नई सरकार से देश की जनता को ढेर सारी उम्मीदें

  • केंद्र में दोबारा सरकार बनाने जा रही भाजपा को जनता ने दी बधाई
  • रोजगार, आतंकवाद, सीमा सुरक्षा पर विशेष ध्यान देने की अपील
  • सत्ता के साथ मिली बड़ी जिम्मेदारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 के तहत सभी राज्यों में मतगणना जारी है। अब तक के रूझानों से स्पष्ट है कि जनता ने एक बार फिर नरेंद्र मोदी पर भरोसा जताया है। उन्हीं के नाम पर भाजपा को दोबारा सत्ता में आने का मौका मिला है। इसलिए देश की जनता ने मोदी को दोबारा कुर्सी पर बिठाने के फैसले के साथ ही नई जिम्मेदारियां भी दी हैं। जनता के मुताबिक नई सरकार को युवाओं को रोजगार दिलाने, आतंकवाद का सफाया करने, सीमाओं की सुरक्षा करने, जम्मू कश्मीर के मुद्दे को हल करने समेत कई मुश्किल काम करने होंगे। इसके अलावा पांच साल में विकास की गति जितनी थी, उससे दोगुनी गति से विकास कार्यों को करना होगा ताकि हम दुनिया में अपना परचम लहरा सकें।

नई सरकार शिक्षा व्यवस्था में सुधार, महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, उत्पीडऩ और बलात्कार की घटनाओं पर लगाम लगाये। देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ माने जाने वाले मध्यवर्ग की आय बढ़ाने और युवाओं को रोजगार देने की दिशा में काम करे। सरकारी विभागों और योजनाओं के प्रचार-प्रसार पर करोड़ों रुपये खर्च करने के बजाय उतने पैसे से विकास के अन्य काम करवाए। शहरों में ही नहीं गांवों में भी रोजगार की व्यवस्था हो ताकि गांवों से पलायन रोका जा सके।
श्रद्धा सक्सेना, अध्यक्ष अंश वेलफेयर फाउंडेशन

जनता ने भाजपा को दोबारा केंद्र में सरकार बनाने का मौका दिया है। इससे स्पष्ट है कि जनता को मोदी पर विश्वास है, उन्हें लगता है कि देश सुरक्षित हाथों में है। इसलिए सत्ता में दोबारा आने पर मोदी को चाहिए कि पिछले पांच सालों में जिस तरह से कड़े फैसले लेकर भ्रष्टाचार समाप्त किया। विकास के लिए काम किया। उससे कहीं अधिक बेहतर ढंग से आने वाले पांच साल में विकास के काम करें। भ्रष्टाचार पर पूरी तरह से अंकुश लगायें। साथ ही देश की सीमाओं की सुरक्षा और आतंकवाद के सफाये को लेकर भी ठोस काम होना चाहिए।
अंजलि शर्मा, गृहणी

नई सरकार से मेरी उम्मीद है कि सरकार पर्यावरण और जनसंख्या नियंत्रण पर भी काम करे। साथ ही देश ने आपको विकास के लिए चुना है विकास सरकार का पहला मुद्दा होना चाहिए। सोशल मीडिया के दुरुपयोग से देश की आंतरिक सुरक्षा को खतरा है। इसलिए फेक आईडी को समाप्त करने के लिए भी कुछ कदम उठाएं।
विशाल मिश्रा, युवा बिजनेसमैन

देश में सरकार किसी की भी बने हमारी स्थिति में तो कोई परिवर्तन आने वाला नहीं है। हम जो काम पहले करते थे, वही काम आगे भी करते रहेंगे। ये अलग बात है कि आज चुनाव के नतीजे आने के बाद हर तरफ खुशियां मनाई जा रही हैं। लेकिन यह जश्न सिर्फ दो-तीन दिनों तक ही रहेगा उसके बाद सब कुछ सामान्य हो जाएगा।
पवन राय, ऑटो ड्राईवर

सरकारी दफ्तरों में भी चुनाव परिणामों की ही चर्चा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लोकसभा चुनाव परिणाम की मतगणना जारी है। इस बीच लखनऊ में विभिन्न सरकारी दफ्तरों, अस्पतालों, पान की दुकानों, होटलों, चाय की दुकानों और गली- मोहल्ले में भी चुनावी परिणाम को लेकर चर्चाओं का दौर जारी है।
लखनऊ नगर निगम कार्यालय में दोपहर तक चुनावी रुझानों को लेकर कर्मचारियों से लेकर अफसरों तक में उत्सुकता और बेचैनी नजर आई। जिन लोगों से पास स्मार्ट मोबाइल था वे इंटनेट पर मतगणना की पल-पल की अपडेट देखते रहे और साथियों के साथ चुनाव पर चर्चा करते दिखे। एनडीए, यूपीए और गठबंधन समेत अनेक दलों के चाहने वाले अपने-अपने कैंडीडेट को जिताने और हार की वजह को लेकर बहस करते नजर आये। हर किसी के पास अपने तर्क थे। कई जगहों पर तो बहस इतना आगे बढ़ गई कि नोक-झोंक की नौबत आ गई। नगर निगम मुख्यालय स्थित शर्मा चाय की दुकान के बाहर सुबह से ही लोग अपने दोस्तों व मिलने वालों के संग चर्चा मे व्यस्त दिखे। इस बीच लोग यह भी चर्चा कर रहे थे कि अखिर परिणाम किसके पक्ष में आएगा और किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेंगी। हालांकि दोपहर तक सब लोग स्पष्ट रूप से कहने लगे कि अब तो केंद्र में सरकार भाजपा की ही बनेगी। नरेंद्र मोदी दोबारा पीएम बनेंगे। वहीं लखनऊ विश्वविद्यालय के बाहर चाय की दुकान पर बैठे युवाओं में मोदी को लेकर बहस होती दिखाई दी। यहां पर कुछ युवा मोदी का प्रधानमंत्री बनना तय मान रहे थे तो कुछ लोगों का मानना था कि भाजपा की सीटें पहले से कम होंगी। लेकिन पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी तो बड़े काम होंगेे।

चिकित्सकों में भी उत्साह

बलरामपुर अस्पताल में भी लोकसभा चुनाव के रुझानों को लेकर ही चर्चा होती नजर आई। रुझानों को देखकर सभी लोगों ने कहा कि भारत का मतदान बहुत जागरूक है। विश्व ने भी इसका लोहा मान लिया है। आज हम सभी खुश हैं कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के सहभागी बने हैं। यदि दोबारा केंद्र में भाजपा की सरकार बने तो आयुष्मान योजना को और बेहतर करने की जरूरत है। इसका लाभ मध्यम वर्ग को भी मिलना चाहिए। वहीं डॉक्टरों ने कहा कि आये दिन अस्पतालों और डॉक्टरों पर हो रहे हमलों को लेकर भी सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।

Loading...
Pin It