Top

कोरोना कर्फ्यू का पालन करें, नियम तोड़ने वालों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: जेसीपी

कोरोना कर्फ्यू का पालन करें, नियम तोड़ने वालों के खिलाफ होगी कड़ी कार्रवाई: जेसीपी

  • लखनऊ में धारा 144 लागू, धार्मिक कार्यक्रम और जुलूस प्रतिबंधित
  • त्योहार को देखते हुए जेसीपी पीयूष मोर्डिया ने जारी किए आदेश
  • विवाह और अंतिम संस्कार में शासन की ओर से निर्धारित संख्या ही मान्य होगी
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था पीयूष मोर्डिया ने राजधानी में धारा 144 लागू किया। जेसीपी के मुताबिक आगामी त्योहारों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। अराजकतत्वों की ओर से शांति व्यवस्था भांग करने की आशंका को देखते हुए लखनऊ पुलिस ने यह कार्यवाही की है। इसके तहत सभी प्रकार के सांस्कृतिक व धार्मिक कार्यक्रम तथा सभा व जुलूस प्रतिबंधित रहेंगे। विवाह और अंतिम संस्कार में शासन की ओर से निर्धारित संख्या ही मान्य होगी। कोई भी व्यक्ति बिना अनुमति के पांच या इससे अधिक लोगों को एक जगह एकत्रित नहीं कर सकेगा। अगर कोई ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। रात में 10 बजे से सुबह छह बजे तक लाउडस्पीकर बजाना प्रतिबंधित किया गया है। जेसीपी ने लोगों से कोरोना कर्फ्यू का पालन करने की अपील भी की है। साथ ही नियम तोड़ने वालों के खिलाफ सख्ती के निर्देश दिए हैं।
कर्फ्यू में कर रहे थे शराब की तस्करी, पांच गिरफ्तार
जानकीपुरम पुलिस ने कोरोना कर्फ्यू के दौरान शराब की तस्करी करने वाले गिरोह का राजफाश किया है। एसीपी अलीगंज अखिलेश कुमार सिंह के मुताबिक पांच लोगों को गिरफ्तार कर आरोपितों के पास से 550 पेटी बीयर बरामद किए गए हैं। आरोपित बंदी के बावजूद सेक्टर दो के मकान नम्बर 2/448 से तस्करी कर रहे थे। आरोपित लोगों को महंगे दामों में बीयर व धराब सप्लाई कर रहे थे। पकड़े गए लोगों में गोमतीनगर निवासी मोहित वर्मा, अभिषेक सिंह यादव, विपिन यादव, अंकित यादव और प्रशांत शामिल हैं। पुलिस गिरोह के अन्य लोगों के बारे में जानकारी कर रही है।


बाराबंकी में हार से बौखलाए प्रधान ने खुदवा दी आठ वर्ष पहले बनवाई सड़क
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। पंचायत चुनाव परिणाम के बाद हिंसा की वारदातों के बीच में सूबे की राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी में अनोखा मामला सामने आया है। यहां पर हार से बौखलाए पूर्व प्रधान ने आठ वर्ष पहले बनवाई गई सड़क को जेसीबी लगवाकर खुदवा दिया। पूर्व प्रधान के इस कृत्य से ब्लॉक में खलबली मची है। एसडीएम हैदरगढ़ से शिकायत की गई है। बाराबंकी के सुबेहा ब्लॉक के रोहना मीरपुर ग्राम पंचायत के अहिरन सरैया गांव में प्रधान पद के चुनाव में तीसरे नंबर पर आने वाले प्रत्याशी ने आठ वर्ष पहले बनवाई गई सड़क को करीब दो सौ मीटर तक खोदवा दिया। यह सड़क उसने अपनी प्रधान निधि से बनवाई थी। सड़क की खोदाई करवाने के लिए उसने जेसीबी लगवा दी थी। बता दें कि आठ वर्ष पहले इस सड़क का निर्माण आरोपी प्रधान के कार्यकाल में ही हुआ था। करीब दो सौ मीटर सड़क खोदे जाने से आहत ग्रामीणों ने इसकी शिकायत अधिकारियों से की है। गांव के पूर्व प्रधान कृपा शंकर तिवारी ने बताया कि इस चुनाव में आरोपी पूर्व प्रधान दीपक तिवारी तीसरे नंबर पर आए तो उन्होंने अपने समर्थकों के साथ सड़क खुदवा डाली। इस बार यहां साइना गांव के ग्राम प्रधान रामबाबू शुक्ला प्रधान बने हैं। दीपक यहां तीसरे नंबर पर आने से नाराज हो गए। ग्रामीणों के मुताबिक यह सड़क लगभग 200 मीटर की थी। प्रधान रामबाबू शुक्ल का कहना है कि दीपक इस बार चुनाव हार गए। इससे नाराज होकर चकमार्ग खोदवा दिया। इससे आवागमन में परेशानी हो गई है।

नाबालिग रहते हुए अपराध के खुलासे की मांग निजता का उल्लंघन: हाईकोर्ट

4पीएम न्यूज नेटवर्क. प्रयागराज। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक निर्णय में कहा है कि बालिग के अपराध की जानकारी नियुक्ति के समय मांगी जा सकती है और छिपाने पर नियुक्ति से इनकार किया जा सकता है लेकिन यह नाबालिग के अपराध पर लागू नहीं होगा। कोर्ट ने कहा कि किशोर न्याय बोर्ड से अपराध में मिली सजा को नियुक्ति से इनकार करने का आधार नहीं बनाया जा सकता। यह छूट 16 से 18 वर्ष आयु के नाबालिग को हत्या, रेप जैसे जघन्य अपराध के दोषी होने पर नहीं मिलेगी। कोर्ट ने कहा कि नियुक्ति के समय अभ्यर्थी से नाबालिग रहते हुए अपराध के खुलासे की मांग संविधान के अनुच्छेद 21 में मिले निजता व गरिमा के मूल अधिकार का उल्लंघन है। यह आदेश न्यायमूर्ति अजय भनोट ने अनुज कुमार की याचिका स्वीकार करते हुए दिया है। इसी के साथ कोर्ट ने नाबालिग रहते हुए नकल के आरोप में लोक अदालत से जुर्माने की सजा पाए याची को पीएसी कांस्टेबल पद पर नियुक्त करने का निर्देश दिया है कोर्ट ने 23वीं वाहिनी पीएसी एटा में नियुक्ति देने से इनकार करने के कमांडेंट के आदेश को मनमानापूर्ण करार देते हुए रद्द कर दिया है। कोर्ट ने कहा चयनित अभ्यर्थी नाबालिग रहने के दौरान हुए अपराध पर चुप रह सकता है। उसे इसकी जानकारी देने से इनकार करने का अधिकार है।

सत्ता के बल पर पंचायत चुनाव में भाजपा ने किया धांधली का खेल: लल्लू

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर पंचायत चुनाव में धांधली का आरोप लगाते हुए कहा पंचायत चुनाव में उसने जिस तरह से धांधली की है वैसा कभी नहीं हुआ। यह ऐतिहासिक सच है कि भाजपा धांधली के बाद भी अपने निर्लज्ज दावे पर खड़ी होने का दिखावा कर रही है। अपना जमीनी आधार खो चुकी भाजपा ने सत्ता के बल पर पंचायत चुनाव में लगभग सभी जनपदों में धांधली कर अपने समर्थित उम्मीदवारों को अनेकों सीट पर जिला पंचायत सदस्य की विजय का प्रमाणपत्र दिलवा दिया, जिसके बाद धांधली की पोल खुलने पर जनआक्रोश का भी जगह- जगह भाजपा को सामना करना पड़ा। वहीं जनदबाव में अनेक स्थानों पर उसे अपनी धांधली पर पर्दा डालने के लिये परिणाम को अधिकारियों के माध्यम से बदलने को मजबूर होना पड़ा। उन्होंने मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर के जिला पंचायत वार्ड संख्या 45, 60 व 61 में जिस तरह पहले जबरन अपने समर्थित उम्मीदवार के पक्ष में परिणाम घोषित कराया उसकी प्रतिक्रिया भी जनता ने अपना आक्रोश व्यक्त कर दी और भाजपा को जनदबाव में विजेता उम्मीदवारों के पक्ष में परिणाम घोषित करने के लिये मजबूर होना पड़ा।
षड्यंत्र रचकर किया विजय का झूठा दावा
लल्लू ने कहा कि लोकतंत्र का गला घोंटने व जनादेश को अपमानित करने के लिए भाजपा षड्यंत्र रचकर अपनी विजय का झूठा दावा कर रही है। जनता द्वारा पूरी तरह नकारे जाने के बाद उसका जिला पंचायत सदस्य पद पर अपने समर्थित उम्मीदवारों की जीत का उसका दावा पूरी तरह खोखला साबित हुआ है। उन्होंने कहा किसानों के साथ र्दुव्यवहार, नौजवानों व बेरोजगारों के साथ उसके अन्याय ने उसको भारी पराजय को विवश किया है लेकिन भाजपा पूरी निर्लज्जता के साथ अपनी जीत के जितने दावे कर रही है वह सब जमीन की सच्चाई से बहुत दूर है।

Next Story
Share it