रजत शर्मा ने डीडीसीए के अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

  • कहा, ईमानदारी से काम कर पाना है मुश्किल
  • 20 माह से डीडीसीए के अध्यक्ष पद पर हैं रजत शर्मा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा कि संगठन के भीतर इतने दबावों में उनके लिए काम कर पाना अब संभव नहीं है।
रजत शर्मा करीब 20 माह से डीडीसीए के अध्यक्ष पद पर तैनात हैं। इस कार्यकाल में महासचिव विनोद तिहारा से उनके मतभेद सार्वजनिक हो चुके हैं। तिहारा को संगठन के भीतर भरपूर समर्थन मिल रहा है। इसीलिए रजत शर्मा ने एक बयान में कहा कि यहां क्रिकेट प्रशासन हर समय दबावों में काम करता है। मुझे लगता है कि निजी स्वार्थ यहां हर समय क्रिकेट के हितों के खिलाफ काम करते रहते हैं। मुझे ऐसा लगता है कि ईमानदारी, पारदर्शिता और इंटीग्रिटी के साथ यहां काम करना संभव नहीं हैं। जहां तक मेरा सवाल है, मैं किसी भी स्तर पर समझौता नहीं करना चाहता। यह भी कहा कि मेरे कार्यकाल में बहुत-सी चीजें अवरुद्ध हो रही थीं। इसलिए मैंने खुद को इससे अलग कर लिया है। मैंने डीडीसीए के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। बता दें, पूर्व वित्त मंत्री स्वर्गीय अरुण जेटली के समर्थन के बाद रजत शर्मा डीडीसीए से जुड़े थे। जेटली की मौत के बाद रजत शर्मा की जमीन कमजोर हो रही थी। शायद इसी वजह से उन्होंने इस्तीफा दिया है।

अयोध्या को लेकर लखनऊ में बाबरी ऐक्शन कमेटी का मंथन

  • जफरयाब जिलानी की मौजूदगी में बनेगी आगे की रणनीति

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अयोध्या में श्रीराम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब बाबरी ऐक्शन कमेटी आगे की रणनीति तैयार करने में जुट गई है। इस मामले में मंथन करने के लिए 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद आज पहली बार लखनऊ के इस्लामिया कॉलेज में बाबरी एक्शन कमेटी की बैठक होगी, जिसमें सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील तथा बाबरी मस्जिद ऐक्शन कमेटी के संयोजक जफरयाब जिलानी के साथ ही अयोध्या से हाजी महबूब भी मौजूद रहेंगे। बैठक में बाबरी मस्जिद एक्शन कमेटी अयोध्या मामले पर आगे की रणनीति को लेकर चर्चा करेगी।
जफरयाब जिलानी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने यह माना है और हाई कोर्ट ने भी माना था कि मुसलमानों के एविडेंस कम से कम 1857 के बाद से 1949 तक उस मस्जिद को यूज करने की और उस मस्जिद में नमाज पढऩे के हैं। करीब इसको 90 वर्ष मान सकते हैं, अगर 90 साल तक हमने किसी मस्जिद में नमाज पढ़ी है तो उस मस्जिद की जमीन हमारी मस्जिद को न देकर मंदिर को देने का क्या जवाज है यह हमारी समझ से बाहर है। हम इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाना चाहते हैं।

अयोध्या पर फैसला सुनाने वाले रंजन गोगोई को मिलेगी जेड प्लस सुरक्षा

  • सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को रिटायरमेंट के बाद मिलेगी सुरक्षा
  • असम पुलिस को उनके आवास की सुरक्षा के बंदोबस्त के दिए आदेश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई को असम में जेड प्लस सुरक्षा दी जाएगी। यहां वह 17 नवंबर को रिटायरमेंट के बाद रहेंगे। पिछले हफ्ते अयोध्या मामले में फैसला सुनाए जाने से पहले रंजन गोगोई और चार अन्य जजों की सुरक्षा बढ़ाई गई थी। असम पुलिस को गोगोई के डिब्रूगढ़ स्थित पैतृक आवास और गुवाहाटी में दूसरे घर की सुरक्षा के बंदोबस्त करने के आदेश दिए गए हैं।
असम पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि हमें केंद्रीय गृह मंत्रालय से कहा गया है कि गोगोई की सुरक्षा बढ़ाकर जेड प्लस करनी है जो कि सर्वोच्च सुरक्षा कवर है। हम सुरक्षा के लिए जरूरी इंतजाम कर रहे हैं क्योंकि गोगोई रिटायरमेंट के बाद गुवाहाटी में रहने वाले हैं। सूत्रों का कहना है कि गोगोई और चार अन्य जजों की सुरक्षा खतरे की आशंका को टालने के लिए बढ़ाई गई है। गोगोई को सर्वोच्च सुरक्षा दी गई है तो वहीं दूसरे जजों को अलग-अलग श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। गोगोई ने अपने कार्यकाल के दौरान राफेल, सबरीमाला समेत तमाम मुद्दों पर अहम फैसले सुनाए हैं।

डॉ. तृप्ति सिंह का महाराष्ट्र में 24 दिसंबर को ‘यूपी दिवस’ में होगा सम्मान

  • राष्ट्रीय मीट में छह मेडल अपने नाम करने का बनाया रिकॉर्ड

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राष्ट्रीय मेडल में छह मेडल अपने नाम करने वाली एथलीट डॉ. तृप्ति सिंह को भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री और महाराष्ट्र सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री अमरजीत मिश्रा ने लखनऊ आकर सम्मानित किया। साथ ही उत्कृष्ट खेल के लिए तृप्ति सिंह को बधाई दी।
अमरजीत मिश्रा ने डॉ. तृप्ति सिंह को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि बाबा विश्वनाथ की नगरी बनारस के होने के नाते मैं अपनी बहन को सम्मानित करने के लिए घर चलकर आया हूं। साथ ही उन्होंने यह भी वादा किया कि 24 दिसंबर यानी उत्तर प्रदेश दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हम महाराष्ट्र में उत्तर प्रदेश की बेटी को सम्मानित करेंगे। उन्होंने अग्रिम शुभकामनाएं देते हुए यह भी कहा कि मलेशिया में 2-7 दिसंबर तक हो रहे अंतरराष्ट्रीय मीट में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली बेटी डॉ. तृप्ति सिंह गोल्ड मेडल लेकर आएं और भारत का झंडा मलेशिया की धरती पर बुलंद करें।

गोवा पुलिस के डीजीपी प्रणब नंदा की हार्ट अटैक से मौत

  • दिल्ली पुलिस में स्पेशल कमिश्नर हैं पत्नी एस. नंदा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। गोवा पुलिस के डीजीपी प्रणब नंदा की दिल्ली में हार्ट अटैक आने से मौत हो गई। ऐसा बताया जा रहा है कि बीती रात वो दिल्ली में अपने घर में थे तभी डेढ़ बजे के आसपास उन्हें सीने में दर्द हुआ। जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन उनकी मौत हो गई। उनकी पत्नी एस. नंदा भी आईपीएस हैं, वह दिल्ली पुलिस में स्पेशल कमिश्नर हैं।
आईजी जसपाल सिंह ने बताया कि गोवा पुलिस को डीजीपी के मौत की सूचना उनकी पत्नी एस. नंदा की ओर से आधिकारिक तौर पर रात एक बजे मिली। मैडम ने हमें जानकारी देने के लिए फोन किया। डीजीपी नंदा छुट्टी लेकर दिल्ली गए थे, जाने से पहले उन्होंने दो बैठकों में भी शिरकत की थी। पहली मीटिंग अपराध पर मुख्य सचिव के साथ थी। दूसरी मीटिंग उन्होंने राज्य के बहादुर पुलिस अधिकारियों को दिए जाने वाले पर मेडल पर की थी। फिलहाल हमने अपने मुखिया को खो दिया है।

अयोध्या मामले में भडक़ाऊ पोस्ट डालने पर तीन गिरफ्तार

  • मुजफ्फरनगर में आरोपी युवकों के खिलाफ हुई कार्रवाई

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में अयोध्या मामले को लेकर उच्चतम न्यायालय के फैसले के खिलाफ सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक संदेश पोस्ट करने के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। थाना प्रभारी यशपाल धामा ने बताया कि पुलिस के पास दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार, सादिक मलिक ने फैसले के खिलाफ शुक्रवार को एक भडक़ाऊ संदेश पोस्ट किया था और उसके दो मित्रों ने उसे लाइक किया। तीनों को यहां अदालत में पेश किया गया और इसके बाद उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।
अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद इसी हफ्ते 12 नवम्बर को सोशल मीडिया के जरिये माहौल खराब करने वालों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई थी। इसके बाद से लगातार माहौल बिगाडऩे वालों के खिलाफ कार्रवाई की सिलसिला जारी है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.