Top

अगले से महीने से एटीएम से पैसे निकालना होगा और महंगा

अगले से महीने से एटीएम से पैसे निकालना होगा और महंगा


नई दिल्ली। 1 अगस्त से एटीएम इंटरचेंज चार्जेज में बढ़ोतरी होगी। यह वृद्धि दो रुपये तक होगी। हालांकि ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से हर महीने पांच फ्री ट्रांजेक्शन कर सकेंगे।
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आदेश के बाद 1 अगस्त से बैंक ऑटोमेटेड टेलर मशीन (एटीएम) पर इंटरचेंज चार्ज में 2 रुपये की बढ़ोतरी होगी। जून में आरबीआई ने इंटरचेंज चार्ज को 15 रुपये से बढ़ाकर 17 रुपये प्रति वित्तीय लेनदेन और गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए 5 रुपये से 6 रुपये करने की अनुमति दी थी।
इंटरचेंज शुल्क बैंकों द्वारा क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के माध्यम से भुगतान प्रसंस्करण करने वाले व्यापारियों के लिए एक शुल्क है। संशोधित नियमों के मुताबिक ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से हर महीने पांच फ्री ट्रांजेक्शन कर सकेंगे ग्राहक मेट्रो शहरों में तीन और अन्य बैंकों के एटीएम का इस्तेमाल कर गैर मेट्रो शहरों में पांच फ्री एटीएम ट्रांजेक्शन कर सकेंगे।
ये बदलाव आरबीआई द्वारा जून 2019 में गठित एक समिति के सुझावों के आधार पर किए गए थे। इंडियन बैंक्स एसोसिएशन के तत्कालीन अध्यक्ष वीजी कन्नन की अध्यक्षता में गठित समिति ने एटीएम लेनदेन के इंटरचेंज स्ट्रक्चर पर विशेष ध्यान देते हुए एटीएम शुल्कों की समीक्षा की थी।
आरबीआई ने कहा था कि बैंकों को एटीएम लगाने की बढ़ती लागत और बैंकों या व्हाइट लेबल एटीएम ऑपरेटरों द्वारा किए गए एटीएम रखरखाव खर्च के साथ-साथ हितधारक संस्थाओं और ग्राहक की सुविधा को संतुलित करने की जरूरत को ध्यान में रखते हुए शुल्क बढ़ाने की अनुमति दी जाएगी। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 31 मार्च तक देश के विभिन्न बैंकों द्वारा जारी किए गए 1,15,605 ऑनसाइट एटीएम और 97,970 ऑफ साइट टेलर मशीनें और करीब 90 करोड़ डेबिट कार्ड थे।


Next Story
Share it