कर्जमाफी का लाभ दिलाने में कोताही न बरतें अधिकारी: आरके तिवारी

  • सभी जिलों के डीएम से 18 नवंबर तक मांगीरिपोर्ट
  • कहा, कर्जमाफी को लेकर गंभीर नहीं कई जिलों के डीएम

 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश सरकार किसानों को कर्जमाफी का लाभ दिलाने की हर संभव कोशिशों में जुटी है। इन सबके बाद भी बहुत से पात्र किसानों को योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है। क्योंकि अधिकारियों की उदासीनता के कारण कर्ज माफी का लाभ देने के फैसले का कड़ाई से पालन नहीं हो पा रहा है। इसलिए मुख्य सचिव आरके तिवारी ने प्रदेश के सभी कमिश्नर और डीएम को कर्जमाफी के आदेश का पालन करवाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कर्जमाफी में लापरवाही बरते जाने को लेकर नाराजगी जाहिर करते हुए सभी जिलों के डीएम से 18 नवंबर तक रिपोर्ट मांगी है।
राज्य सरकार ने प्रदेश के छोटे व सीमांत किसानों को एक लाख रुपये तक की कर्ज माफी का लाभ देने का पूर्व में फैसला लिया था। जिसका लाभ प्रदेश के 86 लाख किसानों को मिला लेकिन इसके बावजूद बड़ी संख्या में छोटे व सीमांत किसानों ने पात्र होने के बावजूद लाभ न मिल पाने की ऑफ लाइन शिकायत की है। इसलिए मुख्य सचिव की अध्यक्षता में प्रदेश के छोटे व सीमांत किसानों के लिए फसल कर्ज माफी योजना की सशक्त समिति के साथ बैठक हुई। जिसमें यह फैसला किया गया कि ऑफ लाइन प्राप्त शिकायतों का अंतिम रूप से निपटारा करने के लिए जनपदवार पात्र किसानों की सूची संस्तुति के आधार पर पुन: परीक्षण के लिए भेजी जाएगी। अधिकारी 15 दिनों के अंदर अपने-अपने जनपद के सभी पात्र किसानों का पुन: सत्यापन कर के बैंक शाखा से किसान का नाम, केसीसी धनराशि एवं अन्य ब्यौरा को नान एनपीए / एनपीए योजना में पुष्टि कराएं। पात्र किसानों की सूची भुगतान के लिए डीएलसी (जिला स्तरीय कमेटी) अपनी संस्तुति के साथ कृषि निदेशक के पास भेजें। जिसके बाद राज्य स्तर से नोडल बैंकों के जरिए पात्र किसानों को भुगतान किया जाएगा।

दिल्ली महारैली की तैयारियों में जुटी कांग्रेस

  • प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी पदाधिकारियों के साथ की बैठक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने पार्टी पदाधिकारियों से आर्थिक मंदी के खिलाफ देशव्यापी अभियान के समापन पर नई दिल्ली में एक दिसंबर को प्रस्तावित महारैली में यूपी से बड़ी भागीदारी के लिए कहा है। इसमें हर नेता को अपने-अपने क्षेत्र से अधिक से अधिक समर्थकों को लेकर दिल्ली पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं, ताकि सरकार पर बेहतर ढंग से दबाव बनाया जा सके।
प्रदेश अध्यक्ष ने शुक्रवार को पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक में कहा कि हर पदाधिकारी की कोशिश होनी चाहिए कि उसके क्षेत्र के हर ब्लाक से ज्यादा लोग महारैली में पहुंचें। जिससे पूरे प्रदेश के लोग कांग्रेस की नीति और विचारधारा के बारे में अच्छी तरह जान सकें। उन्होंने कहा कि लोगों को देश में व्याप्त आर्थिक मंदी के खिलाफ जागरूक करने और महारैली में जाने के लिए प्रेरित करने के हर संभव प्रयास किये जाएं। पार्टी नेता नुक्कड़ सभाओं से लेकर पर्चा वितरण कर माहौल बनाएंगे। इस बैठक में उपाध्यक्ष वीरेन्द्र चौधरी, पंकज मलिक, ललितेश पति त्रिपाठी, दीपक कुमार, आलोक कुमार, विश्वविजय सिंह, धु्रव राम लोधी, यूसुफ अली तुर्क मौजूद थे।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.