पशुपति पारस बने लोजपा के अध्यक्ष

पशुपति पारस बने लोजपा के अध्यक्ष


पटना। लोजपा के दो हिस्सों में बंटने के बाद पिछले चार दिनों से जारी सियासी घमासान के बीच लोजपा के बागी धड़े के नेता पशुपति पारस को गुरुवार को पार्टी का नया राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है। बता दें कि लोजपा नेता सूरजभान सिंह के घर पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक बुलाई गई थी, बैठक में अध्यक्ष पद के लिए चुनाव हुए थे, जिसमें सिर्फ पशुपति पारस ने अपना नामांकन दाखिल किया था। ऐसे में उन्हें निर्विरोध पार्टी का नया अध्यक्ष चुना गया। पार्टी नेता सूरज भान सिंह ने पीसी के दौरान यह ऐलान किया। इस दौरान बागी गुट के तमाम नेता मौजूद रहे।
आपको बता दें कि चिराग पासवान और चाचा पशुपति पारस के बीच पार्टी के मालिकाना हक को लेकर विवाद हो गया है। पशुपति पारस ने पांच सांसद अपने पक्ष में कर पार्टी की कमान अपने हाथ में लेने का मन बना लिया है हालांकि चिराग अपना पद छोडऩे को तैयार नहीं हैं।
ऐसे में पशुपति पारस बुधवार को पटना पहुंचे और गुरुवार को एक बैठक बुलाई गई, जिसमें उन्हें अध्यक्ष चुना गया। हालांकि, सांसद प्रिंस राज बैठक में शामिल नहीं हुए। राजनीतिक गलियारों में ऐसी चर्चा है कि पशुपति पारस पिछले कई महीनों से तख्तापलट की प्रक्रिया में थे। इस बात को खुद चिराग ने भी माना है। उन्होंने अपने चाचा पशुपति पारस पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है।
इधर, सांसद पशुपति पारस का कहना है कि उन्होंने पार्टी को तोड़ा नहीं, बल्कि बचा लिया है। विधानसभा चुनाव में हार के बाद धीरे-धीरे पार्टी का वजूद खत्म होता जा रहा था। ऐसे में रामविलास पासवान की पार्टी और उनकी सोच को बचाने के लिए यह फैसला लिया गया है। वहीं, पशुपति गुट में शामिल नेताओं का भी यही कहना है।


Next Story
Share it