वजीरगंज में दबंगों ने मकान और दुकान में की तोडफ़ोड़, अपहरण और जान से मारने की दी धमकी

  • वजीरगंज थानाध्यक्ष पर मिलीभगत का आरोप कार्रवाई नहीं हुई तो आत्मदाह करेंगी पीडि़ताएं
  • एसएसपी से लगाई जान-माल की सुरक्षा की गुहार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। वजीरगंज में दबंगों ने जमकर उत्पात मचाया। वे मकान व दुकान में घुस गए और तोडफ़ोड़ की। महिलाओं के विरोध करने दबंगों ने एकता अग्रवाल के ऊपर रिवाल्वर तान दी और अपहरण व जान से मारने की धमकी दी। पीडि़ताओं ने इसकी शिकायत डॉयल 100 और एसएसपी को फोन से दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। पीडि़ताओं ने एसएसपी को पत्र लिखकर दबंगों के खिलाफ कार्रवाई करने और जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई है।
एसएसपी को भेजे पत्र में एकता अग्रवाल, सोनी, उर्मिला गुप्ता और सरस्वती गुप्ता आदि ने लिखा है कि झाऊ लाल गुईन रोड थाना वजीरगंज में वे लोग मकान संख्या 177/ 71 रहते हैं। यहां एकता अग्रवाल की दुकान आसी प्रिंटिंग प्रेस के नाम से है, जिसको वजीरगंज थानाध्यक्ष और समील शमशी, चांद शानू, अमन जाफरी और कई अज्ञात दबंगों द्वारा जबरन खाली कराने का प्रयास किया जा रहा है। पत्र में कहा गया है कि विरोध करने पर दबंगों ने नौ जनवरी को मकान व दुकान में तोडफ़ोड़ की और एकता अग्रवाल के ऊपर रिवाल्वर तान दी। दबंगों ने अपहरण और जान से मारने की धमकी दी। यह भी कहा गया है कि समील समशी, चांद शानू और अमन जाफरी का लखनऊ के विभिन्न थानों में आपराधिक रिकार्ड है। आरोप है कि वजीरगंज थानाध्यक्ष भी निजी हितों की पूर्ति के लिए दबंगों का साथ दे रहे हैं। पीडि़ताओं ने बताया कि शिकायत के बावजूद वजीरगंज थाना पुलिस ने दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। वे खुलेआम घूम रहे हैं। पत्र में कहा गया है कि यदि कार्रवाई नहीं की गई तो पीडि़ताएं आत्मदाह करने के लिए मजबूर होगी।

 

Loading...
Pin It