भाजपा सरकार को जनता की कोई चिंता नहीं: अखिलेश

  • डेंगू से मर रहे हैं लोग, अस्पतालों में इलाज की जगह मिल रही तकलीफ
  • चरमरा चुकी है प्रदेश की चिकित्सा व्यवस्था, वसूली की मिल रहीं शिकायतें

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने एक बार फिर प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में चिकित्सा व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है। भाजपा सरकार की इस सबंध में लापरवाही घोर अमानवीयता की पराकाष्ठा है। लोग डेंगू से मर रहे हैं। मलेरिया का प्रकोप बढ़ा है। टीबी के मरीज बढ़े हैं। अस्पतालों में इलाज की जगह मरीजों को तकलीफ और संक्रमण बंट रहा है। अव्यवस्था का ऐसा आलम है कि अब राज्य में सामान्य आदमी की जिंदगी हर दिन खतरे में रहती है। भाजपा सरकार को जनता की दिक्कतों की कोई फिक्र नही है।
सपा प्रमुख ने कहा कि खुद मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर में जापानी बुखार पर नियंत्रण तो पाया नहीं जा सका, डेंगू की बीमारी फैलने से दर्जनभर लोगों की मौतें हो गईं। जिलों में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में तो बुरी हालत है। न तो मरीजों की जांच की सुचारू व्यवस्था है और नहीं दवाएं मिल पाती हैं। राजधानी लखनऊ में रोज ही किसी न किसी के डेंगू की बीमारी से मौत की खबरें आती हैं। कई वरिष्ठ अधिकारी, नेता और छात्र भी डेंगू के शिकार हुए हैं। भाजपा की एक महिला नेत्री और छात्रा की मौत हुई। उन्होंने कहा कि सपा सरकार में एक रूपए के पर्चे पर गंभीर रोगों तक के मुफ्त इलाज की व्यवस्था थी। अस्पतालों को दवाओं का पर्याप्त बजट मिलता था। डॉक्टर भी नियमित रूप से ओपीडी में बैठ रहे थे। भाजपा सरकार बनते ही स्वास्थ्य क्षेत्र में अराजकता उत्पन्न हो गई है। गरीब का इलाज मुश्किल है। अस्पतालों में वसूली की शिकायतें आने लगी हैं। जनता इस सबसे गहरे असंतोष और आक्रोश में हैं। खुद राज्यपाल ने पिछले दिनों टिप्पणी की थी कि प्रदेश के अस्पतालों में कमीशनबाजी चल रही है। इससे बेफिक्र प्रदेश की भाजपा सरकार चेती नहीं, बल्कि पूरी स्वास्थ्य सेवाएं ही चौपट हो गयी।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.