राजधानी में चार इलाकों में कोरोना बेकाबू, 5 दिन से लगातार 300 लोग हो रहे संक्रमण का शिकार

राजधानी में चार इलाकों में कोरोना बेकाबू, 5 दिन से लगातार 300 लोग हो रहे संक्रमण का शिकार

  • जुलाई माह में टूटा कोरोना संक्रमितों का रिकॉर्ड दोगुनी हुई केसों की संख्या

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए स्वास्थ्य महकमा तमाम जरूरी कदम उठा रहा है। बावजूद इसके आंकड़े बढ़ रहे हैं। बीते दस दिन में कोरोना ग्राफ में तेजी आई है। संक्रमण की सुई का पैमाना ऊपर की ओर बढ़ता ही जा रहा है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को लेकर लगातार दिशा-निर्देश जारी कर रहा है।
जुलाई माह में संक्रमण के आंकड़े तेजी के साथ बदल रहे हैं जो आने वाले समय में बेहद चिंताजनक साबित हो सकते हैं। इस माह के एक सप्ताह में आंकड़ों पर नजर डाले तो स्थिति भयावह है। 16 से 23 तारीख के बीच रोजाना 300 लोग संक्रमण का शिकार हुए हैं। 5 दिन तो आंकड़ा 300 से ऊपर रहा। बीते आठ दिन में ढाई हजार लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें कुछ सामान्य लक्षण व बिना लक्षण वाले मरीज भी हैं। विभाग की मानें तो पहले की अपेक्षा केसों की संख्या दोगुनी हो गई है। औसतन हर दिन पहले के मुकाबले अब दो से तीन गुना मरीज कोविड-19 अस्पताल में इलाज के लिए आ रहे हैं। वहीं राजधानी के आशियाना, इंदिरानगर, गोमतीनगर विस्तार व गाजीपुर क्षेत्र में कोरोना बेकाबू है। यहां संक्रमण तेजी से फैल रहा है। जिलाधिकारी इस क्षेत्र का दो बार दौरा कर चुके हैं।

लापरवाही के चलते बदल रहा आंकड़ा

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि एहतिहात न बरते जाने से संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। जुलाई माह की शुरुआती 9 दिनों में इन आंकड़ों की संख्या 100 से भी कम थी। वहीं 10 जुलाई के बाद आंकड़े बदलने लगे। 11 जुलाई को आंकड़ा 200 पार कर गया। यानी आंकड़े दोगुने हो गए। 16 जुलाई के बाद से आंकड़े तीन गुना तेजी के साथ बढ़े और आंकड़ा 300 के पार पहुंच गया। बीते 12 दिनों में 29 लोगों की मौत हो चुकी है। गुरुवार को कोरोना वायरस ने 307 लोगों को अपने चपेट में ले लिया। वहीं अन्य जिलों में इनकी संख्या दहाई के अंदर ही है।

एंबुलेंस में ही तोड़ दिया दम

चिनहट निवासी अंकित (26) की रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी। इसके बाद एंबुलेंस में मरीज को एक निजी अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां मरीज को भर्ती नहीं किया। मरीज कई अस्पतालों के चक्कर काटता रहा। इसके बाद स्थिति ज्यादा गंभीर होने पर एक निजी अस्पताल में जांच के बाद मरीज को दोपहर में केजीएमयू रेफर कर दिया गया। मरीज को वार्ड में शिफ्ट करने में ही दो घंटे गुजर गए और इसी बीच मरीज ने एंबुलेंस में दम तोड़ दिया। इसके पहले केजीएमयू में दो और संक्रमितों को भर्ती न किए जाने से वे एंबुलेंस में दम तोड़ चुके हैं।

केसों पर एक नजर

1- 9 जुलाई 100 से कम
10- 12 जुलाई 100 पार
11- 15 जुलाई 150 पार
16-23 जुलाई 300 पार

इन स्थानों पर हालात बेकाबू

क्षेत्र पहले बाद में
इंदिरानगर 19 158
गाजीपुर 29 80
आशियाना 29 121
सरोजनीनगर 12 62

कोरोना संक्रमण को रोकना हमारी पहली प्राथमिकता है। इस पर काबू पाने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा, जिससे लोगों को महामारी से बचाया जा सके। रही संक्रमण के बढ़ते आंकड़ों की बात तो जल्द ही इस पर विराम लग जाएगा।
डॉ. डीएस नेगी, महानिदेशक स्वास्थ्य विभाग

https://www.youtube.com/watch?v=QN_fyaf-eaQ

Next Story
Share it