Top

लखनऊ पुलिस पड़ी पीछे तो धनंजय सिंह ने किया कोर्ट में सरेंडर

लखनऊ पुलिस पड़ी पीछे तो धनंजय सिंह ने किया कोर्ट में सरेंडर

  • प्रयागराज के एमपी-एमएलए कोर्ट में किया आत्मसमर्पण
  • डीसीपी ईस्ट ने कल घोषित किया था 25 हजार का इनाम
  • अजीत सिंह हत्याकांड मामले में पुलिस कर रही थी पूर्व सांसद की तलाश
  • गैर जमानती वारंट के बाद से फरार चल रहे थे धनंजय
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। अजीत सिंह हत्याकांड मामले में फरार जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह की तलाश में लखनऊ पुलिस पिछले कई दिनों से उनके संभावित ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही थी। कई टीमें पूर्व सांसद की गिरफ्तारी के लिए लगाई गई थीं। यही नहीं लखनऊ ईस्ट के डीसीपी ने कल पूर्व सांसद पर 25 हजार का इनाम घोषित किया था। इसके बाद धनंजय सिंह ने आज प्रयागराज के एमपी-एमएलए कोर्ट में सरेंडर कर दिया। उसके खिलाफ कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया था। इस दौरान कोर्ट परिसर में भीड़ लगी रही। पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ अजीत सिंह हत्याकांड मामले में लखनऊ के विभूति खंड थाने में केस दर्ज है। धनंजय की गिरफ्तारी को लेकर लखनऊ कोर्ट ने गैरजमानती वारंट जारी किया था। इसके बाद लखनऊ पुलिस ने धनंजय सिंह पर 25 हजार रुपए का इनाम रखा था। इनाम घोषित होते ही आज दोपहर धनंजय सिंह ने एमपी-एमएलए कोर्ट में सरेंडर कर दिया। अजीत सिंह हत्याकांड मामले में पूर्व सांसद के खिलाफ कोर्ट से गैरजमानती वारंट हासिल करने के बाद पुलिस ने उनकी तलाश तेज कर दी थी। यूपी एसटीएफ की टीमें लखनऊ, हैदराबाद के अलावा उनके गृह जनपद जौनपुर में भी उनकी तलाश में जुटी थीं। अन्य जिलों की पुलिस भी संभावित स्थानों पर ताबड़तोड़ दबिश दे रही थी। इसके साथ ही उनकी चल-अचल संपत्ति कुर्क किए जाने की भी प्रक्रिया शुरू की जा रही थी। बुधवार को पुलिस ने लखनऊ में उनके चार ठिकानों पर दबिश दी थी, लेकिन पूर्व सांसद नहीं मिले थे। पुलिस ने इन ठिकानों से तीन लोगों को हिरासत में ले लिया था। पूछताछ के बाद इन्हें छोड़ दिया गया था।
क्या है मामला
6 जनवरी को गोमतीनगर के विभूतिखंड में कठौता चौराहे के पास मऊ जिले के गोहना के पूर्व ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह को गोलियों से भून दिया गया था। अजीत के साथ मौजूद मोहर सिंह ने एफआईआर दर्ज करायी थी कि आजमगढ़ जेल में बंद कुंटू सिंह और अखंड सिंह ने गिरधारी के जरिये हत्या करवायी है। गिरधारी ने पांच शूटरों के साथ अजीत की हत्या की थी। गिरधारी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उसके बाद पुलिस कस्टडी से भागने के प्रयास में गिरधारी को मार गिराया गया था। इसके बाद ही पुलिस ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह को गिरधारी के बयान के आधार पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोपी बनाया था। इसके साथ ही धनंजय पर एक घायल शूटर राजेश तोमर का लखनऊ और सुलतानपुर में इलाज कराने में मदद करने का भी आरोप है।


सीएम योगी ने गोरखपुर को दी करोड़ों की सौगात, बोले विकास रथ पर सवार है जिला
  • 130 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का किया लोकार्पण व शिलान्यास
  • अभ्युदय योजना के तहत चुने गए प्रतियोगी छात्रों से संवाद किया
4पीएम न्यूज नेटवर्क. गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गोरखपुर जिले को 130 करोड़ 59 लाख रुपये की परियोजनाओं की सौगात दी। उन्होंने 76.39 करोड़ की नौ परियोजनाओं का लोकार्पण और 54.20 करोड़ की 16 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। उन्होंने जन सभा को संबोधित करते हुए कहा कि गोरखपुर विकास के रथ पर सवार है। पिछली सरकार ने प्रदेश को निराशा में डूबा दिया था लेकिन मोदी सरकार ने लोगों को आशा की किरण दिखाई है। आज सुबह ब्रह्मलीन महंत दिग्विजयनाथ पार्क पहुंचे मुख्यमंत्री ने ट्रांसपोर्टनगर पुलिस चौकी के पीछे बने वेंडिंग जोन, हरिओमनगर एवं रुस्तमपुर में बने वेंडिंग जोन का लोकार्पण किया। उन्होंने पटरी व्यवसायियों को प्रमाण पत्र भी दिया। इस दौरान महापौर सीताराम जायसवाल, सांसद कमलेश पासवान, नगर विधायक डा. राधा मोहनदास अग्रवाल, ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के विधायक विपिन सिंह, महेंद्र पाल सिंह, फतेहबहादुर सिंह, शीतल पांडेय, संगीता यादव, संत प्रसाद, विमलेश पासवान आदि मौजूद रहे। इसके अलावा सीएम ने सर्किट हाउस में अभ्युदय योजना के तहत प्रतियोगी छात्रों से संवाद किया। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति में अलग-अलग खासियत होती है, हुनर होती है। कड़ी मेहनत करने से सफलता निश्चित तौर पर मिलती है।

बाराबंकी में युवक ने साथी कांवड़ियों पर किया चाकू से हमला, एक की मौत

4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। बाराबंकी के मसौली थाना क्षेत्र में भयारा मोड़ के आगे आज सुबह रामनगर में लोधेश्वर महादेव के दर्शन के लिए जा रहे एक कांवड़िए ने मामूली विवाद में अपने साथियों पर चाकू से हमला कर दिया। जिसमें कांवड़िए घायल हुए। पुलिस ने घायलों को आनन-फानन जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां एक युवक की मौत हो गई। दोनों घायलों की ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने हमलावर को हिरासत में लिया है। मृतक और घायल हरदोई जिले के निवासी हैं। रामनगर थाना इलाके में महादेवा क्षेत्र में लोधेश्वर महादेव का मेला चल रहा है। हरदोई के थाना कासिमपुर के गांव घुसवाहा से भी 20-20 लोगों की दो टोलियां महादेवा जा रही थी। इस दौरान एक टोली में घुसवाहा गांव के विपिन यादव पुत्र ओम प्रकाश, राकेश वर्मा पुत्र रामदास वर्मा, विवेक मिश्र पुत्र रामदास मिश्र व अमित रावत पुत्र राजबहादुर शामिल थे। इस बीच विवाद हो गया और अमित ने चाकू से हमला कर दिया। जिसमें विपिन यादव, राकेश वर्मा व विवेक गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने तीनों घायलों को आनन-फानन जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टर ने विपिन यादव को मृत घोषित कर दिया।

Next Story
Share it