नीतीश ने दिया छात्राओं 33 प्रतिशत आरक्षण

नीतीश ने दिया छात्राओं 33 प्रतिशत आरक्षण


पटना। बिहार की बेटियों के लिए एक और बड़ा फैसला लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में स्थापित होने वाले खेल विश्वविद्यालय में नामांकन में एक तिहाई सीटें आरक्षित करने की घोषणा की है। इस पर आदेश देते हुए उन्होंने कहा कि इसके साथ ही छात्राओं को खेलों के प्रति अधिक प्रेरित किया जाएगा और उनकी संख्या भी बढ़ेगी। खेल विश्वविद्यालय की स्थापना के साथ ही प्रदेश में खेलों को बड़ा बढ़ावा मिलेगा। विद्यार्थियों को बेहतर प्रशिक्षण मिलेगा।
बता दें कि सीएम नीतीश ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए खेल विश्वविद्यालय से जुड़े प्रस्तावित बिल के पेश होने के मद्देनजर यह निर्देश जारी किया। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आदेश दिए कि जल्द से जल्द गहन विचार-विमर्श और स्थल भ्रमण के बाद इसे फिर से पेश किया जाए। उन्होंने कहा कि जब से मुझे काम करने का मौका मिला है, साथ ही कई विकास कार्य करने के साथ-साथ खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए भी कई कदम उठाए गए हैं।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राजगीर में अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट स्टेडियम बनाया जा रहा है। राजगीर में खेल विश्वविद्यालय की स्थापना से प्रदेश में खेलों को बड़ा बढ़ावा मिलेगा और छात्रों को बेहतर प्रशिक्षण दिया जाएगा और खेलों के विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। इस दौरान कला, संस्कृति एवं युवा विभाग की अपर मुख्य सचिव वंदना किनी ने प्रजेंटेशन के माध्यम से बिहार खेल विश्वविद्यालय अधिनियम-2021 के संबंध में विस्तृत जानकारी दी।


Next Story
Share it