Top

Punjab

  • सिद्धू बने अध्यक्ष तो कैप्टन को बुलाया ताजपोशी पर

    नई दिल्ली। सिद्धू 23 जुलाई से कार्यभार संभालेंगे। हाल ही में कांग्रेस ने उन्हें पंजाब कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया है। नवनियुक्त अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को कार्यभार ग्रहण समारोह में शामिल होने का न्योता भेजा है। इसके साथ ही उन्होंने एआईसीसी प्रभारी हरीश रावत से भी कार्यक्रम में आने की अपील...

  • कैप्टन को कैप्टन की ही गुगली से सिद्धू ने किया बोल्ड

    नई दिल्ली। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 2015 में वन फैक्टर पर काम किया था। अमरिंदर सिंह ने कई विधायकों का समर्थन लिया और कांग्रेस हाईकमान पर दबाव बनाया, प्रताप सिंह बाजवा को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटा दिया और कमान उन्होंने अपने हाथों में ले ली। आज नवजोत सिंह सिद्धू भी इसी दिशा में हैं। विधायकों और...

  • मिशन पंजाब के नाम से बढ़ी आंदोलन की जमीन पर हलचल

    नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन के नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने किसान संगठनों के बीच आगामी पंजाब विधानसभा चुनाव लडऩे का प्रस्ताव रखा है। चुनाव लडऩे का प्रस्ताव रखने के चार दिन बाद गुरनाम सिंह चढूनी पंजाब के गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक से दिल्ली के सिंधू बॉर्डर तक सैकड़ों कारों के काफिले का नेतृत्व कर...

  • पंजाब में हाईकमान के लिए सिद्धू बन गए मजबूरी

    नई दिल्ली। 2022 के चुनावी संग्राम को देखते हुए पंजाब में राजनीति रफ्तार पकड़ रही है। यह कैसे संभव हो सकता है कि प्रदेश की राजनीति में हंगामा शुरू हो जाए और सिद्धू अपनी फार्म में न आएं इसलिए सिद्धू राजनीति की पिच पर फॉर्म में हैं और फ्रंट फुट पर बल्लेबाजी शुरू हो गई है । लेकिन सवाल हर किसी के मन में...

  • पंजाब में शिअद-बसपा गठजोड़ होगा कितना प्रभावी

    नई दिल्ली। आगामी वर्ष में गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और गुजरात में विधानसभा चुनाव कराए जाएंगे। इनमें पंजाब ऐसा प्रांत है, जहां चुनाव परिणाम देश भर में बिखर रही कांग्रेस के उज्ज्वल भविष्य की एक मात्र उम्मीद हैं । किसानों के हित की बात कहकर एनडीए से नाता तोड़ चुके...

  • अमरिंदर ही रहेंगे कैप्टन, सिद्धू कर रहे टीम में जगह की तलाश

    नई दिल्ली। पंजाब में कैप्टन के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंकने वाले सिद्धू के हाथ अभी तक क्या लगा है इसका अंदाजा अब सभी को लग गया है। पार्टी हाईकमान ने जिस तरह से पंजाब की कमान कैप्टन के हाथों में बरकरार रखते हुए उनको आगे के लिए रोडमैप दिया है, उसने साबित कर दिया है कि कैप्टन की पकड़ किस हद तक मजबूत है। ...

  • कैप्टन ने आखिर कर ही दिया सिद्धू को क्लीन बोल्ड

    नई दिल्ली। राहुल गांधी और तीन सदस्यीय खडग़े पैनल ने पंजाब कांग्रेस के नेताओं के साथ बातचीत की। लंबी बातचीत के बाद ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि पंजाब में मंत्रिमंडल और संगठन दोनों में बदलाव हो सकता है। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने लंबित चुनावी वादों पर एआईसीसी द्वारा नियुक्त पैनल के साथ तीन घंटे की बैठक...

  • एक और चुनाव रणनीतिकार उतरे मैदान में

    नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस की तरह अब शिरोमणि अकाली दल को भी प्रशांत किशोर की तरह चुनावी रणनीतिकार मिल गए हैं। चुनाव रणनीतिकार सुनील कानुगोलू अब एसएडी के चुनाव लडऩे का खाका तैयार करेंगे। इस बार एसएडी ने बसपा के साथ मिलकर चुनाव लडऩे का ऐलान किया है और अपने स्तर पर भी एसएडी ने सर्वे के लिए कई विधानसभा...

  • अब पंजाब की पिच पर बैटिंग आसान नहीं सिद्धू के लिए

    नई दिल्ली। पंजाब में कांग्रेस हाईकमान अंदरूनी कलह को खत्म करने के लिए तमाम प्रयास कर रहा है, लेकिन इसके बावजूद हालात जस के तस बने हुए हैं। कांग्रेस को अभी नवजोत सिंह सिद्धू के बारे में कोई फैसला नहीं लेना है और विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू को अहम जिम्मेदारी देने की अटकलों के बीच सीएम कैप्टन के...

  • हाईकमान के दरबार में कैप्टन लेकिन सिद्धू फेंक रहे गुगली

    नई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस में इन दिनों काफी हंगामा चल रहा है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू लगातार एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं। अमरिंदर सिंह दिल्ली पहुंच गए हैं, जहां उन्हें कांग्रेस हाईकमान कमेटी के सामने पेश किया जाना है। अमरिंदर के दिल्ली पहुंचते ही सिद्धू ने एक बार फिर उन...

  • पंजाब में चुनाव के लिए तैयार हो रही भगवा ब्रिगेड, रिपोर्ट जाएगी पीएम के पास

    नई दिल्ली। भले ही किसानों के आंदोलन के कारण शिरोमणि अकाली दल द्वारा समर्थन छोडऩे के बाद पंजाब में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) हाशिए पर चली गई हो, लेकिन पार्टी 117 सीटों पर चुनाव लडऩे की घोषणा पर पीछे नहीं हटी है। चुनावी दंगल में कूदने से पहले भाजपा प्रदेश भर में 17 बिंदुओं पर सर्वे करा रही है। यह...

  • पंजाब कांग्रेस चलती रहेगी कैप्टन की अगुवाई में, सिद्धू को मिल सकता है मंत्री पद

    चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस में चल रही अंदरूनी कलह के बाद राष्ट्रीय राजधानी में हाईकमान की तीन सदस्यीय कमेटी के वरिष्ठ नेता जयप्रकाश अग्रवाल और प्रदेश के प्रभारी महासचिव हरीश रावत के साथ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह भी शामिल हैं। कमेटी द्वारा 25 विधायकों और मंत्रियों का पक्ष सुना गया। अब इसकी रिपोर्ट ...

Share it