जिद… सच की- राफेल डील पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला और सियासत...

सवाल यह है कि राफेल सौदे को सुप्रीम कोर्ट क्यों ले जाया गया? क्या इसके जरिए मोदी सरकार को बदनाम करने की साजिश रची गई? क्या राजनीतिक लाभ के लिए याचिकाकर्ताओं ने बेबुनियाद आरोप लगाए? क्या लड़ाकू विमानो...

आखिर गोत्र है क्या?

१११ मृणाल पांडे इन दिनों राजनीति में गोत्र पर बहुत सवाल-जवाब हो रहे हैं। गोत्र की जड़ है, मनुष्यों का एक खास समूह। प्राचीनतम वेद ऋग्वेद में युवा स्त्रियों के समूह को जनि और पुरुषों के समूह को जन कहा ...

समर्थन व विरोध का क्षेत्रीय द्वंद्व...

सपा-बसपा का गठबंधन लगभग तय है। अजीत सिंह के राष्ट्रीय लोक दल के भी उसका हिस्सा बनने में दिक्कत नहीं है। दिक्कत सिर्फ कांग्रेस को साथ लेने में थी। ताजा चुनाव नतीजों के बाद क्या अब सपा-बसपा राष्ट्रीय स...

जिद… सच की- जानलेवा चाइनीज मांझा और लापरवाह तंत्र...

जिद… सच कअहम सवाल यह है कि प्रतिबंध के बावजूद चाइनीज मांझा खुलेआम कैसे बिक रहा है? हाईकोर्ट के आदेश का पालन क्यों नहीं किया जा रहा है? चाइनीज मांझे की बिक्री के दंडनीय अपराध होने के बाद भी दुका...

2014 जैसा जादू नहीं चलेगा

१११ नीरजा चौधरी भारतीय राजनीति में रह-रहकर बदलाव की हवा चलती रहती है। इसमें खासतौर पर हिंदी हॉर्ट लैंड बड़ी भूमिका निभाता है। अरसे बाद फिर इस बार हिंदी हॉर्ट लैंड में बदलाव की हवा चल पड़ी है। तीन राज...