Top

बरतें सतर्कता, हर नागरिक तक पहुंचेगी कोरोना वैक्सीन : सीएम

बरतें सतर्कता, हर नागरिक तक पहुंचेगी कोरोना वैक्सीन : सीएम

  • दो गज दूरी, मास्क है जरूरी का करें पालन, केसों में आ रही तेजी से गिरावट
  • भारत ने दो वैक्सीन की लॉन्च, सब लोगों तक वैक्सीन पहुंचने में लगेगा वक्त
  • कोरोना से जंग के पुरुषार्थ का उत्सव है मकर संक्रांति

4पीएम न्यूज नेटवर्क. गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मकर संक्रांति के पावन पर्व पर पूरे प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि पिछले दस महीनों से प्रदेश, देश और दुनिया इस सदी की भीषणतम महामारी कोरोना से जूझ रही है। देश ने एक साथ दो-दो वैक्सीन कोरोना से बचाव के लिए लॉन्च की है। 16 जनवरी से वैक्सीन लगाई जाएगी। वैक्सीन सभी तक पहुंचेगी लेकिर हर एक नागरिक तक पहुंचने में समय लगेगा। ऐसे में सतर्कता बरतना जरूरी है। उन्होंने कहा कि आज से दो महीने पहले उत्तर प्रदेश में 68 हजार से अधिक एक्टिव केस थे लेकिन आज यह संख्या घटकर 10 हजार से नीचे आ चुकी है। मकर संक्रांति का उत्सव पुरुषार्थ के उत्सव से कम नहीं है लेकिन दो गज की दूरी एवं मास्क जरूरी का पालन जरूर करें क्योंकि कोरोना से देश की लड़ाई को मजबूती से आगे बढ़ाने में तभी सफलता मिलेगी। उन्होंने कहा कि मै देशवासियों को मकर संक्रांति पर एक बार फिर हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं।
योगी ने गुरु गोरखनाथ को चढ़ाई खिचड़ी
गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बतौर गोरक्षपीठाधीश्वर मकर संक्रांति पर आज सुबह चार बजे गुरु गोरखनाथ को परम्परागत तरीके से पुण्यकाल में पहली खिचड़ी चढ़ाई। उसके बाद नेपाल राजवंश की ओर से खिचड़ी चढ़ाई गई। फिर नाथ योगियों, साधु संतों ने खिचड़ी चढ़ाकर पूजा-अर्चना की। उसके बाद त्रेतायुग से प्रज्ज्वलित अखंड ज्योति की पूजा कर आशीर्वाद लिया। इस दौरान पूरा मंदिर परिसर ढोल, नगाड़ों से गूंज रहा था। श्रद्धालु गुरु गोरखनाथ के जय के नारे लगा रहे थे। इसके बाद श्रद्धालुओं के खिचड़ी चढ़ाने का सिलसिला शुरू हुआ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंदिर परिसर में स्थापित सभी गोरक्षपीठाधीश्वर की समाधि पर जाकर पूजन कर माथा टेक आशीर्वाद लिया। खिचड़ी चढ़ाने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंदिर परिसर का भ्रमण कर व्यवस्था देखी।
खिचड़ी मेले पर डाक टिकट जारी डिजिटल डायरी का लोकार्पण
गोरखपुर। खिचड़ी मेले के लिए दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज खिचड़ी मेले का डाक टिकट और विशेष आवरण जारी किया। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार की डिजिटल डायरी का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री की ओर से जारी किया गया दस रुपये का डाक टिकट गोरखपुर की पहचान होगा। डिजिटल डायरी में प्रदेश में हर तरह के कार्य की सूचना मिल जाएगी। इसके पहले डाक विभाग की ओर से पूरी तैयारी पूरी कर ली गई थी। मंदिर परिसर में विभाग का विशेष कैंप लगाया गया। पोस्ट मास्टर जनरल ने विशेष कैंप का उद्घाटन किया। कैंप मंदिर में 10 दिन तक लगा रहेगा। प्रवर अधीक्षक डाक ने बताया कि डाक टिकट और आवरण सुबह 11 बजे जारी किया गया। डाक विभाग ने डाक टिकटों और आवरण की पांच हजार प्रतियां छपवाई हैं। मुख्यमंत्री द्वारा जारी कर दिए जाने के बाद उन प्रतियों का वितरण किया जाएगा।


पीएम मोदी के करीबी एके शर्मा ने थामा भाजपा का दामन
  • रिटायर्ड आईएएस अधिकारी अब खेलेंगे राजनीति की पारी
  • कहा, पार्टी जो जिम्मेदारी देगी उसे निभाऊंगा
4पीएम न्यूज नेटवर्क. गोरखपुर। प्रशासनिक सेवा के बाद अब राजनीतिक पारी खेलने के लिए तैयार रिटायर्ड आईएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा आज भाजपा में शामिल हो गए। लखनऊ में पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह के साथ उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा तथा भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष दयाशंकर सिंह की मौजूदगी में एके शर्मा ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। एके शर्मा ने कहा कि वह मऊ जिले के पिछड़े गांव से ताल्लुक रखते हैं। वह राष्ट्रवाद और पार्टी की सेवा के लिए राजनीति में आए हैं। पार्टी जो जिम्मेदारी सौंपेगी उसे स्वीकार करेंगे। अरविंद शर्मा की गिनती भारत सरकार के चुनिंदा अफसरों में होती है। 1998 कैडर के गुजरात के चर्चित आईएएस अधिकारी अरविंद कुमार शर्मा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बेहद करीबी माना जाता है। दो वर्ष की नौकरी बाकी रहने के बाद भी स्वैच्छिक सेवानिवृति लेने वाले अरविंद कुमार शर्मा को एक व्यापक दृष्टिकोण वाला परिश्रमी अधिकारी माना जाता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ गुजरात के साथ पीएम ऑफिस, दिल्ली में भी काम करने का उनका लम्बा अनुभव है। माना जा रहा है कि अरविंद कुमार शर्मा को भाजपा उत्तर प्रदेश से विधान परिषद सदस्य बनाने जा रही है।

गतिरोध बरकरार, गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली निकालने की तैयारी

  • दिल्ली की सीमाओं पर 10 दिन में एक लाख किसानों के पहुंचने का दावा, नेता बोले, हक लेकर रहेंगे
  • कानूनों पर रोक के बाद भी किसानों का आंदोलन जारी
4पीएम न्यूज नेटवर्क. गोरखपुर। कृषि कानूनों को रद्द कराने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों ने दिल्ली में गणतंत्र दिवस की परेड निकालने का ऐलान किया है। यह परेड 26 जनवरी को निकाली जाएगी और किसानों से 23 जनवरी तक यहां पहुंचने का आह्वान किया गया है। किसान नेताओं ने पंजाब और हरियाणा से अगले दस दिन में एक लाख किसानों के दिल्ली की सीमा पर पहुंचने का दावा किया है। कृषि कानूनों के खिलाफ किसान करीब 50 दिन से आंदोलन कर रहे हंै और वह दिल्ली की सीमाओं पर ठंड के बावजूद सड़क पर डेरा डालकर बैठे हुए हैं। इस बीच सरकार से किसानों की लगातार बातचीत हो रही है, लेकिन उसके बावजूद कोई हल नहीं निकल सका है। वहीं सुप्रीम कोर्ट में मामला जाने के बाद उम्मीद जताई जा रही थी कि सरकार व किसानों के बीच चल रहा गतिरोध कुछ कम होगा। यह उम्मीद भी खत्म हो गई जब किसानों ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा नए कृषि कानूनों पर रोक लगाने के बाद भी आंदोलन जारी रखने का ऐलान किया। किसानों के ट्रैक्टर-ट्राली पर जहां अभी तक केवल उनके संगठनों के झंडे रहते थे। वहीं अब तिरंगे फहरा रहे हैं। संयुक्त किसान मोर्चा के सदस्य दर्शनपाल का कहना है कि किसानों का आंदोलन उस समय तक जारी रहेगा, जबतक कृषि कानूनों को रद्द नहीं कर दिया जाता है। वहीं किसान नेता बलबीर सिंह का कहना है कि गणतंत्र दिवस से पहले एक लाख से ज्यादा किसान यहां पहुंच जाएंगे। किसान अपना हक लेकर रहेगा और वह पीछे हटने वाला नहीं है।

Next Story
Share it