युवाओं को बेहतर प्लेटफार्म उपलब्ध कराएगा फोटो एक्सपो: केशव

  • डिप्टी सीएम ने इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में दो दिवसीय फोटो एक्सपो का किया उद्घाटन
  • पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी समेत कई नामचीन हस्तियों ने की शिरकत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश सरकार के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि सरकार युवाओं को रोजगार के अवसर दिलाने और उनको अपनी कला एवं क्षमता का अद्भुत प्रदर्शन करने के मौके उपलब्ध कराने की हर संभïव कोशिश कर रही है। राजधानी के इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में आयोजित दो दिवसीय फोटो एक्सपो की जितनी भी सराहना की जाए वह कम है। इस कार्यक्रम में युवाओं को अपनी कला का प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा, साथ ही उन्हें क्षेत्र के अनुभवी लोगों का मार्गदर्शन भी मिलेगा, जो उन्हें जीवन में और अधिक बेहतर करने की प्रेरणा देगा। सरकार ऐसे कार्यक्रमों को बढ़ावा देने का प्रयास करेगी। इस कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी समेत कई फोटग्राफरों, लेखकों और नामचीन हस्तियों ने भी शिरकत की।
गोमतीनगर स्थित इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में उत्तर प्रदेश फोटो फेयर ट्रस्ट की तरफ से पांचवां उत्तर प्रदेश फोटो एक्सपो आयोजित किया जा रहा है। यह दो दिवसीय आयोजन 23 सितंबर तक चलेगा। इस एक्सपो में विभिन्न कम्पनियों के स्टॉल के साथ-साथ कैमरा एवं फोटो से जुड़ी अन्य जानकारियों से अवगत कराने के लिए कार्यशाला का आयोजन भी किया गया है। जिसके लिए कई सत्र आयोजित किए जाएंगे। इसमें फोटोग्राफी विधा के विशेषज्ञ लोगों को हाईटेक-तकनीक की जानकारी देने के साथ ही अपने अनुभवों से भी अवगत कराएंगे। यहां पुस्तकों की प्रदर्शनी भी लगी है।

मायावती के फैसले से बीजेपी को मिली राहत

  • लोकसभा चुनाव में गठबंधन पर असमंजस की स्थिति बरकरार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। छत्तीसगढ़ में बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती और कांग्रेस से अलग हो चुके अजीत जोगी के बीच चुनाव पूर्व गठबंधन के ऐलान से भारतीय जनता पार्टी बड़ी राहत महसूस कर रही है। महागठबंधन की संभावनाओं से आशंकित बीजेपी को अब लग रहा है कि मायावती के एमपी और राजस्थान के स्टैंड से बीजेपी के लिए इन राज्यों में राह कुछ आसान हो सकती है। पार्टी को लग रहा है कि अगर बीएसपी तीनों ही राज्यों में कांग्रेस से अलग चुनाव लड़ती है तो बीजेपी विरोधी वोट बंट जाएगा, जिसका फायदा कांग्रेस को मिलेगा।
भाजपा नेताओं के मुताबिक पार्टी छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान के विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करके लोकसभा चुनाव के लिए माहौल बनाना चाहती है। पार्टी को लग रहा था कि अगर महागठबंधन की ओर बढ़ रहे विपक्ष में कांग्रेस ने इन तीन राज्यों में बीएसपी के साथ सीटों का तालमेल कर लिया तो बीजेपी की राह मुश्किल हो जाएगी। इसकी वजह यह है कि इन तीनों ही राज्यों में बीएसपी का 3 से 6 फीसदी तक वोट है और पिछली बार के चुनावी नतीजों को देखते हुए यह वोट काफी महत्वपूर्ण है। पार्टी को लग रहा है कि अगर बीएसपी तीनों ही राज्यों में कांग्रेस से अलग चुनाव लड़ती है तो बीजेपी विरोधी वोट बंट जाएगा, जिसका फायदा कांग्रेस को मिलेगा। वहीं इस बात की भी चर्चा है कि मायावती समाजवादी पार्टी और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के साथ मिलकर तीसरा मोर्चा बना सकती हैं। यह तीसरा मोर्चा राजस्थान चुनावों को ध्यान में रखकर बनाया जाएगा। माना जा रहा है कि अगले साल लोकसभा चुनाव से पहले बीएसपी की ओर से कांग्रेस को यह तीसरा झटका होगा। हालांकि बीजेपी उपाध्यक्ष प्रभात झा का कहना है कि बीएसपी अलग लड़े या मिलकर, इससे बीजेपी को फर्क नहीं पड़ेगा। बीजेपी तीनों ही राज्यों में कंफर्टेबल है।

दिल्ली पुलिस ने रोकी सपा की लोकतंत्र बचाओ यात्रा

  • जंतर-मंतर पर होने वाला था यात्रा का समापन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी है। उत्तर प्रदेश के हर कोने से सपा की लोकतंत्र बचाओ साइकिल यात्राएं निकल रही हैं जिसमें सैकड़ों की संख्या में सपाई मौजूद हैं। इन सभी साइकिल यात्राओं का समापन देश की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर होने वाला है, लेकिन सपा की साइकिल यात्राओं के समापन के पहले ही दिल्ली की पुलिस ने समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका देते हुए उस पर रोक लगा दी है, जिससे सपा को बड़ा झटका लगा है।
दिल्ली पुलिस ने 23 सितंबर को गाजियाबाद से जंतर-मंतर तक सपा की साइकिल यात्रा पर रोक लगा दी है। यहां जंतर-मंतर पर साइकिल यात्रा का समापन होना था। इसमें सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव सहित पार्टी के कई बड़े नेताओं के शामिल होने की संभावना थी। लोकसभा चुनाव की तैयारियों का आगाज करते हुए सपा ने ‘सामाजिक न्याय एवं प्रजातंत्र बचाओ-देश बचाओ’ साइकिल यात्रा 27 अगस्त से गाजीपुर से शुरू की थी। दिल्ली पुलिस के साइकिल यात्रा पर रोक लगाने से अखिलेश यादव को बड़ा झटका लगा है।

इंटरनेट से कॉल कर रंगदारी मांगने वाले को एसटीएफ ने दबोचा

  • गोमती नगर के विराम खंड में रहने वाले युवक के पास से मोबाइल व आधार कार्ड बरामद

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश में साइबर क्राइम की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। एसटीएफ और साइबर सेल की टीम ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वालों को पकडऩे की हर संभव कोशिश कर रही है। इसी कड़ी में इंटरनेट कॉल कर गोंडा के व्यापारी से 25 लाख रुपये रंगदारी मांगने के आरोप में एसटीएफ ने एक युवक को गोमतीनगर से गिरफ्तार किया। आरोपित धीरेंद्र शर्मा यहां विराम खंड में रहता था।
सीओ एसटीएफ सत्यसेन के मुताबिक 23 अगस्त को आरोपित ने सिविल लाइन कोतवाली नगर गोंडा निवासी संतोष कुमार तिवारी को इंटरनेट कॉल किया था। आरोपित ने मोबाइल नंबर 16232084333 से 25 लाख रुपये की रंगदारी मांगी थी और विरोध पर गाली गलौज किया था। इस मामले में एसटीएफ से मदद मांगी गई थी। मामले की पड़ताल में पता चला कि संतोष से रंगदारी मांगने वाला ग्वारी चौराहे पर किसी से मिलने आने वाला है। इसके बाद एसटीएफ और गोंडा पुलिस ने घेराबंदी कर उसे दबोच लिया। पूछताछ में आरोपित धीरेंद्र शर्मा ने बताया कि उसकी मोबाइल फोन की दुकान है। उसका अपने परिचित मोहित जायसवाल से लेनदेन का मामला था। इसके कारण उसने इंटरनेट कॉल करके संतोष से पैसे मांगे थे। आरोपित के पास से दो मोबाइल फोन, एक आधार कार्ड और छह सौ रुपये बरामद किए गए हैं। धीरेंद्र को गोंडा पुलिस अपने साथ लेकर चली गई।

शराब की वजह से हर साल मरते हैं 30 लाख लोग: डब्ल्यूएचओ

  • एड्स, हिंसा, सडक़ हादसे में मरने वालों से ज्यादा है यह आंकड़ा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि शराब की वजह से दुनिया भर में प्रतिवर्ष 30 लाख लोगों की मौत होती है। यह एड्स, हिंसा और सडक़ हादसों में होने वाली मौतों के आंकड़े से भी ज्यादा है। इस तरह की मौत खास तौर पर पुरुषों में अधिक देखने को मिलती है।
शराब और स्वास्थ्य पर संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी की यह नवीनतम रिपोर्ट बताती है कि दुनियाभर में हर साल होने वाली 20 में से एक मौत शराब की वजह से होती है। इनमें शराब पीकर गाड़ी चलाने, हिंसा करने, बीमारी और इससे जुड़ी दूसरी विकृतियों की वजह से होने वाली मौतें भी शामिल हैं। इनमें तीन चौथाई से ज्यादा पुरुष होते हैं। शराब के हानिकारक परिणामों का प्रभाव उनके परिजन और समाज के लोगों पर हिंसा, चोटों, मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं व कैंसर और हृदयाघात जैसी बीमारियों के तौर पर पड़ता है।

Pin It