Top

Education

  • इसी माह आ रहा है सीबीएसई का रिजल्ट, जानें कौन सी है तारीख

    नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के लाखों छात्र 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम घोषित होने का इंतजार कर रहे हैं। ताजा अपडेट के मुताबिक सीबीएसई की कक्षा 10वीं और 12वीं के नतीजे 31 जुलाई तक घोषित कर दिए जाएंगे। रिजल्ट घोषित होने के बाद इसे सीबीएसई की ऑफिशियल वेबसाइट cbse.nic.in ...

  • यूपी बोर्ड के विद्यार्थियों की इंतजार की घडिय़ां खत्म

    लखनऊ। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (यूपीएमएसपी) 15 जुलाई तक कक्षा 10वीं और 12वीं का परिणाम घोषित कर सकता है। हालांकि बोर्ड ने अभी आधिकारिक तारीख घोषित नहीं की है, लेकिन रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि रिजल्ट लगभग तैयार है और पांच दिन के भीतर घोषित कर दिया जाएगा । इसके जारी होने के बाद यह...

  • जहां पढऩे का सपना होता है हर स्टूडेंट का

    नई दिल्ली। हर छात्र का सपना होता है कि वो दुनिया के बेहतरीन व चुनिंदा स्कूलों व विश्वविद्यालयों में शिक्षा ग्रहण कर अपने आगे के कैरियर के सपनों को साकार करे। इसके लिए छात्र खूब मेहनत भी करते हैं। कई बार छात्र सिर्फ देश ही नहीं विदेश के नामचीन विश्वविद्यालयों में अपनी पढ़ाई करना चाहते हैं। तो आज हम आप...

  • अगर करना है विदेश में पढ़ाई तो जान लें ये बातें

    विदेश जाना हर किसी का सपना होता है। दुनिया का शायद ही कोई ऐसा इंसान हो जो किसी दूसरे देश की यात्रा पर न जाना चाहता हो और वहां संस्कृति को न जानना और समझना चाहता हो। ऐसे में अगर बात करें छात्रों की तो हर छात्र सात समंदर पार जाकर अपनी पढ़ाई पूरी करना अपने सपनों को एक नई उड़ान देना चाहता है। इसके लिए...

  • परीक्षा संस्थाओं की साख पर सवाल

    sanjay sharmaसवाल यह है कि क्या इससे परीक्षाओं की शुचिता और विश्वसनीयता प्रभावित नहीं होगी? क्या इतना बड़ा गोलमाल बिना सरकारी कर्मचारियों की मिलीभगत के संभव है? क्या परीक्षा आयोजित करने वाली संस्थाओं की साख दांव पर नहीं लग रही है? क्या प्रतिभाशाली छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ करने की छूट किसी को दी...

  • अब आयुष छात्रों को एक यूनिवर्सिटी से मिलेगी डिग्री

    नए सत्र में सरकारी व निजी मेडिकल कॉलेज जुड़ेंगे आयुष यूनिवर्सिटी सेअलग-अलग विश्वविद्यालय से संबद्धता का झंझट खत्म 4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। अब आयुष के छात्रों को एक विश्वविद्यालय की डिग्री मिलेगी। आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथ कॉलेजों की अलग-अलग विश्वविद्यालय से संबद्धता का झंझट भी खत्म हो जाएगा। नए...

  • बोर्ड परीक्षा: ड्यूटी से गायब हुए गुरुजी तो कटेगा वेतन

    माध्यमिक शिक्षा परिषद ने लिया फैसला4पीएम न्यूज़ नेटवर्कअलीगढ़। माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश (यूपी बोर्ड) ने वार्षिक परीक्षा 2021 में शिक्षक-शिक्षिकाओं के ड्यूटी न करने पर सख्त कदम उठाया है। यूपी बोर्ड परीक्षा की ड्यूटी न करने पर गुरुजी के वेतन पर संकट के बादल मंडरा जाएंगे। पहली बार ये फैसला...

  • शिक्षक-स्नातक विधान परिषद चुनाव जीत की जुगत में भाजपा, झोंकी पूरी ताकत

    पोलिंग बूथों पर जारी है मतदाता सम्मेलनरणनीति को जमीन पर उतारने में जुटे पदाधिकारी4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। विधान सभा उपचुनावों में जीत हासिल करने के बाद भाजपा ने अब विधान परिषद चुनावों में ताकत झोंक दी है। शिक्षक-स्नातक विधान परिषद चुनाव जीतने के लिए संगठन के पदाधिकारी पूरी रणनीति को जमीन पर उतारने...

  • व्हाट्सएप से करें पेमेंट पर रहें सावधान

    श्व भर में सर्वाधिक इस्तेमाल किया जाने वाला मैसेंजर व्हाट्सएप, भारत में भी उतना ही लोकप्रिय है। इसकी लोकप्रियता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि भारत में इसके आसपास कोई दूसरा मैसेजिंग एप नहीं ठहरता। भारत में तकरीबन 40 करोड़ के आसपास यूजर व्हाट्सअप का इस्तेमाल करते हैं। कहा जा सकता है कि...

  • इस बार बोर्ड परीक्षा केंद्र बनाने की जिम्मेदारी डीएम के हवाले

    हाईस्कूल और इंटर परीक्षा के लिए केंद्र निर्धारण नीति में बदलाव4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा-2021 के लिए केंद्र निर्धारण की नीति जारी हो गई है। इस बार के निर्धारण की प्रक्रिया में बड़ा बदलाव गया है। बोर्ड परीक्षा में पहले बालिका विद्यालयों को सेंटर बनाया...

  • रोजगार देने को प्रदेश सरकार की कवायद खाली पदों पर छह माह में होगी नियुक्तियां 37 सरकारी विभागों में भरे जाएंगे 32,800 पद

    परिवार कल्याण, राजस्व और बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग में सबसे ज्यादा पद खाली29 विभाग ऐसे हैं, जहां 100 से ज्यादा पद खालीभर्ती आयोग के चेयरमैन ने मुख्य सचिव को लिखा पत्र 4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। बेरोजगारों के लिए अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश के विभिन्न सरकारी विभागों में 32,800 पद खाली पड़े हैं। इन...

  • जहरीली शराब और लापरवाह तंत्र

    sanjay sharmaसवाल यह है कि आखिर सरकारी ठेकों में जहरीली शराब कैसे पहुंच रही है? क्या शराब माफिया और ठेके के कर्मचारियों की मिलीभगत से यह धंधा चल रहा है? आबकारी और पुलिस विभाग क्या कर रहा है? क्या पूरे प्रदेश में शराब माफिया का नेटवर्क संचालित हो रहा है? इन मौतों का जिम्मेदार कौन है? क्या केवल मुआवजा ...

Share it