योगी सरकार ने यूपी की सडक़ों को कर दिया बर्बाद: अखिलेश यादव

  • कहा, खराब सडक़ों की वजह से रोजाना हो रहीं मौतें

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को उत्तर प्रदेश में सडक़ों की हालत को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकाल में सडक़ें बर्बाद हो गई हैं। सडक़ों की दुर्दशा के कारण रोजाना प्रदेश की राजधानी सहित तमाम जनपदों में हजारों मौतें हो रही हैं। भाजपा सरकार के कार्यकाल में यह कहना मुश्किल है कि प्रदेश में सडक़ों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सडक़ें हैं। सपा सरकार के सत्ता काल में किए गए कार्यों को भाजपा सरकार ने बर्बाद कर दिया है। प्रदेश सरकार ने तमाम लाभकारी योजनाओं को बंद कर दिया है।
अखिलेश ने कहा कि अजीब विडंबना है कि भाजपा सरकार में मुख्यमंत्री और लोकनिर्माण मंत्री के सुर अलग-अलग निकलते हैं। लोक निर्माण मंत्री सडक़ों को गड्ढामुक्त करार देते हैं, किंतु मुख्यमंत्री को लगातार बार-बार गड्ढों से सडक़ों को मुक्त करने का आदेश देना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री खुद पिछले दिनों अपनी सडक़ यात्रा में सडक़ों की दुर्दशा के भुक्तभोगी रह चुके हैं। अब उन्होंने 30 नवंबर 2019 तक सडक़ों में सुधार का आदेश दिया है।
सपा मुखिया ने यह भी कहा कि भाजपा सरकार का आधे से ज्यादा समय बीत चुका है, अब उनको दो वर्ष से कम समय ही सत्ता में रहने के लिए मिलेगा। एक लंबी कार्यावधि में भाजपा का प्रदर्शन निहायत घटिया और स्तरहीन रहा है। ऐसा लगता है कि लोक निर्माण विभाग में मंत्री का आदेश नहीं चलता है या फिर मंत्री को लगातार गलत सूचनाएं देकर भ्रमित किया जाता रहा है।

भाजपा के पास गिनाने के लिए कोई काम नहीं

अखिलेश यादव ने कहा कि विभागीय मंत्री का तो पता नहीं पर मुख्यमंत्री को सडक़ पर चलने का जो अवसर मिला, उसमें लगे हिचकोलों से उन्हें जरूर अंदाजा हो गया कि हकीकत क्या है और फसाना क्या है। सपा मुखिया ने कहा कि समाजवादी सरकार में आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसी शानदार सडक़ बनी जिस पर वायुसेना का युद्धक और मालवाहक विमान भी उतर चुका है। गाजियाबाद में एलीवेटेड सडक़ बनाने का काम भी सपा सरकार में हुआ। भाजपा के पास गिनाने को कुछ भी नहीं है। वे बस समाजवादी सरकार के कामों को ही अपना बताने का झूठ बोलते चले जाएंगे।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.