स्कूल में शैक्षिक सत्र 2022-23 से कक्षा छह में भी प्रवेश लिए जा सकेंगे। मुख्यमंत्री ने इसकी घोषणा पहले कर दी थी। अब उसे अमल में लाने की तैयारी है। करीब 125 सीटों पर बच्चों को प्रवेश परीक्षा के माध्यम से प्रवेश का मौका मिलेगा। दरअसल, कैप्टन मनोज पांडेय यूपी सैनिक स्कूल की स्थापना 1960 में हुई थी। यहां प्रवेश के लिए कक्षा सात से शुरुआत होती है। वर्तमान समय में यहां 7वीं से 12वीं तक में 325 छात्र-छात्राएं पढ़ रहे हैं। उनके लिए कुल छह हास्टल हैं। इनमें एक गर्ल्स के लिए है।

Next Story
Share it