काम में लापरवाही न बरतें सहकारी समितियां: मुकुट बिहारी

  • सदस्य बनाने का लक्ष्य पूरा नहीं करने पर दी चेतावनी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने काम में लापरवाही बरतने को लेकर सहकारी समितियों को फटकार लगाई है। उन्होंने कहा कि समीक्षा बैठक में प्रस्तुत आंकड़ों से पता चला कि पतंजलि के उत्पाद बेचने की योजना के तहत पश्चिमी यूपी के तीन मंडलों की 281 साघन सहकारी समितियां पहले चरण में सदस्य बनाने का लक्ष्य पूरा नहीं कर पाईं। इन समितियों को 56,200 सदस्य (प्रति समिति दो सौ सदस्य) बनाने का लक्ष्य दिया गया था, लेकिन समितियां पहले चरण में महज 29,104 सदस्य ही बना पाईं। ऐसे में समितियों ने काम में सुधार नहीं किया तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने सभी समितियों से कहा कि जल्द से जल्द सदस्य बनाने का लक्ष्य पूरा किया जाए। उन्होंने बरेली, चित्रकूट और औरैया में इस व्यवसाय के लिए 25-25 समितियों का चयन करने को कहा है। इसके बाद उन्होंने एलडीबी व जिला सहकारी बैंकों के उन शाखा प्रबंधकों व अधिकारियों को शो कॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए, जहां पिछले साल की अपेक्षा वसूली कम हुई है और एनपीए बढ़ा है। उन्होंने यूपीसीबी के एमडी और अपर आयुक्त (बैंकिंग) को एनपीए वसूली के लिए योजना तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी है।

काम में लापरवाही पर दो साल का प्रतिबंध

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। क्षतिग्रस्त ट्रांसफॉर्मर बदलने में लापरवाही करने पर गुरुवार को मध्यांचल प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए एक फर्म को दो साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। इस संबंध में निदेशक तकनीकी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि एमडी संजय गोयल के निर्देश पर हुई जांच में शुभम कंस्ट्रक्शन को रायबरेली में टेंडर नियमों का उल्लंघन करते पाया गया है, जिसके तहत फर्म का टेंडर निरस्त कर दो साल के लिए लखनऊ के अंतर्गत होने वाले किसी भी टेंडर प्रक्रिया में भाग लेने के लिए प्रतिबंधित किया गया है।

Loading...
Pin It