हमको बुलेट ट्रेन नहीं जवानों के लिये बुलेट पू्रफ जैकेट चाहिये: अखिलेश यादव

  • मिर्जापुर में गठबंधन की संयुक्त रैली में सपा प्रमुख ने भाजपा पर साधा निशाना
  • देश को बना दिया गया कर्जदार, सभी वर्गों के लोगों को पहुंचाया गया दुख

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
मिर्जापुर का अघवार गांव। तापमान शायद 44 के पार होगा। आसमान से आग बरस रही है पर मंच पर मायावती और अखिलेश यादव को देखकर लोगों को मानो गर्मी लग ही नहीं रही है। खचाखच भरा मैदान। अखिलेश यादव के हेलीकॉप्टर से उतरने के कुछ मिनट बाद ही मायावती का हेलीकॉप्टर उतरा और जनता ने दोनों के नारे लगाने शुरू कर दिये। सामने भीड़ नीले और लाल-हरे झंडे लहरा रही है और दोनों नेताओं के नाम लेकर नारेबाजी कर रही है।
मंच पर पहले मायावती ने बोलना शुरू किया और कांग्रेस और भाजपा दोनों पर हमला बोला। मायावती के भाषण के बीच में उत्साही सपा नेताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी जिससे कुछ पल माया रुकीं पर बिना कुछ कहे अपना भाषण जारी रखा। आरक्षण के मुद्दे पर उन्होंने केंद्र सरकार पर तीखे हमले किये और निजी क्षेत्र में आरक्षण की वकालत की और कहा कि मोदी जी के सारे काम इन्हीं पूंजीपतियों के लिये निजी क्षेत्र में किये जा रहे हैं। माया ने कहा कि कल यहां पीएम मोदी आये थे और शौचालय पर झूठ बोला। अखिलेश यादव ने कहा था कि हमको ऐसे शौचालय चाहिये जिसमें दरवाजा भी हो और पानी भी। अखिलेश ने कहा कि आज अंतिम दिन है प्रचार का, यहां जितने लोग हैं उन्होंने पांच साल दिल्ली के और दो साल यूपी सरकार के दिन देखे हैं। समाज का कोई वर्ग नहीं बचा जिनको इन्होंने दुख नहीं पहुंचाया हो। आज सभी लोग इस दुख का बदला लेने को तैयार बैठे हैं। नोटबंदी के बाद लोगों को लग रहा था कि एकाउंट में पैसा आ जायेगा पर किसी के पास एक रूपया भी नहीं आया। कह रहे थे नोटबंदी से आतंकवाद खत्म हो जायेगा, नक्सलवाद खत्म हो जायेगा पर यह और बढ़ गया। सरकार जवाब नहीं देना चाहती। आज बुलेट ट्रेन नहीं चाहिये जवानों को बुलेट प्रूफ जैकेट चाहिये। आज नौकरी और शिक्षा जो लोगों को मिल जाती थी पर हमारे इस हक को भी छीन लिया गया। देश को लगातार कर्जदार बनाया जा रहा है। देश को कर्ज में डुबो दिया गया। यह देश बचाने की बात कर रहे हैं पर देश को लूटने वालों को तो इन्होंने भागने का मौका दे दिया। सपा प्रमुख ने गठबंधन के प्रत्याशियों को भारी मतों से जिताने की अपील की।

पीएम पद के ‘त्याग‘ से कांग्रेस पलटी आजाद बोले बड़े दल को मिले मौका

  • हम दावेदारी नहीं पेश करेंगे, यह कहना गलत है

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव गुलाम नबी आजाद पीएम पद के त्याग संबंधी अपने बयान से एक दिन बाद ही पलट गए। आजाद ने कहा कि यह सच नहीं है कि कांग्रेस पार्टी पीएम पद के लिए दावेदारी नहीं पेश करेगी। कांग्रेस देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी है। अगर पांच साल सरकार चलाना है तो जाहिर है कि सबसे बड़ी पार्टी को ही मौका मिलना चाहिए।
आजाद ने कल बयान दिया था कि कांग्रेस का लक्ष्य किसी भी तरह से एनडीए को सरकार बनाने से रोकना है। एक दिन पहले दिए बयान में उन्होंने कहा था कि यदि कांग्रेस को गठबंधन में पीएम का पद नहीं मिलता है, तब भी उसे कोई समस्या नहीं होगी। कांग्रेस के सीनियर लीडर गुलाम नबी आजाद ने कहा था कि पार्टी का एकमात्र उद्देश्य एनडीए को केंद्र में एक बार फिर से सरकार गठन से रोकना है। उन्होंने कहा था, हमारा लक्ष्य हमेशा यह रहा है कि एनडीए की सरकार सत्ता में वापस नहीं लौटनी चाहिए।

ममता के करीबी राजीव कुमार को झटका, गिरफ्तारी से रोक हटी

  • अग्रिम जमानत के लिए हाईकोर्ट जाने के दिए निर्देश, सीबीआई जारी करेगी नोटिस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी अधिकारी और कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को तगड़ा झटका दिया है। शीर्ष अदालत ने शारदा चिटफंड घोटाला मामले में राजीव कुमार को गिरफ्तार करने और हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर रोक संबंधी प्रोटेक्शन को वापस ले लिया है। कोर्ट ने उनको अग्रिम जमानत के लिए हाईकोर्ट का रुख करने के लिए 7 दिन का समय भी दिया है।
शीर्ष अदालत ने कहा कि अगर राजीव कुमार सात दिन के अंदर कलकत्ता हाईकोर्ट का रुख नहीं करते हैं और उनको वहां से अग्रिम जमानत नहीं मिलती

Loading...
Pin It