यूपी : कांग्रेस की पैठ बनाने में जुटीं प्रियंका, बूथों पर फोकस

  • भारत बचाओ महारैली के जरिए कार्यकर्ताओं को एकजुट करने की तैयारी
  • कांग्रेस महासचिव योगी सरकार पर लगातार कर रहीं हमले
  • जनहित के कई मुद्दों को उठाकर पार्टी के पक्ष में हवा बनाने की कर रहीं कोशिश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यूपी में जनाधार खो चुकी कांग्रेस को प्रियंका गांधी एक बार फिर संजीवनी देने की जुगत में जुटी हैं। वे जनहित के मुद्दों पर लगातार सरकार के खिलाफ हमलावर हैं। वहीं बूथ लेवल पर कार्यकर्ताओं को
सक्रिय कर दिया है। प्रियंका की उपस्थिति से कार्यकर्ताओं में भी उत्साह है। इसी क्रम में दिल्ली में आयोजित भारत बचाओ महारैली में प्रदेश से कार्यकर्ताओं को भारी संख्या में पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं। प्रियंका प्रदेश में सक्रिय रहकर पार्टी के पक्ष में हवा बनाने में जुटी हैं ताकि आगामी विधान सभा चुनावों में कांग्रेस बेहतर प्रदर्शन कर सके।
प्रदेश में कांग्रेस का जनाधार पूरी तरह खिसक चुका है। यही वजह है कि लोक सभा चुनावों में उसे प्रदेश की 80 में से महज एक सीट पर ही जीत मिल सकी थी। रायबरेली से कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ही अपनी सीट बचा सकी जबकि राहुल गांधी अपनी परंपरागत सीट अमेठी से चुनाव हार गए। वहीं प्रदेश में 12 सीटों पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस खाता भी नहीं खोल सकी। हालांकि कई जगहों पर कांग्रेस ने बेहतर प्रदर्शन किया। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी प्रदेश में पार्टी का जनाधार मजबूत करने के लिए लगातार सक्रिय हैं। उनकी सक्रियता से कार्यकर्ताओं को भी उम्मीद बंधी है। बूथों को मजबूत करने पर उनका पूरा ध्यान है। इसके अलावा कांग्रेस सेवा दल को भी फिर से सक्रिय किया जा रहा है।
प्रियंका गांधी लगातार योगी सरकार पर हमले कर रही हैं। सोनभद्र नरसंहार के दौरान घोरावल में पीडि़त परिवार से मिलकर प्रियंका ने सरकार को बैक फुट पर ला दिया था। बिजली विभाग में हुए पीएफ घोटाले को लेकर भी प्रियंका ने सरकार को घेरा। हाल में वे उन्नाव रेप कांड को लेकर भी सक्रिय दिखीं। पीडि़ता की मौत के बाद वे उसके परिजनों से मिलने के लिए उन्नाव पहुंच गई। यही नहीं कांग्रेस ने कई जगह इसके खिलाफ प्रदर्शन भी किया। इसी क्रम में अब प्रियंका आगामी 14 दिसंबर को दिल्ली में महारैली करने जा रही है। यहां के रामलीला मैदान में होने वाली भारत बचाओ रैली में बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश से कार्यकर्ताओं को ले जाने की रणनीति तैयार की गई है ताकि पार्टी का शक्ति प्रदर्शन किया जा सके। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि भारत बचाओ रैली को सफल बनाने के लिए यूपी से सर्वाधिक लोग दिल्ली पहुंचेंगे और इसकी तैयारियां करीब-करीब पूरी कर दी गई हैं। इसके पोस्टर भी जारी किए जा चुके हैं।

मिशन 2022 पर नजर

प्रियंका गांधी की नजर आगामी विधान सभा चुनाव पर है। इसको ध्यान में रखते हुए वे न केवल बूथों को मजबूत करने पर जोर दे रही हैं बल्कि पार्टी में यूथ को अधिक से अधिक जगह दे रही हैं। प्रियंका की इस नई रणनीति से प्रदेश में कांग्रेस एक बार फिर सक्रिय होती दिख रही है। कार्यकर्ताओं में भी उत्साह दिखाई दे रहा है।

हर विधान सभा से जाएंगे 100 कार्यकर्ता

कांग्रेस की भारत बचाओ महारैली को सफल बनाने के लिए प्रदेश कांग्रेस ने अपने सभी नेताओं और कार्यकर्ताओं को ज्यादा से ज्यादा लोगों को लेकर दिल्ली पहुंचने की जिम्मेदारी सौंपी है। यूपी की हर विधान सभा से कम से कम सौ लोगों के पहुंचने की उम्मीद है। वहीं विधान सभा स्तर पर रैली की तैयारियों की निगरानी की जा रही है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.