संक्षिप्त खबरें

एलडीए से शासन ने मांगा बचा बजट

लखनऊ। शासन ने लखनऊ विकास प्राधिकरण से शहर के विकास से जुड़ी तमाम परियोनाओं में बचा बजट मांगा है। एलडीए की दर्जनों योजनाएं ऐसी हैं, जिनमें बजट खर्च नहीं हो सका। एलडीए के पास करीब 20 करोड़ रुपये का बजट है जोकि किन्हीं कारणों से खर्च नहीं हो सका है। इस बजट को शासन की ओर से वापस मांग लिया गया है। एलडीए ने शहर की विभिन्न विकास की योजनाओं पर पिछले 12 सालों में अरबों रुपए खर्च किया है। इनमें से कुछ योजनाएं अधूरी हैं। कुछ योजनाओं का पैसा सरकार ने पहले वापस ले लिया था तो कुछ का अभी बचा हुआ है।

मॉडल शॉप में फायरिंग

लखनऊ। आलमबाग थाना क्षेत्र में नशे में धुत एक कांस्टेबल समेत चार दबंगों ने मॉडल शॉप में फायरिंग कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आरोपियो को हिरासत में लेकर पूछताछ की। आलमबाग के सुजानपुरा में स्थित एक मॉडल शॉप में रोहित वर्मा, राहुल मिश्रा, संजय सोनकर और कांस्टेबल विवेक यादव शराब पीने के लिये पहुंचे। नशे में धुत इन लोगों ने अन्य लोगों से अभद्रता शुरू कर दी। जब मॉडल शॉप के कर्मचारियों ने इसका विरोध किया तो उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में ले लिया है।

युवक ने फांसी लगाकर दी जान

लखनऊ। पीजीआई थाना क्षेत्र में एक युवक ने संदिग्ध हालात में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजकर जांच शुरू कर दी है। राजाजीपुरम निवासी अभिषेक ने दस साल पहले नेहा नाम की लडक़ी से शादी की और इसके बाद वह परिवारवालों से अलग होकर पीजीआई के तेलीबाग में आकर रहने लगा। शाम को वह वापस आया और अपने कमरे में चला गया। कुछ देर बाद जब नेहा वहां पहुंची तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गयी। अभिषेक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

पैरा क्रिकेटर सम्मानित

लखनऊ। समर विंड स्वीमिंग अकादमी और सेंटर में आयोजित कार्यक्रम में स्वराज कल्याण सेवा संस्थान ने बांग्लादेश में आयोजित पैरा क्रिकेट टूर्नामेंट की विजेता टीम को सम्मानित किया गया। इस दौरान अकादमी में 10 जरूरतमंद बच्चों को मुफ्त में कोचिंग देने की भी जानकारी दी गई। इसके साथ ही 150 तैराकों के टूर्नामेंट के विजेताओं को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में दिनेश मिश्र, कीर्ति प्रकाश मिश्र, एससी त्रिपाठी, साकेत शर्मा, डॉ. आरबी सिंह और मु. हैदर उपस्थित रहे।

मेडिकल स्टोर पर छापा

लखनऊ। कैसरबाग स्थित नाथ फार्मा में रविवार को खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने छापेमारी की। मेडिकल स्टोर में बिना डॉक्टर के पर्चे के लोगों को सिड्यूल एच की दवाएं बेची जा रही थीं। टीम के सदस्यों का कहना है कि लोग इन दवाओं का इस्तेमाल नशे के रूप में कर रहे थे। छापेमारी के दौरान बड़े पैमाने पर सिड्यूल एच की दवाएं व इंजेक्शन मिले हैं। जिसे टीम ने सील कर खरीद-फरोख्त से जुड़े बिल तलब किए हैं। फिलहाल दुकान बंद करा दी गई है। जवाब देने तक मेडिकल स्टोर में दवाओं की बिक्री पर पाबंदी लगा दी गई है। जिलाधिकारी से शिकायत के बाद ड्रग इंस्पेक्टर रमा शंकर व माधुरी सिंह ने कैंसरबाग स्थित नाथ फार्मा में छापेमारी की। छापेमारी के दौरान कई लोग इंजेक्शन खरीदने पहुंचे। इन लोगों के पास डॉक्टर का पर्चा नहीं था।

Pin It