Top

चंडीगढ़-लखनऊ एक्सप्रेस ने ट्रक व बाइक को मारी टक्कर, पांच की मौत

चंडीगढ़-लखनऊ एक्सप्रेस ने ट्रक व बाइक को मारी टक्कर, पांच की मौत

गेट बंद न होने के कारण हुआ हादसा, पलटते-पलटते बची ट्रेन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

शाहजहांपुर। लखनऊ-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित हुलासनगरा रेलवे क्रासिंग पर आज सुबह गेटमैन की लापरवाही से बड़ा हादसा हो गया। तेज रफ्तार ट्रेन ने क्रासिंग से गुजर रहे ट्रक और बाइक को टक्कर मार दी। हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई जबकि कुछ घायल हैं। इनकों बरेली के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद ट्रेन भी पलटते-पलटते बची।

ट्रेन चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाने की कोशिश की, लेकिन तब ट्रेन क्रासिंग से गुजर रहे वाहनों में एक के बाद एक टक्कर मारते हुए कुछ दूर आगे जाकर रुकी। घटना के बाद वहां पर अफरा तफरी मच गई। पुलिस और आरपीएफ पहुंची। आसपास के गांव के लोगों की मदद से वाहनों में फंसे लोगों को निकालना शुरू किया। मरने वालों की शिनाख्त हुलासनगरा गांव के प्रेमपाल, तिलहर निवासी सिदाकत, उनकी पत्नी गुलिस्ता व बेटे हमजा और ट्रक चालक सत्येंद्र सिंह निवासी पंजाब के महौली के सासनगर के रूप में हुई है। प्रेमपाल क्रासिंग पार कर खेत पर जा रहे थे। तभी ट्रेन की चपेट में आ गए, जबकि सिदाकत बरेली की ओर से पत्नी व बेटे के साथ बाइक से आ रहे थे। रोजा से इंजन मंगाकर ट्रेन को रवाना किया गया। गौरतलब है कि हुलासनगरा क्रासिंग पर तैनात गेटमैन जितेंद्र यादव को सुबह पांच बजकर छह मिनट पर सूचना मिली कि तीन मिनट बाद वहां से चंडीगढ़-लखनऊ एक्सप्रेस गुजरेगी। उस समय क्रासिंग से वाहन गुजर रहे थे। अपने तय समय पर ट्रेन वहां पहुंच गई लेकिन जितेंद्र गेट बंद नहीं कर सका।




इटावा में रेडीमेड कपड़ा फैक्ट्री में भीषण आग लाखों का सामान राख

दमकल कर्मियों ने मशक्कत के बाद बुझाई आग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

इटावा। बसरेहर थाने के ठीक सामने रेडीमेड कपड़ा फैक्ट्री में अचानक आग लग गई। फैक्ट्री के ऊपर फंसे फैक्ट्री मालिक को किसी तरह बाहर निकला। आग से लाखों का नुकसान हुआ।

फैक्ट्री के मालिक नगला गेड़ निवासी सुनील कुमार ने बताया कि बुधवार की शाम को सही सलामत फैक्ट्री को बंद कर कर गए थे। उन्होंने बताया कि देखरेख के लिए छोटा भाई अनिल कुमार फैक्टरी पर ही दूसरी मंजिल पर रहता है। अनिल ने रात करीब 12 बजे फोन कर बताया कि नीचे फैक्ट्री की तरफ से बहुत तेज धुआं आ रहा है, जिस पर उन्होंने दमकल विभाग को फोन किया और मौके पर पहुंचे। वहां पर पहले से बसरेहर पुलिस व दमकल की गाड़ी के साथ आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे थे। करीब एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया लेकिन तब तक पूरी फैक्ट्री में रखा हो चुकी थी। रॉ मैटेरियल, सिलाई मशीनें, जनरेटर, औऱ पूरी फैक्ट्री का इंटीरियर ऑफिस का फर्नीचर जलकर खत्म चुका था।

पश्चिम बंगाल: छठे चरण के मतदान के दौरान हिंसा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

कोलकाता। कोरोना संक्रमण के बीच बंगाल विधान सभा चुनाव के छठे चरण का मतदान हुआ। इस दौरान कई जगहों से हिंसा की खबर सामने आ रही हैं और राजनीतिक पार्टियों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। बैरकपुर में तृणमूल-भाजपा समर्थक भिड़ गए। लिहाजा पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। उत्तर 24 परगना में भाजपा नेता और उसके परिवार पर हमले की खबर है। वहीं बैरकपुर नगरपालिका इलाके में भाजपा के बूथ कैंप में तोड़फोड़ की खबर है।

सूबे के चार जिलों की 43 विधान सभा सीटों के लिए वोट पड़ रहे हैं। ये जिले उत्तर 24 परगना, उत्तर 24 परगना, उत्तर दिनाजपुर, नदिया और पूर्व बर्द्धमान हैं। केंद्रीय बलों की 1,071 कंपनियां तैनात हैं। कुल 14,480 पोलिंग बूथों पर मतदान हुआ। चुनाव आयोग के अनुसार छठे चरण के मतदान में छिटपुट हिंसा के बीच मतदान हुआ। उत्तर 24 परगना के बीजपुर में एक भाजपा नेता, उसकी मां और पत्नी पर हमले की खबर है।

मुंबई से गोरखपुर पहुंचकर दुल्हन हुई क्वारंटीन, दूल्हा दिल्ली में फंसा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

गोरखपुर। कोरोना के बढ़ते मामले के बीच आमजन की दुश्वारियां भी देखने को मिल रही हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से सामने आया है। यहां युवक-युवती की 26 अप्रैल को शादी है, लेकिन आलम यह है कि दूल्हे को टिकट नहीं मिल रही है तो वहीं दुल्हन घर में क्वारंटीन है।

गोरखपुर के पिपराइच के रहने वाले श्याम और शालिनी की 26 अप्रैल को शादी है। श्याम को घर आने के लिए कंफर्म टिकट नहीं मिल रहा है। वहीं, शालिनी दुल्हन की रस्म अदायगी के लिए बीते 15 अप्रैल को गोरखपुर पहुंचकर होम आइसोलेट हो गई है।

शादी को लेकर दोनों परिवारों के परिजन परेशान हैं। परिणय सूत्र में बंधने जा रहे श्याम और शालिनी दोनों बाहर रहकर जॉब करते हैं। श्याम दिल्ली में नौकरी करते हैं तो वहीं शालिनी मुंबई के एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करती हैं।

अब सिर्फ चार घंटे होगा बैंकों में कामकाज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। कोरोना संक्रमण से उपजे हालात को देखते हुए बैंकों के समय में भी बदलाव किया गया है। राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी की बैठक में यह निर्णय लिया गया। इसके तहत अब प्रदेश भर के बैंकों का समय सुबह 10 से दोपहर 2 बजे तक ही रहेगा। यह आदेश आज से प्रभावी हो गया है और 15 मई तक अमल में रहेगा।

राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी के समन्वयक बृजेश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैंकिंग कार्यकाल के दौरान अभी सिर्फ चार प्रकार की सेवाएं मुहैया होंगी। इसके तहत नगद जमा, 25 हजार से अधिक निकासी, चेकों की क्लीयरिंग, रेमिटेंस और सरकारी लेनदेन ही होंगे। बैंकों में 50फीसदी कर्मचारियों से ही काम लिया जाएगा।

Next Story
Share it