करतारपुर साहिब व भक्तों के बीच की दूरी होगी खत्म: मोदी

  • हरियाणा में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन प्रधानमंत्री ने किया ऐलान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा में विधान सभा चुनाव प्रचार के अंतिम दिन करतारपुर साहिब का मामला उठाकर जनता को खुश करने का प्रयास किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे गुरु के पवित्र स्थान, करतारपुर साहिब और हम सभी के बीच की दूरी अब समाप्त होने वाली है। बीजेपी सरकार गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के इस महान क्षण, इस ऐतिहासिक क्षण से पूरी दुनिया को परिचित कराने का प्रयास कर रही है। यही कारण है कि पूरे विश्व में भारत सरकार इस पर्व को मनाने वाली है।
मोदी ने बताया कि पूरे विश्व में भारत सरकार गुरुनानक जी का 550वां प्रकाश पर्व मनाने वाली है। कपूरथला से तरन तारन के पास गोविंदवाल साहिब तक जो नया नेशनल हाईवे बना है, उसको अब गुरु नानक देव जी मार्ग के नाम से जाना जाएगा। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आजादी के 70 साल बाद भी हमारी आस्था के एक बड़े केंद्र को हमें अब तक दूरबीन से देखना पड़ा। उन्होंने सवाल किया कि 1947 में बंटवारे की रेखा खींचने के लिए जिम्मेदार थे, क्या उनको ये खयाल नहीं था कि सिर्फ 4 किमी के फासले से भक्तों को गुरु से अलग नहीं किया जाना चाहिए। इसके बाद भी 70 सालों में क्या इस दूरी को मिटाने के प्रयास कांग्रेस को नहीं करने चाहिए थे? मोदी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और उसके कल्चर से जुड़े दलों ने हिंदुस्तानियों की आस्था, परंपरा और संस्कृति को कभी मान नहीं दिया। कांग्रेस की जो अप्रोच हमारे पवित्र स्थानों के साथ रही, वही अप्रोच जम्मू-कश्मीर के साथ भी रही। 70 साल तक समस्याओं में उलझाते रहे, समाधान के लिए ईमानदार कोशिश नहीं की।

कांग्रेस पर साधा निशाना

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पहले दिल्ली में सोई हुई कांग्रेस सरकार एक के बाद एक करके कश्मीर के हालात बिगाड़ती गई। प्रारंभ के दिनों में पाकिस्तान की मदद से हमारा कुछ हिस्सा छीन लिया गया। उसके कुछ सालों के बाद योजनाबद्ध तरीके से, कश्मीर जिस परंपरा के लिए जाना जाता है, उस सूफी सोच को दफना दिया गया। बता दें, राज्य में 21 अक्टूबर को विधान सभा चुनाव होने हैं। हरियाणा में विधान सभा की कुल 90 सीटे हैं। यहां सरकार बनाने के लिए 46 विधायकों का समर्थन चाहिए। मौजूदा समय में बीजेपी की सरकार है, जिसका नेतृत्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कर रहे हैं। यहां कांग्रेस मुख्य विपक्षी दल की भूमिका में है।

  • 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं
  • 90 सीटें हरियाणा विधान सभा में हैं

होमगार्ड के जवानों ने कटोरा लेकर मांगी भीख

  • सीएम को भावनात्मक संदेश देने की कोशिश

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश सरकार के निराशाजनक फैसले के बाद आहत हुए होमगार्ड के जवानों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भावनात्मक संदेश देने के लिए नायाब तरीका अपनाया है। बहराइच में होमगार्ड के सैकड़ों जवानों ने कटोरा लेकर लोगों से भीख मांगी। इन जवानों का कहना है कि सरकार ने हमारी नौकरियों को खत्म कर दिया है, जिससे हम बेरोजगार हो गए हैं। अब हमारे पास भीख मांगने के सिवा कुछ भी नहीं बचा है।
होमगार्ड के जवानों ने कहा कि हम भीख में आए पैसे को मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा करेंगे ताकि बजट का हवाला देकर भविष्य में फिर किसी के पेट पर सरकारों द्वारा लात न मारी जाए। मुख्यमंत्री को दिए गए ज्ञापन में होमगार्डों ने यह मांग की है कि भुखमरी के कगार पर पहुंचने से पहले होमगार्ड जवानों को उत्तर प्रदेश सरकार नौकरी पर वापस ले ताकि हम सभी के परिवार में खुशहाली बहाल हो। वहीं यूपी में होमगाड्र्स की छंटनी के मामले में होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान ने कहा कि 25 हजार होमगाड्र्स को ड्यूटी से हटाने को लेकर अलग-अलग विभागों से चर्चा हुई है। होमगाड्र्स की आवश्यकता की बात पुलिस और गृह विभाग ने माना है। इसका पैसा कम पड़ता है, पुलिस विभाग के पास पैसा नहीं था, इसलिए हटाया गया है। इनकी सेवाएं सुचारू रहेंगी लेकिन ड्यूटी के दिनों में कुछ कटौती की जाएगी।

उपचुनाव: यूपी में आज शाम थम जाएगा चुनाव प्रचार

  • राजनीतिक दलों ने झोंकी पूरी ताकत
  • ग्यारह सीटों पर 21 अक्टूबर को डाले जाएंगे वोट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर हो रहे विधान सभा उपचुनाव के लिए प्रचार-प्रसार आज शाम से ही थम जाएगा। इसलिए भाजपा, सपा, बसपा, कांग्रेस समेत सभी दलों ने अपने-अपने प्रत्याशियों के समर्थन में माहौल बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। क्षेत्र में व्यापक जनसम्पर्क के साथ-साथ जनसभाएं भी हो रही हैं। इन सीटों पर 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे।
उपचुनाव में विपक्षी दल कुछ सीटों के परिणाम में उलटफेर होने की उम्मीद लागाए हुए हैं। इनमें नौ सीटें पहले से बीजेपी के पास हैं। रामपुर और जलालपुर सीटें सपा, बसपा के पास थीं। जो सपा-बसपा के लिए नाक की सीट बन चुकी है।

इन सीटों पर होना है चुनाव

उत्तर प्रदेश की लखनऊ कैंट, बाराबंकी की जैदपुर, चित्रकूट की मानिकपुर, सहारनपुर की गंगोह, अलीगढ़ की इगलास, रामपुर, कानपुर की गोविंदनगर, बहराइच की बलहा, प्रतापगढ़, मऊ की घोसी और अंबेडकरनगर की जलालपुर विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं।

कई सीटों पर कांटे की टक्कर

बसपा के प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली ने कहा कि इस बार उपचुनाव के परिणाम निश्चित तौर पर चौंकाने वाले होंगे। हम पूरी सीटें जीतकर इतिहास रच देंगे। बसपा ही लोगों की पहली पसंद बनेगी। कांग्रेस और सपा से जुड़े लोगों का भी हमें समर्थन मिल रहा है। जबकि कांग्रेस सहारनपुर की गंगोह सीट में लोकसभा प्रत्याशी रहे इमरान मसूद के भाई को चुनाव में उतारकर बाजी पलटने की फिराक में हैं। बीजेपी ने यहां पर नया चेहरा कीरत सिंह को मैदान में उतारा है। सपा प्रत्याशी इंद्रसेन चुनाव जीतने का दावा कर रहे हैं। मऊ की घोसी सीट पर बसपा ने मुस्लिम और दलितों का समीकरण फिट करने का प्रयास किया है। वहीं, सपा ने भी इस सीट पर जीत के लिए अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है। वह अपने प्रत्याशी को साइकिल चुनाव निशान न मिल पाने की सहानुभूति बटोरने में लगी है।

Loading...
Pin It

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.