Top

प्रदेश में 600 मीट्रिक टन की ऑक्सीजन की रिकॉर्ड सप्लाई: अवनीश अवस्थी

प्रदेश में 600 मीट्रिक टन की ऑक्सीजन की रिकॉर्ड सप्लाई: अवनीश अवस्थी

  • अब कंट्रोल रूम से रखी जाएगी अस्पतालों पर नजर
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते उत्तर प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी सामने आ रही है। इस कमी को पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है। इस कंट्रोल रूम से ऑक्सीजन सप्लाई पर नजर रखी जाएगी। इसके अलावा किसी भी प्रकार की जरूरत का तत्काल समाधान किया जाएगा। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि प्रदेश के विभिन्न जिलों में ऑक्सीजन की सप्लाई करने के लिए सीएम योगी के निर्देश पर गृह विभाग में कंट्रोल रूम शुरू किया गया है। यह पूरे चौबीसों घंटे काम कर रहा है। इस कंट्रोल रूम से प्रत्येक जिले को ऑक्सीजन की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने बताया कि सूबे में बीते 24 घंटों में 600 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की रिकार्ड सप्लाई की गई है। अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि यूपी का ऑक्सीजन आवंटन कोटा भी बढ़कर लगभग 850 मीट्रिक टन हो गया है। रेल मार्ग से ऑक्सीजन लाने वाला यूपी पहला राज्य है। सूबे में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिये बिहार, उड़ीसा, बंगाल व झारखंड स्थित ऑक्सीजन प्लांट से ऑक्सीजन लाने की व्यवस्था की गई है।
सप्लाई के लिए 84 टैंकर लगाए गए
अवनीश अवस्थी का कहना है कि ऑक्सीजन सप्लाई में अलग-अलग माध्यमों से 84 टैंकर लगाये गये हैं तथा अब तक छह ट्रेन चलाई जा चुकी हैं। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि केंद्र सरकार ने भी प्रदेश को 70 मीट्रिक टन क्षमता के पांच नये टैंकर प्रदान किये हैं। प्रदेश के बाहर बोकारो जमशेदपुर से भी ऑक्सीजन सप्लाई सुनिश्चित कराई गई है। यूपी पहला राज्य है, जो ऑनलाइन मॉनीटरिंग सिस्टम के जरिए प्रदेश के हर कोने में ऑक्सीजन की सप्लाई कम समय में कराने का प्रयास कर रहा है। ऑक्सीजन सप्लाई में लगे सभी टैंकर चालकों को जीपीएस युक्त फोन उपलब्ध कराये गए हैं। ऑक्सीजन आडिट की व्यवस्था भी की गई है, जिससे दुरुपयोग को भी रोका जा सके।


पंचायत चुनाव में उड़ी कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। यूपी में पंचायत चुनाव में अंतिम चरण की वोटिंग जारी है। पंचायतों में कई जगह जहां प्रोटोकॉल का पालन हो रहा है तो कई बूथों पर उत्साह में सोशल डिस्टेंसिंग मतदाता भूल गए हैं। सुबह से बूथों पर लम्बी कतारें लगी हैं। कोरोना के खौफ पर मतदान का उत्साह भारी पड़ता दिख रहा है। पहले दो घंटे में 9 बजे तक 9.4 फीसदी मतदान रहा तो अगले दो घंटे में यह बढ़कर 26 फीसदी तक पहुंच गया। बूथों पर लंबी लाइनें लगी हुई हैं। इस बीच कई बूथों पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती भी दिखीं। कई जगहों पर लोग बिना मास्क के कतारों में खड़े नजर आए।

सरकार की लापरवाही से यूपी में संक्रमण बढ़ा: लल्लू

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते कहर और लगातार हो रही मौतों पर यूपी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भाजपा सरकार पर हमला बोला है। लल्लू ने कहा कि कोरोना महामारी में जब प्रदेश के लोग इलाज न मिलने और डॉक्टरों के अभाव में दमतोड़ रहे हैं, तबभी योगी सरकार पंचायत चुनाव करवाने में व्यस्त है। यूपी सरकार की लापरवाही से प्रदेश में संक्रमण बढ़ा है। लल्लू ने कहा सरकारी अस्पतालों के सभी डाक्टर सहित स्वास्थ्यकर्मी पंचायत चुनाव में ड्यूटी कर रहे हैं, कमोबेश यही स्थिति सभी चुनावी जिलों की है। पंचायत चुनाव के चलते गांवों में भी संक्रमण पहुंच गया है। इसे लेकर भाजपा कतई गंभीर नहीं है।

Next Story
Share it