Top

राजधानी में खिली धूप, बारिश के आसार

राजधानी में खिली धूप, बारिश के आसार

  • गलन के साथ शीतलहर बढ़ी, तापमान में गिरावट

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। मौसम में बदलते तापमान के बीच उत्तर प्रदेश में फिर ठंड बढ़ने के आसार है। 5 और 6 फरवरी को यूपी के कई हिस्सों में बारिश की संभावना है। राजधानी लखनऊ में भी छिटपुट बारिश के आसार है। इससे तापमान में गिरावट होगी, जिससे लोगों को कड़ाके की ठंड का एक बार फिर सामना करना पड़ सकता है। आंचलिक मौसम केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने कहा कि अभी दो-तीन दिनों तक तापमान में वृद्धि जारी रहेगी लेकिन इसके बाद पश्चिमी विक्षोभ के कारण आसमान में बादल छा जाएंगे। पश्चिमी यूपी में चार फरवरी को बारिश के आसार बन रहे हैं लेकिन लखनऊ और आसपास के क्षेत्रों में 5 व 6 फरवरी को बारिश की संभावना है। इससे गलन के साथ शीतलहर का प्रकोप बढ़ सकता है। वहीं मंगलवार को राजधानी के आसपास इलाकों में भयंकर कोहरे के वजह से वाहन रेंगते नजर आए। फैजाबाद रोड पर दो गाड़ियां आपस में टकरा गयी। हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ।

पारा चढ़ने से मिली राहत
राजधानी लखनऊ में पिछले कई दिनों से ठंड से बेहाल लोगों को आज काफी राहत मिली। सुबह लगभग आठ बजे ही धूप खिल गई जो दिनभर बनी रही। इससे दिन के तापमान में दो डिग्री की वृद्धि हुई है। आज का अधिकतम तापमान मौसम विभाग के अनुसार दोपहर 12 बजे तक 21 डिग्री रिकार्ड हुआ। हालांकि राजधानी में धूप निकलने का असर रात के तापमान पर भी पड़ा। न्यूनतम पारा 2.2 डिग्री बढ़ गया।


पुलिस कमिश्नर की सख्ती से सप्ताहभर में आठ से अधिक अपराधी चढ़े हत्थे

  • ठगी करने वालों पर पुलिस ने कसा शिकंजा
  • चिनहट, विकासनगर, मडियांव, गुडम्बा और विकासनगर पुलिस की कार्रवाई
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर के निर्देश पर लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट ने ठगों के खिलाफ कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। डीके ठाकुर के निर्देश पर पुलिस ऐसे लोगों पर शिकंजा कस रही है जो सरकारी योजनाओं का झांसा देकर लोगों से लाखों की ठगी करते हैं। लखनऊ पुलिस ने सप्ताहभर में आठ से अधिक अपराधियों को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया। चिनहट, विकासनगर, मडियांव, गुडम्बा और विकासनगर पुलिस ने कार्रवाई की है। बीते 25 जनवरी को चिनहट पुलिस ने ग्रामीण महिला कल्याण संस्था एवं पीएम सिलाई मशीन योजना के नाम पर फर्जी संस्था खोलकर ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह के तीन शातिर ठगबाजों को चिनहट पुलिस ने गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से ग्रामीण महिला संस्था पीएम सिलाई मशीन योजना 2020-21 के दस्तावेज, रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, मोहरें, आईडी व अन्य दस्तावेज बरामद हुए थे। इंस्पेक्टर चिनहट धनंजय कुमार के मुताबिक महिला कल्याण संस्था एवं प्रधानमंत्री सिलाई मशीन योजना के नाम पर ठगी करते थे। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में बदायूं का रहने वाला वेद प्रकाश भारती, बरेली का रहने वाला वीरेंद्र कुमार गंगवार व गोपालगंज का रहने वाला राज प्रताप सिंह शामिल थे। बीते 31 जनवरी को विकासनगर पुलिस ने एजेंसी देने के नाम पर 10 लाख रुपये की ठगी करने वाले जालसाज को गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक आरोपी को राजस्थान में जयपुर से दबोचा गया था। उसके खिलाफ झांसी और लुधियाना में भी मुकदमा दर्ज हैं।
कस्टमर केयर सर्विस के नाम पर ठगी करने वाला पकड़ा गया
31 जनवरी को गुडम्बा पुलिस ने कस्टमर केयर सर्विस के नाम पर लोगों से करोड़ों की ठगी करने वाले दो लोगों को गुडम्बा पुलिस ने गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपी झारखंड के रहने वाले हैं। इसमें से एक पोस्ट ऑफिस में बतौर कर्मचारी कार्यरत है। पुलिस ने बताया कि गुडंबा थाना क्षेत्र में रहने वाले अतुल श्रीवास्तव नाम के व्यक्ति ने बीती 6 अक्टूबर को कस्टमर केयर के नाम पर 5 लाख की धोखाधड़ी की शिकायत साइबर थाने में दर्ज कराई थी।
सीएम के साइन का फर्जी लेटर दिखाकर ठगी करने वाले दो गिरफ्तार
बीते एक फरवरी को कम्प्यूटर सेंटर व राशन कार्ड फीडिंग का टेंडर दिलाने के लिए मुख्यमंत्री का साइन किया हुआ फर्जी पत्र जारी कर एक निजी कंपनी से 65 लाख रुपये ठगने वाले दो आरोपी अब्दुल खालिक और फसीहुउज्जमां को गिरफ्तार किया। चिनहट पुलिस को दोनों के पास से ठगी करने में इस्तेमाल किए जाने वाले सारे फर्जी दस्तावेज और लैपटॉप बरामद हुए। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

जौनपुर में सपा नेता बाला यादव की गोली मारकर हत्या

  • ताबड़तोड़ फायरिंग से शहर में मचा हड़कंप
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। जौनपुर जिले में सिटी रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक के पश्चिमी छोर पर देर रात समाजवादी पार्टी के सभासद बाला यादव उर्फ लखंदर की अज्ञात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि बदमाश एक दो नहीं, बल्कि आधा दर्जन की संख्या में पहुंचे और सपा नेता पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं। सभासद की हत्या कर बदमाश फरार हो गए। रेलवे पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच मे जुट गई है। मौके पर पहुंची पुलिस ने गोलियों के कई खोखे बरामद किया। हत्या के बाद रेलवे स्टेशन इलाके में हड़कंप मच गया। जानकारी के मुताबिक नगर के सैदनपुर गांव के निवासी 50 वर्षीय लखंदर यादव उर्फ बाला यादव प्लाटिंग का काम करता था। साथ ही नगर पालिका जौनपुर के स्थानीय सभासद थे। बाला की हत्या किन वजहों से की गई अभी इसका पता नहीं चल पाया है। उधर, समाजवादी पार्टी के स्थानीय नेता सभासद की गोली मारकर हत्या की घटना को पुलिस-प्रशासन की लापरवाही बताया है।
हत्या की वजह स्पष्ट नहीं
सीओ जीआरपी वाराणसी जोन अखिलेश राय ने बताया कि गोलियों की आवाज सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे तो गोलियों से छलनी बाला यादव की सांसें चल रही थीं। इसके बाद उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां पहुंचते ही डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

बीमारी फैलाने वाले फंगस का इलाज खोजेगा एलयू

  • बायो केमेस्ट्री विभाग के प्रोजेक्ट को मंजूरी
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय अब इंसानों में बीमारी फैलाने वाले फंगस 'कैनडिडा एलबिकेंसÓ से उपचार के लिए नई ड्रग पर शोध करेगा। इसके लिए शासन ने सेंटर आफ एक्सीलेंस योजना के तहत यूनिवर्सिटी के बायो केमेस्ट्री विभाग के इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है। पहले चरण में प्रोजेक्ट शुरू करने के लिए करीब डेढ़ लाख रुपये दी जाएगी। दरअसल, दुनिया में विभिन्न प्रकार के फंगस संक्रमण का कारण बनते हैं। लेकिन इनमें लोगों को सबसे ज्यादा बीमार करने वाले फंगस एस्परजिलस, क्रिप्टोकाकस और कैनडिडा एलबिकेन्स हैं। लखनऊ विवि के बायो केमेस्ट्री विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. आशुतोष सिंह बताते हैं कि एचआईवी पीड़ित, शुगर, आग से जले हुए और कीमोथैरेपी वाले मरीजों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। अस्पतालों में इन मरीजों को कैनडिडा एलबिकेंस फंगस सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाता है। बाजार में इस फंगस को रोकने के लिए बहुत सी दवाइयां हैं, लेकिन वह भी कम कारगर साबित हो रही हैं। दवाइयां ज्यादा लेने पर मरीजों को नुकसान पहुंचता है। इसलिए इस शोध प्रोजेक्ट में उसके दूसरे विकल्प पर काम किया जाएगा। ऐसी दवाइयां उसके मिश्रण पर शोध करेंगे जो सटीक तरीके से फंगस को खत्म कर सके। डॉ. समीर शर्मा के साथ मिलकर यह शोध तीन साल में पूरा करेंगे। इस फफूंद का इलाज खोजने के लिए ड्रग टेस्टिंग की जाएगी।

अवध आसाम 26 तक निरस्त

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। राजस्थान के लालगढ़ से लखनऊ होकर पूर्वोत्तर के डिबू्रगढ़ को जोड़ने वाली अवध आसाम एक्सप्रेस रेलवे की दूरदृष्टिता का शिकार हो गई। रेलवे ने सेना के जवानों के लिए महत्वपूर्ण इस ट्रेन के साथ अमृतसर-न्यू तिनसुकिया को चलाने का आदेश दे दिया। अचानक रेलवे को इसके रूट पर कोहरा दिख गया और अवध आसाम एक्सप्रेस को अब तीन मार्च और न्यू तिनसुकिया एक्सप्रेस स्पेशल को 26 फरवरी तक निरस्त कर दिया है। रेलवे ने पहले कोरोना के नाम पर लॉक डाउन में दोनों ट्रेनों का संचालन बंद किया। अक्टूबर में ट्रेन की शुरुआत फिर से हुई तो नवंबर से 31 जनवरी तक ट्रेन को कोहरे के नाम पर निरस्त कर दिया गया। लखनऊ से बड़ी संख्या में यात्रियों को कानपुर जाकर पूर्वोत्तर की ट्रेन पकडऩा पड़ रहा है।

Next Story
Share it