मंदिर पर सुनवाई टलने से आक्रोशित है जनता: चंपत

  • कहा, हिन्दुओं की आस्था को समझे कोर्ट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने राम मंदिर मामले पर सुनवाई टलने को लेकर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि हिन्दुओं का विश्वास है कि सुप्रीम कोर्ट से फैसला मंदिर बनाने के पक्ष में ही आयेगा। इसलिए कोर्ट को भी हिन्दुओं की आस्था को समझना होगा। राम मंदिर निर्माण के लिये पांच सौ साल से संघर्ष चल रहा है और अब मंदिर की प्रतीक्षा सहन से बाहर हो रही है। इसलिए 25 नवम्बर को अयोध्या में आयोजित धर्मसभा में करीब एक लाख लोग पहुंचेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि मंदिर निर्माण के लिये पत्थरों की तराशी का कार्य लगभग पूरा हो गया है। अब सिर्फ उन्हें रखने का काम ही शेष है।
चंपत राय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि वह राम मंदिर मुद्दे को लेकर सांसदों से कानून बनवाने का आग्रह करेंगे। उन्होंने कहा कि सवा सौ करोड़ हिन्दू समाज की भावनाएं प्राथमिकता पर आनी चाहिए। इस उद्देश्य से धर्मसभा का आयोजन किया जा रहा है। तहसील और ब्लॉक स्तर पर 5000 स्थानों पर सभा होगी। वहीं विहिप के प्रान्त संगठन मंत्री भोलेन्द्र ने बताया कि उनकी टीम जनता के बड़े और व्यापक प्रतिनिधिमण्डल के साथ संतों के नेतृत्व में स्थानीय सांसदों से मिलेगी और उन्हें संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बनाने का मार्ग प्रशस्त करने का आग्रह करेगी। इस अवसर पर विहिप के केन्द्रीय मंत्री राजेन्द्र पंकज, व सह प्रान्त मंत्री हरि अग्रवाल भी मौजूद रहे।

Pin It