Top

संक्रमितों के इलाज में लापरवाही बरती तो होगी कार्रवाई: सीएम

संक्रमितों के इलाज में लापरवाही बरती तो होगी कार्रवाई: सीएम

60 वर्ष के ऊपर के मरीज अब नहीं होंगे होम आइसोलेट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कोरोना मरीजों की मौतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाराजगी जताई है। साथ ही सख्त निर्देश दिया है कि इलाज में लापरवाही न बरतें, अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जाएगी। देर रात वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए सीएम योगी ने यह निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि 60 वर्ष से ऊपर के मरीजों को होम आइसोलेट नहीं होने दिया जाएगा। अन्य मरीजों में भी हल्के लक्षण आने पर तत्काल उन्हें अस्पताल में भर्ती करा दिया जाएगा।
प्रदेश के अस्पतालों में समुचित व्यवस्था बनाये रखते हुए कहा कि कोविड-19 मरीजों को किसी भी प्रकार की पीड़ा न हो, अस्पतालों में उनकी पूरी देखभाल हो। वीसी में मुख्यमंत्री योगी गोरखपुर में कोरोना से संबंधित जानकारी ले रहे थे। उन्होंने कहा कि संक्रमितों की मौतें हर हाल में रोकी जाएं। इलाज में अगर लापरवाही बरती गई तो कार्रवाई तय है। अगर कोई असुविधा होती है, तो इसकी जानकारी शासन को दी जाए। जरूरत पडऩे पर पीजीआई के डॉक्टरों व अन्य विशेषज्ञों से संपर्क किया जाए। उन्होंने कहा कि गंभीर मरीजों को होम आइसोलेट न होने दिया जाए। 60 वर्ष से ऊपर के मरीजों को अस्पतालों में भर्ती किया जाए। उन्होंने कहा कि हमें यह सुनने को नहीं मिलना चाहिए कि मरीज गंभीर या बुजुर्ग था और उसकी होम आइसोलेट के कारण मौत हो गई।

विदेश से हवाई यात्रा कर लौटे लोग अब हो सकेंगे होम क्वारंटाइन

यूपी में विदेश से हवाई यात्रा कर आ रहे लोगों के लिए नया प्रोटोकॉल जारी कर दिया गया। अब विदेश से हवाई यात्रा कर प्रदेश में आ रहे लोगों को सात दिन इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन यानी होटल व हॉस्टल इत्यादि में नहीं रहना होगा। वह सीधे अपने घर पर जाकर क्वारंटाइन होंगे। यानी पूरे 14 दिन की क्वारंटाइन की अवधि अपने घर में ही बिता सकेंगे। पहले सात दिन इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन व सात दिन होम क्वारंटाइन होना होता था। अब कुछ शर्तों के साथ होम क्वारंटाइन की सुविधा दे दी गई है।

खेती की जमीन पर अब उद्योग लगाना और आसान

राज्य सरकार उद्यमियों को बड़ी राहत देने जा रही है। कृषि यानी खेती की जमीन पर उद्योग लगाने के लिए भू-उपयोग परिवर्तन शुल्क 35 प्रतिशत से घटाकर 20 प्रतिशत करने की तैयारी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आवास विभाग के इस प्रस्ताव पर सहमति जता दी है। जल्द ही कैबिनेट मंजूरी के लिए प्रस्ताव भेजने की तैयारी है। उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों की अपेक्षा कृषि से औद्योगिक भू-उपयोग कराने के लिए अभी अधिक शुल्क देना पड़ रहा है। उद्यमियों ने इस दर में संशोधन का सुझाव दिया था। राजस्थान, हरियाणा, पंजाब और आंध्र प्रदेश में कृषि से उद्योग में जमीन बदलवाने के लिए कम शुल्क देना पड़ रहा है। कहीं पर 10 प्रतिशत है तो कहीं पर यह दर 15 प्रतिशत है। आवास विभाग ने इसके आधार पर प्रस्ताव तैयार किया है, जिस पर सहमति बन चुकी है।

जफर इस्लाम बने भाजपा के राज्यसभा उम्मीदवार

विधानसभा में भाजपा सदस्यों की संख्या देखते हुए जीत तय

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यूपी में भाजपा के विधायकों की बड़ी संख्या का लाभ केंद्रीय नेतृत्व उठाना जानता है। सपा नेता अमर सिंह की मौत के बाद राज्यसभा की खाली सीट पर होने वाले उप चुनाव में भाजपा ने मध्य प्रदेश के सैयद जफर इस्लाम को उम्मीदवार बनाया है। उत्तर प्रदेश से स्वर्गीय मनोहर पार्रिकर, स्वर्गीय अरुण जेटली तथा केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी के बाद अब बाहरी सैयद जफर इस्लाम राज्यसभा में जााएंगे।
उत्तर प्रदेश विधानसभा में भाजपा सदस्यों की संख्या को देखते हुए जफर की जीत तय मानी जा रही है। सैयद जफर इस्लाम भाजपा के राष्टï्रीय प्रवक्ता हैं। माना जाता है कि पार्टी प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस से भाजपा में शामिल करवाने में अहम भूमिका निभाई थी। राजनीति में आने से पहले जफर इस्लाम एक विदेशी बैंक के लिए काम करते थे। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हुए थे।

https://www.youtube.com/watch?v=4L-vQcY9IF0

Next Story
Share it