एनसीबी अधिकारी की जासूसी के मामले में आया नया मोड़

एनसीबी अधिकारी की जासूसी के मामले में आया नया मोड़


मुंबई। एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की जासूसी मामले में एक नया मोड़ आया है। सूत्रों के मुताबिक मुंबई पुलिस जल्द ही समीर वानखेड़े को तलब कर पूछताछ के लिए बुलाएगी।
बता दें कि समीर वानखेड़े ने आरोप लगाया था कि मुंबई पुलिस के लोग उनका पीछा कर रहे हैं और उनकी गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। वह अक्सर कब्रिस्तान में अपनी मां की कब्र पर जाते हैं। मुंबई पुलिस के दोनों पुलिसकर्मियों ने कब्रिस्तान से उनका सीसीटीवी फुटेज लिया था।
एनसीबी के एक अधिकारी के अनुसार, वानखेड़े नियमित रूप से उपनगरीय ओशिवारा में कब्रिस्तान जाते थे, जहां उनकी मां को 2015 में उनकी मृत्यु के बाद दफनाया गया था। अधिकारी ने सोमवार को दावा किया कि ओशिवारा पुलिस स्टेशन के दो अधिकारी कब्रिस्तान गए और निगरानी रखने के लिए सीसीटीवी फुटेज लिया।
वानखेड़े के जासूसी के आरोपों के बाद, मुंबई पुलिस आयुक्त ने मामले की जांच के लिए अतिरिक्त आयुक्त स्तर के एक अधिकारी को आदेश दिया। वहीं, महाराष्ट्र सरकार ने भी इस मामले में अपनी प्रतिक्रिया दी है। राज्य के गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल ने मंगलवार को कहा कि राज्य सरकार ने समीर वानखेड़े की निगरानी के लिए किसी एजेंसी को आदेश नहीं दिया है।
वाल्से पाटिल ने कहा, सरकार ने पुलिस या राज्य के खुफिया विभाग को समीर वानखेड़े पर नजर रखने का कोई आदेश नहीं दिया है। मैंने सुना है कि उन्होंने (वानखेड़े) पुलिस महानिदेशक से शिकायत की है। हम इसकी जांच करेंगे। मंत्री ने कहा, मुझे नहीं लगता कि पुलिस उन पर नजर रख रही है।
एक क्रूज जहाज पर छापेमारी का नेतृत्व कर सुर्खियों में आए वानखेड़े ने सोमवार को शिकायत दर्ज कराई थी कि दो पुलिस अधिकारी उनका लगातार पीछा कर रहे हैं. क्रूज पर छापेमारी के बाद अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को ड्रग मामले में गिरफ्तार किया गया था।


Next Story
Share it