सडक़ों को गड्ढा मुक्त करने के साथ ही फोरलेन के काम में तेजी लाएं : योगी

  • कहा, सडक़ों के निर्माण कार्य में गुणवत्ता के साथ न करें समझौता

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि 15 नवंबर तक जिले की सभी सडक़ों को गड्ढा मुक्त करें। इस कार्य में गुणवत्ता के साथ समझौता न करने की भी हिदायत दी। इसके अलावा देवरिया-गोरखपुर एवं महराजगंज-गोरखपुर फोरलेन के निर्माण की गति तेज करने और साथ ही गोरखपुर-वाराणसी फोरलेन जल्द से जल्द ठीक कराने के निर्देश दिए हैं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार की शाम गोरक्षपीठाधीश्वर कक्ष में जिले के अधिकारियों के साथ शहर के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले में चल रहे निर्माण कार्य में समय और गुणवत्ता का खास ख्याल रखा जाए। डीएम प्रत्येक 15 दिनों में निर्माण कार्य के प्रगति की समीक्षा करें। प्रत्येक निर्माण कार्य के लिए अलग-अलग नोडल अधिकारी या टीम बनाकर गुणवत्ता की निगरानी भी कराई जाए। कोई भी निर्माण कार्य लंबित न रहे। कोई कठिनाई आती है तो तत्काल शासन को अवगत कराएं। लोगों को बुनियादी सुविधा मिले, इसके लिए योजना बनाकर कार्य करें। योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में आवास निर्माण में तेजी लाई जाए। गोरखनाथ ओवरब्रिज के नीचे की सडक़ की तत्काल मरम्मत कराने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माणाधीन इंटर कालेजों, स्टेडियम, ड्रेनेज सिस्टम, राप्ती नदी पर बन रहे पक्के घाट निर्माण की समीक्षा की। इस बैठक में एडीजी दावा शेरपा, एडीजी जेएन सिंह, डीएम के. विजयेन्द्र पाण्डियन, एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता, सीडीओ अनुज सिंह, जीडीए वीसी दिनेश कुमार, नगर आयुक्त अंजनी कुमार सिंह समेत समस्त विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

त्योहार में सफाई और सुरक्षा का रखें ध्यान

सीएम ने नगर निगम को निर्देश दिया कि छठ पर्व के मद्देनजर घाटों की साफ-सफाई व अन्य व्यवस्थाएं पूरी करें। त्योहार के दौरान बाजार में बढऩे वाली भीड़ के मद्देनजर शहर में पार्किंग आदि की व्यवस्था भी सुनिश्चित करें। पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि त्योहारों के मद्देनजर विशेष सतर्कता रखी जाए। सघन जांच अभियान भी समय-समय पर चलाएं। ठण्ड को ध्यान में रख सीएम ने रैन बसेरा, कम्बल आदि की खरीद की कार्यवाही पूरी करने की हिदायत दी।

सोशल मीडिया पर लगातार नजर रख रही पुलिस

  • अब तक 14 लोगों के खिलाफ मुकदमे दर्ज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक सद्भाव बिगाडऩे का प्रयास करने वालों पर पुलिस की नजर टिक गई है। ऐसे तत्वों के खिलाफ पुलिस ने अलग-अलग जिलों में अब तक कुल 14 मुकदमे दर्ज किए हैं। डीजीपी ओपी सिंह ने ऐसे लोगों के खिलाफ और सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। सोशल मीडिया पर साजिश रचने वालों के खिलाफ साक्ष्य जुटाकर उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत निरुद्ध किया जाएगा।
सोशल मीडिया पर कुछ ऐसे पोस्ट प्रसारित किए जा रहे हैं, जिसमें शांति व्यवस्था भंग करने की साजिश नजर आ रही है। पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक पुलिस मुख्यालय के सोशल मीडिया सेल एवं साइबर क्राइम यूनिट ने इसे गंभीरता से लेते हुए 67 सोशल मीडिया एकाउंट्स को ब्लॉक करा दिया है। हरदोई, अंबेडकरनगर, प्रतापगढ़, देवरिया, सहारनपुर, हमीरपुर में एक-एक, औरैया, प्रयागराज में दो-दो और लखनऊ में चार मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

यातायात नियमों के प्रति जागरूकता के लिए निकाला कैंडल मार्च

  • सडक़ हादसों में जान गंवाने वालों को दी श्रद्धांजलि

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में सडक़ दुर्घटनाओं में जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि देने और लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए रविवार को कैंडल मार्च निकाला गया। इस दौरान पोस्टर और बैनर के माध्यम लोगों को सडक़ दुर्घटना के कारणों और बचाव की जानकारी दी।
सडक़ सुरक्षा सप्ताह के समापन पर 1090 चौराहे से समतामूलक चौराहे तक निकाले गए मार्च के दौरान बतौर मुख्य अतिथि उप परिवहन आयुक्त लखनऊ परिक्षेत्र एके मिश्र मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि सबको कम से कम दस-दस लोगों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने का संकल्प लेना होगा। इस मार्च में बाइकरनी गैंग, ग्रीन पिस्टन, राइडिंग हंटर, डेयर डेविल सिस्टर, सोल राइडर्स, फ्लाइंग राइडर्स जैसी संस्थाओं के सदस्य भी शामिल हुए। इस दौरान आरटीओ प्रशासन आरपी द्विवेदी, आरटीओ प्रवर्तन विदिशा सिंह भी उपस्थित रहीं।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.