निवेश के नाम पर लाखों की ठगी

  • विभूतिखंड में दर्ज हुआ मुकदमा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में आये दिन जालसाजी की घटनाएं हो रही हैं। वहीं पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामलों को ठंडे बस्ते में डाल देती है। निवेश के नाम पर जालसाजी करने वाले शक्ति इंफ्राकॉन के डायरेक्टर के खिलाफ विभूतिखण्ड थाने में एक और एफआईआर दर्ज हुई है। कम्पनी निदेशक घनश्याम यादव पर 18 लोगों से चालीस लाख रुपये हड़पने का आरोप है।
रायबरेली निवासी दिनेश कुमार के मुताबिक उन्होंने शक्ति इंफ्राकॉन में दो लाख 17 हजार रुपये का निवेश किया था। डायरेक्टर घनश्याम यादव ने निवेश करने पर प्रतिमाह 25 हजार रुपये देने का दावा किया था। दिनेश ने जालसाज की बातों पर भरोसा कर अपने साथ कई लोगों को जोड़ते हुये उनसे भी निवेश कराया था। शुरुआम में दो महीने तक उन्हें मुनाफे की रकम दी गई। इसके बाद घनश्याम यादव टाल मटोल करने लगा। इस बीच घनश्याम और उसके साथी अंबुज ने कम्पनी बंद कर दी। इंस्पेक्टर विभूतिखण्ड राजीव द्विवेदी ने बताया कि घनश्याम यादव के गिरफ्तार होने की जानकारी लगने पर दिनेश ने उनसे सम्पर्क किया था। उन्होंने बताया कि ठग के फरार साथियों की तलाश की जा रही है। वहीं, पहले से दर्ज मुकदमे में नई एफआईआर को जोड़ा गया है। इंस्पेक्टर ने बताया कि दिनेश कुमार के अलावा साकेत कुमार, विजय कुमार मौर्य, सतीश सोनकर, वीरेन्द्र कुमार, अशोक भारद्वाज, नितेश तिवारी, लालता प्रसाद, ललित सिंह, राहुल मौर्य, अनिरूद्घ मौर्य, विकास सिंह पटेल, पुष्पा पटेल, शुभम मिश्र, दिवाकर मिश्र, दिनेश यादव, आशुतोष श्रीवास्तव, डा.जेपी सक्सेना और उमाशंकर विश्कर्मा के साथ धोखाधड़ी की गई है।

एकांश को हाईस्कूल में मिले 95.6 प्रतिशत अंक

लखनऊ। (4पीएम न्यूज़ नेटवर्क)लखनऊ पब्लिक कॉलेज राजाजीपुरम के एकांश वर्मा को हाईस्कूल में आईसीएससी बोर्ड में 95.6 प्रतिशत अंक मिले। उनकी सफलता पर स्कूल व परिवार के लोगों ने खुशी जताई।

 

Loading...
Pin It