दूध में भिगोए हुए खाएं खजूर मिलेंगे एक साथ कई लाभ

दूध में भिगोए हुए खाएं खजूर मिलेंगे एक साथ कई लाभ


नई दिल्ली। हम सभी जानते हैं कि दूध को एक पूर्ण आहार का दर्जा निश्चित रूप से प्राप्त है लेकिन खजूर भी सुपर भोजन की श्रेणी में शामिल हैं। ऐसी स्थिति में जब हम इन दोनों का एक साथ इस्तेमाल करते हैं तो फिर इसके फायदे और भी ज्यादा हो जाते हैं। खासकर अगर इसे रात में भिगोया जाए और दिन में पी लिया जाए तो इससे हमारी सेहत को हर तरह से फायदा होता है। कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन से भरपूर दूध और ग्लूकोज और फ्रक्टोज से भरपूर खजूर शरीर को तुरंत ऊर्जा देते हैं और इससे कई बीमारियों में भी फायदा होता है। एक शोध के अनुसार जब खजूर को दूध में भिगोकर कुछ समय के लिए उबाला जाता है तो इसके स्वास्थ्य लाभ 100 गुना अधिक बढ़ जाते हैं। एनीमिया जैसी बीमारी इस दूध का सेवन करने से ठीक हो सकता है। तो चलिए जानते हैं कि इस तरह से दूध और खजूर का सेवन करने से हमें क्या लाभ मिलता है।
एनीमिया आयरन की कमी के कारण होता है और इसे दूर करने के लिए आपको आयरन युक्त भोजन का सेवन करने की सलाह दी जाती है। ऐसी स्थिति में जब आप दूध में भिगोकर खजूर का सेवन करते हैं तो फिर यह हीमोग्लोबिन बढ़ाने का काम करता है, जिसके कारण एनीमिया की समस्या धीरे-धीरे ठीक हो जाती है।
खजूर ऐसी खाद्य वस्तु है जो न केवल मां के स्वास्थ्य को सहेजता है बल्कि यह भू्रण के विकास के लिए भी फायदेमंद है। ऐसी स्थिति में जब आप गाय के दूध में भिगोकर खजूर का सेवन करते हैं तो शरीर में ऑक्सीटोसिन की मात्रा बढ़ जाती है, जो डिलीवरी के समय गर्भाशय की संवेदनशीलता को भी बढ़ाने का काम करती है। खजूर में बहुत सारे अमीनो एसिड, प्रोटीन और फाइबर पाए जाते हैं, जो अजन्मे बच्चे के विकास में भी फायदेमंद होते हैं।
खजूर में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो एंटी एजिंग गुणों से भरपूर होते हैं। इसके सेवन से उम्र बढऩे की प्रक्रिया धीमी हो सकती है, जिससे त्वचा पर उम्र बढऩे का असर कम हो जाता है।
खजूर और दूध का सेवन एक साथ करने से प्रजनन क्षमता बढ़ती है। आयुर्वेद में इसे दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

जानें इसके अन्य लाभ
दूध और खजूर का सेवन खांसी से राहत देता है।

यह अनिद्रा के इलाज में भी आपकी मदद कर सकता है।

यह ब्लड प्रेशर को कम करने में आपकी मदद कर सकता है।

दूध में भिगोई गई खजूर स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं।

रोजाना इसका सेवन करने से गठिया में राहत मिलती है।

(अस्वीकरण। इस लेख में दी गई जानकारी सामान्य जानकारी पर आधारित है। हम इसकी पुष्टि नहीं करते है। इन्हें लागू करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें।)


Next Story
Share it