Top

विरोधियों को फंसाने के लिए भाजपा सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष ने रची साजिश, खुद पर चलवाई गोली

विरोधियों को फंसाने के लिए भाजपा सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष ने रची साजिश, खुद पर चलवाई गोली

  • आयुष के साले ने पूछताछ में किया खुलासा, लिया गया हिरासत में
  • लाइसेंसी असलहे से चलाई गई थी गोली, घटनास्थल के सीसीटीवी में नहीं मिली फुटेज
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर के बेटे आयुष ने अपने विरोधियों को फंसाने के लिए साजिश रची और खुद पर गोली चलवाई। पुलिस की पूछताछ में यह खुलासा आयुष के साले आदर्श ने किया है। पुलिस आदर्श को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं उपचार के बाद आयुष को डाक्टरों ने डिस्चार्ज कर दिया है। वह अब खतरे से बाहर हैं। पुलिस इस मामले में आयुष से भी पूछताछ करेगी। पुलिस के मुताबिक घायल आयुष मोहनलालगंज क्षेत्र से भाजपा सांसद कौशल किशोर का बेटा है। आयुष छठा मील में अपने साले आदर्श के साथ कल देर रात टहलने निकले थे। इसी दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में उन्हें गोली लग गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आयुष को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया। आयुष की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। इस मामले में पीड़ित परिवार की ओर से अभी तक कोई तहरीर नहीं दी गई है। आयुष को गोली लगने की जानकारी मिलते ही सांसद कौशल किशोर पत्नी जयदेवी के साथ आनन-फानन में ट्रामा सेंटर पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। पुलिस की शुरुआती जांच में आयुष के लाइसेंसी असलहे से ही गोली चलने की पुष्टि हुई, जिसके बाद पुलिस ने आयुष के साले आदर्श को हिरासत में लिया और पूछताछ की। पुलिस की छानबीन में सामने आया कि जिस स्थान पर आयुष को गोली मारने की बात बताई गई वहां लगे सीसी कैमरे में कोई अन्य नजर नहीं आया। पुलिस ने आयुष के साले को हिरासत में लेकर जब पूछताछ की तो उसने पूरी बात बता दी। छानबीन में पता चला कि सांसद पुत्र के कहने पर उनके साले ने गोली चलाई थी। आदर्श के मुताबिक आयुष अपने विरोधियों को फंसाना चाहता था। आदर्श ने पुलिस पूछताछ में बताया कि सांसद के बेटे ने कहा था कि किसी को फंसाना है। चंदन गुप्ता, मनीष जायसवाल और प्रदीप कुमार सिंह से कोई दुश्मनी थी इसलिए इन लोगों को फंसाने के लिए साजिश रची गयी। साजिश के तहत हमला करवाकर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराये जाने का प्लान था। डीसीपी उत्तरी रईस अख्तर ने बताया कि पूरा मामला संदिग्ध है। अभी तहरीर प्राप्त नहीं हुई है। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। आयुष की पत्नी का भाई बार-बार बयान बदल रहा है।
यह घटना रात के करीब 2 बजकर 10 मिनट पर हुई, पहले बताया गया कि सांसद के बेटे पर कुछ अज्ञात हमलावरों ने गोली चलाई, अब तक की तहकीकात में पता चला है कि सांसद के बेटे के कहने पर उसके साले ने गोली चलाई। जिस पिस्टल से गोली चली थी, उसे रिकवर कर लिया गया है।
डीके ठाकुर, पुलिस कमिश्नर, लखनऊ


बुलंदशहर में ट्रिपल मर्डर से हड़कंप, पत्नी और दो बेटियों को उतारा मौत के घाट
  • एक की हालत नाजुक, आरोपी पति फरार, पुलिस कर रही मामले की जांच
4पीएम न्यूज नेटवर्क. बुलंदशहर। जनपद में ट्रिपल मर्डर की सनसनीखेज वारदात से हड़कंप मच गया। शिकारपुर के मोहल्ला अंबेडकरनगर में एक व्यक्तिने अपनी पत्नी और तीन बेटियों पर हथौड़े से हमला कर लहूलुहान कर दिया। घायल पत्नी और दो बेटियों की मौके पर मौत हो गई जबकि तीसरी बेटी की हालत नाजुक है। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरोपी फरार है। सईद पत्नी शकीला (50), बेटी रजिया (20), सुल्ताना (18) और शबाना (16) के साथ रहता था। मंगलवार देर रात को सईद ने किसी विवाद के बाद पत्नी पर हथौड़े से हमला किया। मां को बचाने के लिए उसकी तीनों बेटियां आई तो सईद ने उन पर भी हमला कर दिया। चिकित्सकों ने शकीला और उसके दो पुत्रियां रजिया एवं शबाना को मृत घोषित कर दिया जबकि सुल्ताना की हालत नाजुक है। एसएसपी संतोष कुमार सिंह के मुताबिक सईद की दिमागी हालत ठीक नहीं थी, इसीलिए वह पत्नी और बेटियों पर शक करता था।

वोट से ज्यादा विकास पर दे रहे हैं जोर: योगी

  • जीडीपी में देश में दूसरे नंबर पर पहुंचा यूपी
  • चार साल पहले यूपी को कहा जाता था बीमारू राज्य
  • विपक्ष पर मुख्यमंत्री ने जमकर साधा निशाना
4पीएम न्यूज नेटवर्क. लखनऊ। बजट पर चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधान सभा में सपा समेत विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि चार साल पहले उत्तर प्रदेश को बीमारू राज्य कहा जाता था। विकास से ज्यादा वोट पर ध्यान दिया जाता था लेकिन हमारी सरकार वोट से ज्यादा विकास पर जोर दे रही है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में प्रतिव्यक्ति आय 45 हजार थी और आज 95 हजार है। पहले की सरकार प्रदेश को यूरोप बनाने का सपना देखती थी, लेकिन कोई रोड मैप नहीं था। हाथरस की घटना को लेकर सीएम ने सपा पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि हाथरस कांड ने टोपी को फिर कठघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि जो चीनी मिलों को बंद कर रहे हैं वे किसानों के हितैषी हो गए और हम चला रहे हैं तो विरोधी हो गए, विपक्ष का यह कैसा अर्थशास्त्र है। हमने विजन के साथ विकास का रोडमैप तैयार किया है। यूपी को विकास की नयी अर्थव्यवस्था के साथ जोड़ेंगे। शासन के चेहरे बदले है। सबकुछ वही है। हमने कार्यप्रणाली बदली है। यूपी की जीडीपी देश में दूसरे नंबर पर पहुंच चुकी है।

Next Story
Share it