स्वच्छता अभियान: शहर छोडि़ए, अफसरों के आवासों के सामने भी गंदगी का अंबार

स्वच्छता अभियान: शहर छोडि़ए, अफसरों के आवासों के सामने भी गंदगी का अंबार

सफाईकर्मियों की फौज के बाद भी बरती जा रही लापरवाही
सरकारी आवासों के पास बनी कॉलोनियों में भी कूड़े का ढेर
आदेश-आदेश खेल रहा नगर निगम प्रशासन जमीन पर नहीं हो रही सफाई

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। स्वच्छता रैकिंग में भले ही लखनऊ को देश में 12वां स्थान मिला हो लेकिन जमीनी हकीकत इससे ठीक उलट है। शहर को छोडि़ए, अफसरों के सरकारी आवासों के सामने गंदगी का अंबार लगा रहता है। नाले चोक हैं और कूड़े के ढेर लगे हैं। इन सरकारी आवासों के पास बनी कॉलोनियों में भी साफ-सफाई की व्यवस्था चरमरा चुकी है। वहीं नगर निगम प्रशासन आदेश-निर्देश का खेल खेलकर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर रहा है।
नगर निगम के जोन एक स्थित हजरतगंज के विक्रमादित्य मार्ग पर उत्तर प्रदेश शासन के आला अधिकारियों सहित मंत्री एवं नेताओं के सरकारी आवास हैं। यहां से नगर निगम मुख्यालय की दूरी महज दो किमी है। बावजूद इसके इन सरकारी आवासों के सामने गंदगी का अंबार लगा रहता हैं। साफ सफाई की व्यवस्था दुरुस्त नहीं है। अव्यवस्थाओं का बोलबाला है। विक्रमादित्य मार्ग पर रखे कूड़ेदान खस्ताहाल हो चुके हैं। इसके साथ ही कूड़ेदान की लोहे से बनी चादर सडक़र गल चुकी हैं। इसके कारण कूड़ा सडक़ों पर बिखरा रहता है। नालों की सफाई कर कचरा वहीं फेंका दिया जाता है। लिहाजा आए दिन नाला चोक रहता है। बारिश के दौरान नाले का पानी सडक़ों पर बहने लगता है। मुख्य सचिव शासन के सरकारी आवास के सामने भी गंदगी रहती है। वहीं यहां की आवासीय कॉलोनी में भी साफ-सफाई नहीं हो रही हैं। हालांकि निगम प्रशासन ने विक्रमादित्य मार्ग के कुछ सरकारी आवासों के सामने फैली गंदगी को लेकर संबंधित कर्मचारियों को नोटिस जारी किया है लेकिन हालात जस के तस हैं।

सीएम आवास से महज पांच सौ मीटर की दूरी पर चल रही डेयरी
लापरवाही का आलम यह है कि सीएम आवास से महज पांच सौ मीटर दूरी पर अवैध रूप से डेयरी संचालित हो रही है। यहां के मवेशी सडक़ों पर घूमते रहते हैं। इससे हादसों की आशंका हमेशा बनी रहती है। यह स्थिति तब है जब डेयरियों को शहर की सीमा से बाहर करने का आदेश पारित किया जा चुका है।

गंदगी पर घूमते हैं आवारा जानवर
अफसरों के सरकारी आवास के सामने बिखरे कूड़े के ढेर पर आवारा जानवर घूमते रहते हैं। वे आने-जाने वालों पर कई बार हमला भी कर चुके हैं।

मामला संज्ञान में आया है। जोनल अधिकारी को नियमित रूप से कूड़ा उठान और नाले की सफाई कराने के निर्देश दिए गए हैं।
अजय द्विवेदी, नगर आयुक्त

https://www.youtube.com/watch?v=eB9kAeSCuc0

Next Story
Share it