Top

मेरठ: पुलिस हिरासत से फरार शमशाद मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

मेरठ: पुलिस हिरासत से फरार शमशाद मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

प्रेमिका और उसकी बेटी की हत्या की थी, शव को घर में ही कर दिया था दफन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
मेरठ। प्रेमिका और उसकी नौ साल की बेटी की बेरहमी से हत्या करने और उनके शव को घर में ही दफन कर देने के आरोपित शमशाद को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद पकड़ लिया है। बुधवार की शाम को वह पुलिस की हिरासत से फरार हो गया था। आज सुबह पुलिस से मुठभेड़ के दौरान आरोपित शमशाद घायल हो गया। घायल शमशाद को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। हिरासत से फरार होने पर पुलिस ने उसके ऊपर 25 हजार का इनाम घोषित किया था। पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश में जुटी थी।
शमशाद ने एक साल पहले ही प्रिया के कत्ल की पटकथा लिख ली थी। दस अप्रैल 2019 को प्रिया ने अपने प्रेमी पर दुष्कर्म का आरोप लगाकर खरखौदा थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। उसके बाद शमशाद ने प्रिया की हर बात मानकर समझौता कर लिया। साथ ही उसे अपने नए मकान में साथ ले आया। यहां आकर लगातार इस्लाम धर्म अपनाने का दबाव भी बना रहा था। इन्कार करने पर मारपीट करता था। 29 मार्च को योजना के तहत उसने प्रिया और उसकी बेटी की हत्या कर दी।

दहेज में 11 लाख न मिलने पर विवाहिता को उतारा मौत के घाट

मेरठ (4पीएम न्यूज़ नेटवर्क)। दहेज लोभियों ने 11 लाख रुपये की मांग पूरी न होने पर विवाहिता को मौत के घाट उतार दिया। विवाहिता के भाई ने उसके पति, सास व ससुर के खिलाफ रोहटा थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। सरधना थाना क्षेत्र के महादेव गाव निवासी अमित त्यागी पुत्र रामकुमार त्यागी ने बताया कि उसकी 25 वर्षीय बहन अंजलि त्यागी की शादी पांच माह पूर्व रोहटा थाना क्षेत्र के कैथवाड़ी गांव निवासी आशुतोष त्यागी पुत्र अनिल त्यागी के साथ हुई थी। शादी में दिए गए सामान से उसका पति, ससुर व सास सुमन त्यागी खुश नहीं थे। भाई का आरोप है कि उन्होंने अंजलि का उत्पीडऩ करना शुरू कर दिया और 11 लाख नकद लाने की मांग की। उन्होंने अंजलि के साथ कई बार मारपीट की। मंगलवार को ससुराल वालों ने अंजलि की गला घोंट कर हत्या कर दी। पड़ोसियों की सूचना पर वे कैथवाड़ी पहुंचे तो अंजली कमरे में मृत पड़ी थी। ससुरालवाले वहां से फरार हो गए। अंजलि का अंतिम संस्कार महादेव में किया गया। इकलौती बेटी अंजलि की मौत के बाद उसका पूरा परिवार सदमे में है।

कोरोना वार्ड में युवती से डॉक्टर ने किया दुष्कर्म का प्रयास, भेजा गया जेल

निलंबन की होगी कार्रवाई चेकअप के बहाने कर रहा था घिनौनी हरकत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
अलीगढ़। दीनदयाल अस्पताल में डॉक्टर ने कलंकित करने वाला काम किया। चेकअप के बहाने कोविड मरीज युवती से छेड़छाड़ व दुष्कर्म का प्रयास किया। शिकायत पर डॉक्टर के खिलाफ दुष्कर्म के प्रयास का मुकदमा दर्ज करने के बाद उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। डॉक्टर पर निलंबन की कार्रवाई की भी तैयारी है।
गांधीपार्क थाना क्षेत्र निवासी एक व्यापारी की 28 वर्षीय बेटी दिल्ली में रहती है। 20 जुलाई को तबीयत खराब होने पर वह अलीगढ़ आई। उसी दिन अस्पताल में भर्ती हो गई। 21 जुलाई को उसकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई, तो आइसोलेशन वार्ड में रखा गया। पीडि़ता का आरोप है कि 21 जुलाई की रात करीब 10 बजे हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. तुफैल अहमद चेकअप के लिए वार्ड में आए। उन्होंने इंजेक्शन लगाने की बात कहते हुए छेड़छाड़ की। इसकी युवती ने सूचना पिता व भाई को दी। अस्पताल प्रबंधन ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया तो शिकायत डीएम-एसएसपी तक पहुंच गई। डीएम ने एसीएम द्वितीय रंजीत सिंह, सीओ अनिल समानिया को जांच के लिए भेजा। सीएमओ डॉ. भानप्रताप सिंह कल्याणी भी पहुंच गए। अफसरों ने करीब तीन घंटे तक सीएमएस व अन्य स्टाफ से पूछताछ की। आरोप सही पाए जाने पर डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया। युवती की तहरीर पर दुष्कर्म के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर डॉक्टर को जेल भेज दिया।

https://www.youtube.com/watch?v=-JJGP_sQ6Ks

Next Story
Share it