सीएबी के विरोध में मुस्लिम समुदाय ने राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

  • बिल को वापस लेने की मांग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या। नागरिकता संशोधन बिल (सीएबी) को लेकर मुसलमानों में रोष दिखा। नगर के टाटशाह जामा मस्जिद में जुमा की नमाज की दुआ पढक़र नाराजगी जताई गई। शहर इमाम मौलाना शमशुल कमर की अगुवाई में नगर मजिस्ट्रेट एसपी सिंह व सीओ सिटी अरविद चौरसिया को संयुक्त रूप से राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन दिया। ज्ञापन के माध्यम से इस बिल को वापस लेने की मांग की गई।
ज्ञापन देते समय नायब इमाम मौलाना फैसल, टाटशाह मस्जिद कमेटी के अध्यक्ष सुल्तान अशरफ, उपाध्यक्ष मोहम्मद कमर राईन, मोहम्मद मतीन, मोहम्मद आतिफ, मोइनुद्दीन, रियाल अहमद खान, जमाल अहमद खान, मोहम्मद सुहेल, मोहम्मद जमाल अंसारी, शाबिर अली मौजूद थे। शमशुल कमर का कहना है कि यह बिल संविधान की मूल भावना के खिलाफ है, इसमें धर्म निरपेक्षता व सामाजिक समरसता को तिलांजलि दी गई है। वहीं नागरिकता संशोधन कानून को लेकर मस्जिद दरगाह शैखुल आलम में जुमा की नमाज के पहले दरगाह के सज्जादानशीन शाह अम्मार अहमद अहमदी नैय्यर मियां ने कड़ा विरोध जताया। उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर वर्गीकरण की संविधान इजाजत नहीं देता। ये बिल संविधान के अनुच्छेद 14 का खुला उल्लंघन है। इस विधेयक को रद किया जाए। नैय्यर मियां ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून संविधान के खिलाफ धर्म की बुनियाद पर बनाया गया है।

22 हजार अभ्यर्थी देंगे लोक सेवा आयोग की परीक्षा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
अयोध्या। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा 15 दिसंबर को आयोजित होगी। इसे सकुशल संपन्न कराने के लिए 15 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 47 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तैनात होंगे। 47 केंद्रों पर 22 हजार से अधिक परीक्षार्थी शामिल होंगे। केंद्र पर सुरक्षा बल तैनात रहेंगे। जिला मजिस्ट्रेट अनुज कुमार झा ने कहा कि प्रश्नपत्र की हैंडलिग बड़ी गंभीरता एवं परफेक्ट तरीके से करनी होगी। यदि किसी भी सेंटर से पेपर लीक हुआ तो पूरी जिम्मेदारी उस केंद्र के केंद्र व्यवस्थापक / प्रधानाचार्य तथा स्टेटिक मजिस्ट्रेट की होगी। इन्हें गंभीर परिणाम भुगतना होगा। पेपर खोलते समय वीडियोग्राफी की जाएगी। वीडियोग्राफी मोबाइल से कदापि नहीं की जाएगी। अवशेष प्रश्नपत्र केंद्र व्यवस्थापक के मेज पर नहीं बल्कि तुरंत स्ट्रांग अलमारी में बंद कर चाबी प्रधानाचार्य व केंद्र व्यवस्थापक सौंपनी होंगी। इन दोनों के अलावा मोबाइल न रखने का निर्देश दिया।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.