पीएम मोदी ने सुरक्षा बलों पर की सर्जिकल स्ट्राइक : राहुल गांधी

 

  • ओलांद के बयान को सरकार ने किया खारिज, कहा कंपनी का नहीं किया चयन

फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के बयान के बाद राफेल सौदे पर घमासान तेज, कांग्रेस ने बोला हमला

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। राफेल सौदे पर फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के ताजा बयान के बाद सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस ने इस मामले पर मोदी सरकार पर हमला बोल दिया है। कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर इस सौदे को लेकर देश को धोखा देने व सुरक्षा बलों पर सर्जिकल स्ट्राइक करने का आरोप लगाया है। वहीं रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि फ्रांस के पूर्व राष्टï्रपति के बयान की पड़ताल की जा रही है। पूरे डील में फ्रांस या भारत किसी भी सरकार का कोई रोल नहीं था। फ्रांस ने भी भारत सरकार के रुख का समर्थन किया है। ओलांद ने कहा था कि राफेल सौदे के लिए भारत सरकार ने अनिल अंबानी की रिलायंस का नाम प्रस्तावित किया था और डसॉल्ट एविएशन कंपनी के पास दूसरा विकल्प नहीं था।
ओलांद के ताजा बयान पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर हमला तेज कर दिया है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार और रिलायंस कंपनी के मालिक अनिल अंबानी पर निशाना साधा। राहुल गांधी ने राफेल सौदे पर ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उद्योगपति अनिल अंबानी ने संयुक्त रूप से रक्षा बलों पर एक लाख 30 हजार करोड़ की सर्जिकल स्ट्राइक की है। प्रधानमंत्री मोदी आपने हमारे जवानों की शहादत का अपमान किया है, आपने भारत की आत्मा से धोखा किया है। कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने बंद कमरे में राफेल सौदे को लेकर बातचीत की और इसे बदलवाया। अब हमें पता चला कि मोदी ने दिवालिया अनिल अंबानी को अरबों डॉलर का सौदा दिलवाया। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री ने भारत के साथ विश्वासघात किया है। उन्होंने हमारे सैनिकों के लहू का अपमान किया है। इसके पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर राफेल मामले में देश को गुमराह करने का आरोप लगाया था। विपक्षी दल ने एचएएल के पूर्व प्रमुख टी सुवर्णा राजू के बयान का जिक्र करते हुए रक्षा मंत्री से इस्तीफा मांगा था। इस पर वित्त मंत्री अरुण जेटली और रक्षा मंत्री सीतारमण ने जवाब दिया कि यह समझौता दो प्राइवेट कंपनियों के बीच हुआ था। इसमें सरकार का कोई हाथ नहीं था।

स्तरहीन राजनीति कर रहे राहुल: स्मृति
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रधानमंत्री पीएम मोदी पर तीखे हमलों पर केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निम्न स्तर की राजनीति करने का आरोप लगाया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि अब लोगों को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि देश का चौकीदार असल में क्या है। साथ ही राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर मोदी की चुप्पी और भगोड़े कारोबारी विजय माल्या को वापस लाने में सरकार की नाकामी की ओर इशारा करते हुए आपत्तिजनक कमेंट किए थे। इस पर स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी की टिप्पणियां उनकी परवरिश को दर्शाती हैं। इस तरह की टिप्पणी कर वह निम्न स्तर की राजनीति का उदाहरण पेश कर रहे हैं।

कंपनी बोली, हमने चुना रिलायंस को
फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के बयान के बाद मचे घमासान के बीच फ्रांसीसी विमानन कंपनी दसॉ ने राफेल सौदे पर रिलायंस समूह और भारत सरकार के रुख की पुष्टि की है। कंपनी ने कहा है कि उसने खुद ही इस सौदे के लिए भारत की कंपनी रिलांयस को चुना है। एक जारी बयान में कंपनी ने कहा है कि रिलायंस समूह को रक्षा प्रक्रिया 2016 नियमों के मुताबिक चुना गया है। राफेल सौदा भारत और फ्रांस सरकार के बीच एक अनुबंध था, लेकिन यह एक अलग तरह का अनुबंध था. इसमें दसॉ एविएशन को खरीद मूल्य के 50 फीसदी निवेश भारत में बनाने के लिए प्रतिबद्ध था. इसमें मेक इन इंडिया की नीति के अनुसार दसॉ एविएशन ने भारतीय कंपनी रिलायंस समूह के साथ साझेदारी करने का फैसला किया। यह दसॉ एविएशन की पसंद थी।

राष्ट्रपति सुरक्षा को खतरे में डाल रही केंद्र सरकार: केजरीवाल
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया कि राफेल सौदे पर अहम तथ्यों को छिपाकर क्या मोदी सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में नहीं डाल रही है? मोदी सरकार अब तक जो कहती आ रही है, पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति का बयान बिल्कुल उसके उलट है।

भारत-पाक के विदेश मंत्रियों की मुलाकात रद्द, कहा इमरान का चेहरा बेनकाब

  • बीएसएफ जवान के शव से बर्बरता व तीन पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद लिया फैसला
  • पाकिस्तान के पीएम इमरान की पेशकश पर न्यूयॉर्क में होनी थी बैठक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। न्यूयॉर्क में होने वाली भारत-पाक वार्ता को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की मुलाकात रद्द कर दी गई है। भारत ने यह फैसला जम्मू-कश्मीर में बीएसएफ जवान के शव के साथ पाक आर्मी द्वारा की गई बर्बरता और आतंकियों द्वारा तीन पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद लिया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से बातचीत की पेशकश करने के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय पाकिस्तान से बातचीत पर विचार कर रहा था और दोनों देशों के विदेशमंत्रियों की बैठक न्यूयॉर्क में होनी थी।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में भारतीय जवान की हाल में हुई जघन्य हत्या और पाकिस्तान की ओर से आतंकवाद का महिमामंडन करने का निर्णय दिखाता है कि वह अपना रास्ता कभी नहीं बदलेगा। नई शुरुआत के लिए वार्ता का प्रस्ताव देने के पीछे पाकिस्तान के शैतानी एजेंडे का पर्दाफाश हो गया और पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान का असली चेहरा दुनिया के सामने आ गया है। ऐसे माहौल में पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह की वार्ता का कोई मतलब नहीं है। विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात नहीं होगी।

बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए सरकार प्रतिबद्ध: सीएम योगी

  • कहा, कोई भी परिवार राशन कार्ड से नहीं रहेगा वंचित
  • गोरखपुर में सीएम ने किया 87 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गोरखपुर में 87 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है। हर व्यक्ति को सरकार की तमाम कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है। सीएम योगी दो दिन के दौरे पर गोरखपुर हैं। वे कल बीआरडी मेडिकल कॉलेज हाल में प्रधानमंत्री द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लांचिंग कार्यक्रम में भाग लेंगे।
सीएम योगी ने कहा कि कोई भी परिवार राशन कार्ड से वंचित नहीं रह पाएगा। अंत्योदय व पात्र गृहस्थी के राशन कार्ड भी आज उपलब्ध कराए गए हैं जो परिवार छूट गए हैं, उनको राशन कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे। उन्होंने कहा कि मार्च 2017 में जब आपने हमारी सरकार बनाई तो प्राथमिकताएं तय की गईं थीं। जिसके बाद योजनाओं का लाभ गरीबों को दिलाने का अभियान आरंभ हुआ। तब से अब तक 11 लाख गरीबों का ग्रामीण क्षेत्रों में व चार लाख शहरी गरीबों को आवास उपलब्ध कराया गया है। सरकार योजनाओं का लाभ पहुंचाने में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं करती है।

Pin It