छोटे कारखानों में भी डिजास्टर मैनेजमेंट पर दें ध्यान: रामनाईक

  • राज्यपाल ने केमिकल एंड इंडस्ट्रियल डिजास्टर मैनेजमेंट सेमिनार का किया उद्घाटन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्यपाल रामनाईक ने आज फिक्की की तरफ से आयोजित केमिकल एंड इंडस्ट्रियल डिजास्टर मैनेजमेंट सेमिनार का उद्घाटन किया। इस दौरान राज्यपाल रामनाईक ने बड़ी इंडस्ट्री पर ध्यान देने के साथ ही छोटे कारखानों में भी डिजास्टर मैनेजमेंट से जुड़ी बातों पर ध्यान देने की सलाह दी है। इस कार्यक्रम में प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, मुख्य सचिव राजीव कुमार और इंडस्ट्रियल कमिश्नर अनूप चंद्र पांडे भी मौजूद रहे।

राज्यपाल रामनाईक ने कहा कि प्रदेश में औद्योगिक विकास से जुड़े सभी छोटे और बड़े कारखानों को अपनी जिम्मेदारी को समझना होगा। कारखानों में काम करने वाले कर्मचारियों की सुरक्षा से लेकर कारखानों में होने वाली आपदा से निपटने का पूरा इंतजाम करना होगा। कारखानों में काम करने वाले कर्मचारियों की जागरूकता को बढ़ाना होगा। राज्यपाल ने कहा कि यूपी में इंवेस्टर्स समिट के बाद 4 लाख से अधिक कंपनियों की तरफ से उत्तर प्रदेश सरकार को निवेश के प्रपोजल आए हैं। हर इंडस्ट्रियलिस्ट चाहता है कि उसके पैसे समय पर वापस हों। इसलिए वह इन्वेस्टमेंट करता है। लेकिन उसके लिए माहौल सकारात्मक होना भी जरूरी है। सबसे जरूरी है कि प्रदेश में 24 घंटे बिजली हो, प्रदेश की कानून व्यवस्था बेहतर हो और यदि ऐसा हुआ तो और अधिक निवेश आएगा।
राज्यपाल ने प्रदेश सरकार के वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट की सराहना की । कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने कहा कि सरकार औद्योगिक क्षेत्र में विकास की दिशा में लगातार काम कर रही है। इंवेस्टर्स समिट के बाद प्रदेश में उद्योगों को लगाने वालों का तांता लगा हुआ है, इससे लाखों लोगों को रोजगार मिलेंगे। इस कार्यक्रम की शुरुआत फिक्की के डिप्टी सेक्रेटरी जनरल निरंकार सक्सेना ने की।

जल संरक्षण पर भी होगा काम

फिक्की के डिप्टी डायरेक्टर निरंकार सक्सेना के मुताबिक उत्तर प्रदेश जल निगम के साथ मिलकर डिजास्टर मैनेजमेंट का प्लान तैयार करेंगे। पीपीपी मॉडल पर जल संरक्षण के लिए ठोस काम किया जायेगा। इसी कड़ी में 15 अगस्त को एक प्रोग्राम ‘हर जिले में वाटर सेव कार्यक्रम’ आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर हम गंगा को माता मानते हैं और भगवान को मानते हैं तो पानी को पहले स्वछ करना होगा।

काम आया रामदेव का दबाव कैबिनेट ने पतंजलि फूड पार्क की जमीन की मांग मानी

  • 11 अन्य प्रस्तावों पर भी कैबिनेट ने लगाई मुहर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। मेगा फूड पार्क को लेकर आखिर बाबा रामदेव का दबाव काम कर गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आज हुई कैबिनेट बैठक में फूड पार्क को जमीन देने के प्रस्ताव पर मुहर लग गई है। लोक भवन में आयोजित कैबिनेट बैठक में इसके साथ 11 अन्य प्रस्ताव पर भी सहमति जताई गई।
कैबिनेट मंत्री तथा प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि बैठक में बाबा रामदेव के मेगा फूड पार्क को ग्रेटर नोएडा में जमीन देने के साथ ही 11 प्रस्तावों पर कैबिनेट ने अपनी मुहर लगा दी है। प्रदेश सरकार बाबा रामदेव के प्रतिष्ठान पतंजलि मेगा फूड पार्क को ग्रेटर नोएडा में जमीन देगी। इसमें बड़ा निवेश होगा, जिससे दस हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा। पतंजलि आयुर्वेद में पतंजलि मेगा फूड पार्क भी शामिल किया गया है। इस प्रोजेक्ट में पतंजलि ग्रुप 1600 करोड़ रुपये का निवेश करने वाला है। पतंजलि फूड एंड हर्बल पार्क मेगा प्रोजेक्ट 455 एकड़ में बनना है।

तार-तार कानून व्यवस्था, मथुरा में तीन लोगों की गोली मारकर हत्या

  • खेतों में सो रहे लोगों को मारी गई गोली

लखनऊ। मथुरा तीन हत्याओं से दहल गई। हथियारबंद लोगों ने तीन लोगों को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। तिहरे हत्याकांड की सूचना से पुलिस महकमे में हडक़ंप मच गया। तनाव को देखते हुए कई थानों की पुलिस और पीएसी बुला ली गई। सूचना के बाद डॉग स्क्वायड, फिंगर प्रिंट दस्ता, फोरेंसिक एक्सपर्ट टीम भी मौके पर पहुंची। टीम ने घटना स्थल को सील कर दिया और खून के नमूने लिए।
घटना थाना राया के भरेऊ गांव की है। यहां उस समय सनसनी फैल गयी जब ग्रामीण सुबह नींद से जागे तो उन्हें तीन लोगों की हत्या होने की जानकारी लगी। अलग-अलग खेतों पर सुरक्षा के लिए सो रहे ग्रामीण सुंदर सिंह जाट, भंवर सिंह और सत्यप्रकाश जाट की किसी ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।
घटना के बाद पूरे गांव में सन्नाटा पसरा है। मौके पर पुलिस के बड़े अधिकारी ग्रामीणों से पूछताछ में जुटे हुए है। फिलहाल तिहरे हत्या कांड को क्यों अंजाम दिया गया यह किसी को समझ नहीं आ रहा है। मृतकों में पूर्व प्रधान और पूर्व फौजी भी शामिल बताये जा रहे हैं। एसएसपी प्रभाकर चौधरी सहित फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और वारदात की तह में पहुंचने की कोशिश करने में जुटी हैं।

Pin It