कांग्रेस ने अनुशासनहीनता के मामले में ग्यारह नेताओं को थमाया नोटिस

  • 24 घंटे के अंदर जवाब नहीं मिलने पर कार्रवाई की भी दी चेतावनी

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कांग्रेस ने पंडित जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी जयंती पर अलग बैठक करने वाले पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को नोटिस थमा दिया है। अनुशासनहीनता पर पार्टी ने सख्त रवैया अख्तियार करते हुए बड़ी कार्रवाई की है। साथ ही कई पूर्व विधायक, पूर्व मंत्री समेत 11 नेताओं को 24 घंटे का समय देते हुए कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
अनुशासन समिति के सदस्य व पूर्व विधायक अजय राय ने पूर्व एमएलसी सिराज मेंहदी, पूर्व मंत्री रामकृष्ण द्विवेदी समेत 11 लोगों से 24 घंटे में स्पष्टीकरण मांगा है। अजय राय के मुताबिक ये नेता कांग्रेस के निर्णयों का अनवरत व अनावश्यक रूप से बैठक कर सार्वजनिक तौर पर विरोध कर रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर यह नोटिस जारी किया गया है। इन बैठकों व मीडिया वक्तव्यों से पार्टी की छवि खराब हो रही है। यदि इन लोगों ने 24 घंटे के भीतर अपना स्पष्टीकरण नहीं दिया तो कार्रवाई की जाएगी। वहीं जिन नेताओं को नोटिस दिया गया है, उन्होंने इस मामले में किसी भी तरह की प्रतिक्रिया देने से इंकार कर दिया है।

इन नेताओं को मिला नोटिस

कांग्रेस हाईकमान ने पूर्व सांसद संतोष सिंह, पूर्व एमएलसी सिराज मेंहदी, पूर्व गृहमंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, पूर्व मंत्री सत्य देव त्रिपाठी, एआईसीसी के सदस्य राजेन्द्र सिंह सोलंकी और पूर्व विधायक भूधर नारायण मिश्र को नोटिस दिया है। इसके अलावा हाफिज मोहम्मद उमर. विनोद चौधरी, नेक चन्द्र पाण्डेय, पूर्व अध्यक्ष युवा कांग्रेस स्वयं प्रकाश गोस्वामी व पूर्व जिलाध्यक्ष गोरखपुर संजीव सिंह शामिल हैं।

मनरेगा में लाभार्थियों को हर हाल में मिले 100 दिन का रोजगार: राजेन्द्र

ग्राम्य विकास मंत्री ने मुख्य विकास अधिकारियों को दिए निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश सरकार में ग्राम्य विकास मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह ने सभी मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि प्रधानमंत्री आवास के लाभार्थियों को मनरेगा के तहत सौ दिन का रोजगार मुहैया कराया जाए। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पिछले साल के अधूरे 631 आवासों को अभियान चला कर 15 दिनों में पूरा कराया जाए। योजना के सभी आवासों में शौचालय बनवाए जाएं। वहीं वर्ष 2019-20 के बाकी 35255 लाभार्थियों को पहली किस्त जारी कर दिसंबर महीने तक आवासों का काम पूरा कराया जाए। निर्मित आवासों के लाभार्थियों की सौ फीसदी आधार सीडिंग कराई जाए।
राजेन्द्र प्रताप सिंह योजना भवन में गुरुवार को विभागीय कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि कॉमन रिव्यू कमेटी की फील्ड विजिट में खुलासा हुआ है कि कुछ जगहों पर आवासों में शौचालय, फर्श, प्लास्टर, आवासों में खिडक़ी, दरवाजों में पल्लों के साथ नाम पट्टिका नहीं है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि पंद्रह दिनों में इन्हें ठीक करवा कर मुख्यालय को रिपोर्ट भेजी जाए।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.