कल से बदल रहे बैंक के ये नियम

कल से बदल रहे बैंक के ये नियम


नई दिल्ली। जो लोग ज्यादातर एटीएम का उपयोग करते हैं, उनके लिए अब कल से ऐसा करना महंगा होगा । साथ ही आरबीआई के नए संशोधन के बाद अब छुट्टी के दिन भी आपके खाते में सैलरी-पेंशन आ जाएगी।
कल से यानी 1 अगस्त से देशभर में इंडिया पोस्ट समेत बैंकिंग और अन्य क्षेत्रों से जुड़े कई नियमों में बदलाव होने जा रहे हैं। इसका असर आपके दिन-प्रतिदिन के बैंकिंग ऑपरेशंस पर भी देखने को मिलेगा। जहां ईएमआई देने वालों और सैलरी-पेंशन पाने वालों को इसका फायदा मिलेगा, वहीं जो लोग ज्यादातर समय पैसे निकालने के लिए एटीएम का इस्तेमाल करते हैं, अब ऐसा करना 1 अगस्त से महंगा हो जाएगा।
भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा बैंकिंग नियमों में बदलाव और अन्य बैंकों से अपडेट होने के कारण ये नियम कल से लागू किए जा रहे हैं। आइए जानते हैं क्या हैं ये बदलाव और ये आपको कैसे प्रभावित करेंगे।
कल यानी 1 अगस्त से नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (एनएसीएच) की व्यवस्था सप्ताह में सातों दिन उपलब्ध होगी। एनएसी एक बल्क पेमेंट सिस्टम है जिसका इस्तेमाल बैंकों द्वारा किया जाता है जिसके जरिए सैलरी और पेंशन ट्रांसफर की जाती है । साथ में सैलरी, ईएमआई, बिल पेमेंट और लोन पेमेंट आदि भी इसके जरिए किए जाते हैं। अब तक अवकाश के दिन वेतन-पेंशन आदि का भुगतान नहीं किया जाता था और ये सुविधाएं केवल बैंकों के कार्य दिवसों पर ही मिलती हैं। हालांकि आरबीआई के नए संशोधन के बाद अब छुट्टी के दिन भी आपके खाते में सैलरी और पेंशन आ जाएगी।
अगर आप अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से किसी अन्य बैंक के एटीएम से पैसे निकालते हैं तो इसके लिए आपको 1 अगस्त से ज्यादा पैसे देने होंगे। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने सभी बैंकों को 1 अगस्त से अपने इंटरचेंज चार्जेज बढ़ाने की इजाजत दे दी है। फिलहाल बैंक हर फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन के लिए इंटरचेंज चार्ज के तौर पर 15 रुपये चार्ज करते हैं। अब 1 अगस्त से 2 रुपये की बढ़ोतरी के साथ यह चार्ज 17 रुपये होगा। दूसरी तरफ अगर हम नॉन-फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन की बात करें तो फिलहाल 5 रुपये का इंटरचेंज चार्ज देना होगा, जो अब 1 अगस्त से 6 रुपये हो जाएगा।
आरबीआई के संशोधित नियमों के मुताबिक ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से हर महीने पांच फ्री ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। इसके साथ ही ग्राहक मेट्रो शहरों में तीन और गैर मेट्रो शहरों में पांच अन्य बैंकों के एटीएम से मुफ्त एटीएम ट्रांजेक्शन कर सकते हैं। इसके बाद आपको हर ट्रांजैक्शन के लिए अतिरिक्त शुल्क देना होगा।
1 अगस्त से अगर आप डाक विभाग के इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) की डोरस्टेप सर्विस का इस्तेमाल करते हैं तो फिर आपको इसके लिए अतिरिक्त शुल्क देना होगा। आईपीपीबी वर्तमान में अपने दरवाजे की सेवा का उपयोग करके ग्राहकों से कोई शुल्क नहीं लेती है। हालांकि, कल से आपको इसका इस्तेमाल करने के लिए प्रति सर्विस 20 रुपये प्लस जीएसटी देना होगा।
नियमों के मुताबिक हर महीने के पहले दिन देशभर में एलपीजी सिलेंडर की कीमतों में बदलाव किया जाता है। पिछले कुछ दिनों की बात करें तो अप्रैल में रसोई गैस सिलेंडर के दाम में 10 रुपये की कटौती की गई थी। इसके बाद मई-जून में घरेलू सिलेंडरों की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया। पिछले महीने यानी जुलाई में इनकी कीमतों में 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी।
भारत के अग्रणी निजी बैंक आईसीआईसीआई की कई सेवाओं का उपयोग करने के लिए आपको कल से अधिक शुल्क देना होगा। कल से बचत खाताधारकों के लिए एटीएम इंटरचेंज शुल्क और चेक बुक शुल्क में वृद्धि होगी। इसके साथ ही बैंक अपने ग्राहकों को चार फ्री ट्रांजेक्शन की सुविधा देगा। जिसके बाद आपको प्रति ट्रांजैक्शन 150 रुपये का शुल्क देना होगा।


Next Story
Share it