Top

विकास से कोसों दूर सर्वोदयनगर हर ओर अव्यवस्थाओं का बोलबाला

विकास से कोसों दूर सर्वोदयनगर हर ओर अव्यवस्थाओं का बोलबाला

जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे नगर निगम, पीडब्ल्यूडी व सिंचाई विभाग
जलभराव और गंदगी से परेशान हैं स्थानीय निवासी
अवैध डेयरियां और झुग्गी बस्तियों ने भी बढ़ाई मुसीबत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लाल बहादुर शास्त्री वार्ड का सर्वोदयनगर आज भी विकास से कोसों दूर है। यहां चारों ओर अव्यवस्थाओं का बोलबाला है। स्थानीय निवासी गंदगी और जलभराव से परेशान हैं। रही सही कसर अवैध डेयरियां और झुग्गी बस्तियों ने पूरी कर दी है। नाले और नालियां चोक पड़ी हैं। वहीं कई बार शिकायत करने के बाद भी संबंधित विभागों ने कोई कार्रवाई नहीं की। नगर निगम, पीडब्ल्यूडी व सिंचाई विभाग एक-दूसरे पर इसका ठीकरा फोड़ रहे हैं।
बारिश के साथ ही यहां अव्यवस्थाएं सतह पर दिखाई पडऩे लगी हैं। नालों के चोक होने के कारण जलभराव हो गया है। इसका गंदा पानी लोगों के घरों में घुस रहा है। पूरे इलाके में गंदगी फैली हुई है। यही नहीं नाले के किनारे अवैध बस्तियां और डेरियां बसी हुई हैं। कुकरैल बंधा नगर निगम के जोन सात में आता है। कुकरैल नाले के किनारे खाली पड़ी जमीन पर लोगों ने झुग्गी झोपडिय़ां बना ली हैं। यहां कई अवैध डेयरियां संचालित की जा रही हैं। इन डेयरियों के मवेशी सडक़ों पर घूमते और गंदगी फैलाते हैं। कुकरैल बंधे के एक ओर यूपी पुलिस की पीएसी वाहिनी बनी हुई है जबकि दूसरी तरफ आवासीय कालोनी है। आवासीय कालोनी में लोग पचास वर्षों से अधिक समय से रह रहे हैं। यहां पीडब्ल्यूडी द्वारा बनाई गई सडक़ के किनारे देशी शराब की दुकान खुली है। आवासीय जमीन पर शराब का ठेका चल रहा है। वहीं नाले के ऊपर लिंटर डालकर शराब की दुकान तक जाने का रास्ता बनाया गया है। वहीं जलभराव के कारण यहां संक्रामक रोगों का खतरा बढ़ गया है। इनके कारण स्थानीय लोगों में दहशत है।

शराबी मचाते हैं हुड़दंग

क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि यहां दिनभर शराबियों का जमावड़ा लगा रहता है। ये शराबी हंगामा करते हैं। साथ ही लोगों के साथ अभद्रता करते हैं। एक बार एक मजदूर शराब की दुकान के किनारे लगी रेलिंग से नाले में गिर गया था और उसकी मौत हो गई थी ।

देशी शराब की दुकान के बाहर सडक़ पर वाहन खड़ा करने वालों के वाहन के चालान की कार्रवाई की जाती है। शराब पीकर अभद्रता करने वालों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाएगी।
बृजेश सिंह, थाना प्रभारी, गाजीपुर

बंधे के किनारे रास्ता बनाने का प्रस्ताव है। सडक़ बनाने का काम पीडब्ल्यूडी को दिया गया है। कब्जा हटाने का काम पीडब्ल्यूडी द्वारा ही किया जाएगा।
राकेश कुमार, अभियंता, सिंचाई विभाग

सडक़ निर्माण का प्रस्ताव पास हुआ है। दो अतिरिक्त पुल का भी प्रस्ताव है। रास्ते का चौड़ीकरण किया जाएगा। जल्द ही अवैध कब्जे हटाये जाएंगे ।
राम तिलक, अभियंता, पीडब्ल्यूडी

हमारा काम छोटी नालियों को साफ करने का है । बड़े नाले का काम नगर निगम का इंजीनियरिंग विभाग देखता है ।
देवेंद्र वर्मा, सफाई निरीक्षक, नगर निगम

https://www.youtube.com/watch?v=qX6WpVbJfgc

Next Story
Share it