Top

Covid19

  • यूपी में कोरोना का कहर जारी, चौबीस घंटे में 18 सौ से अधिक हुए संक्रमित

    4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। यूपी में कोरोना की रफ्तार थम नहीं रही है। पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमित 23 और लोगों की मौत हो गई तथा 1824 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई है।स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोरोना संक्रमित 23 और लोगों की...

  • कोरोना काल में प्रदूषण और लापरवाही खतरनाक

    sanjay sharmaसवाल यह है कि कोरोना संक्रमण फिर क्यों बढऩे लगा है? क्या बढ़ता प्रदूषण कोरोना मरीजों के लिए घातक होगा? लोग महामारी को लेकर इतने निश्ंिचत क्यों हो गए हैं? लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन और मास्क लगाने से परहेज क्यों कर रहे हैं? क्या सरकारी तंत्र की लापरवाही के कारण हालात बिगड़ रहे हैं?...

  • अब एप बताएगा कोरोना जांच सेंटर का पता, संक्रमण रोकने के आएगा काम

    बिना भटके जांच केंद्र पहुंच सकेंगे लक्षणों वाले मरीजजल्द सरकार लॉन्च करेगी मेरा कोविड सेंटर एप4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए सरकार तमाम कोशिशें कर रही है। इसी के तहत वह जल्द ही एक एप लॉन्च करने जा रही है। यह एप लोगों को नजदीकी कोरोना जांच केंद्र के बारे में...

  • प्रदेश में फिर बढऩे लगा कोरोना का संक्रमण, कार्तिक मेला स्थगित

    गढ़मुक्तेश्वर की सभी सीमाएं सील, नहीं होगा गंगा में दीपदानयूपी में एक दिन में 28 सौ से अधिक केस 4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण ने फिर रफ्तार पकडऩी शुरू कर दी है। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 2,858 नए मामले सामने आए हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते...

  • करवाचौथ: मेहंदी लगाने वालों की होगी कोरोना जांच

    लिए गए रैंडम नमूने, कल भी लिए जाएंगे सैंपलस्वास्थ्य विभाग की टीमें हुई सक्रिय4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। करवाचौथ के मद्देनजर मेंहदी लगाने वालों की कोरोना जांच कराई जाएगी। राजधानी के विभिन्न इलाकों से आज एंटीजेंन और आरटीपीसीआर जांच के लिए नमूने लिए गए। महिलाओं को संक्रमण से बचाने की दिशा में स्वास्थ्य...

  • त्यौहारी सीजन: बाजार में उमड़ी भीड़ फिर बढ़ सकती है कोरोना की रफ्तार

    सरकार के आदेश के बावजूद लोग गाइडलाइंस का नहीं कर रहे पालनसोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाई जा रही धज्जियां, मास्क से भी कर रहे परहेज4पीएम न्यूज़ नेटवर्कलखनऊ। त्यौहारी सीजन में राजधानी के तमाम बाजारों में खरीदारों की भीड़ उमडऩे लगी है। सरकार और हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद बाजार में पहुंचने वाले अधिकांश लोग...

  • कोरोना काल में बेकाबू महंगाई

    sanjay sharmaसवाल यह है कि महंगाई लगातार बेकाबू क्यों होती जा रही है? क्या सरकार के पास महंगाई का कोई निदान नहीं है? क्या पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था के कारण हालात लगातार खराब होते जा रहे हैं? क्या मांग और आपूर्ति में संतुलन साधे बिना महंगाई को नियंत्रित किया जा सकता है? आखिर महंगाई कब तक रहेगी? क्या...

  • कोरोना गाइडलाइंस और कोर्ट की सख्ती

    sanjay sharmaसवाल यह है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बावजूद लोग लापरवाही क्यों बरत रहे हैं? आखिर इलाहाबाद हाईकोर्ट को इस मामले में कठोर रुख क्यों अपनाना पड़ा? क्या पुलिस कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराने में नाकाम साबित हो रही है? क्या संक्रमण दर में आई कमी के कारण लोग लापरवाह होते जा रहे हैं? क्या इस ...

  • Corona Virus से बचाव का सबसे कारगर उपाय मास्क पहनना

    रोना वायरस से बचाव का सबसे कारगर उपाय मास्क पहनना है। कोरोना के खतरे से बचे रहने के लिए मास्क को अपने लिए सबसे जरूरी हथियार मान रहे हैं लेकिन गलत तरीके से पहना गया मास्क वायरस की चपेट में आने की संभावना और व्यक्ति में झूठी सुरक्षा का भ्रम पैदा करता है। यही वजह है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक...

  • मेरी कोरोना डायरी… आठवां दिन और हो गयी अस्पताल से घर की रवानगी

    4pm newsकई दिन पहले लिख दिया था कि बुधवार को घर जाना है तो सुबह से ही तरकीबें लगानी शुरू कर दी थी मैंने। डॉक्टर से कहा कि तीन दिन घर पर बीमार था और नौ दिन यहां हो गए। चार दिन घर पर आईसोलेशन में रह लूंगा… छोड़ दीजिए। डॉक्टर भी थोड़ा कंफ्यूजन में थे। शुगर का पेशेंट होने के कारण दुविधा ज्यादा थी। मैंने ...

  • मेरी कोरोना डायरी… सातवां दिन सपनों की चादर पर एहसासों की तुरपन बहुत याद आएगा यह अस्पताल

    4pm news networkआखिर सीटी स्कैन की रिपोर्ट आ ही गयी। इन्फेक्ïशन का स्तर आठ निकला। संक्रमण फेफड़ों तक जा पहुंचा था। एक्स-रे में सिर्फ सामने का हिस्सा आता है। सीटी स्कैन में फेफड़ों का पीछे का स्तर भी आता है। डॉक्टर रचित ने कहा कि कोई परेशानी की बात नहीं है आपका यहां आना सही फैसला था। संक्रमण का इलाज...

  • मेरी कोरोना डायरी… छठा दिन मैं दिल को उस मुकाम पर लाता चला गया

    4pm news networkसुबह के साढ़े चार बजे थे। मैंने सपने में अपने पिता को देखा। तमाम बातचीत होते-होते अचानक आंख खुली तो मैं पसीने-पसीने था। बुखार देखा तो सौ था। डेढ़ गोली डोलो की खायी और सपने के बारे में सोचता रहा। सालों से कभी मेरे पिता सपने में नहीं आए। मृत्यु को भी तेरह साल हो गए उनके। फिर यह सपने...

Share it