Top

माफिया मुख्तार अंसारी के काले साम्राज्य के अंत का समय आ गया

माफिया मुख्तार अंसारी के काले साम्राज्य के अंत का समय आ गया

अंसारी गिरोह के 97 साथी पुलिस हिरासत में

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि माफिया मुख्तार अंसारी के काले-साम्राज्य के अंत का समय आ गया है। योगी आदित्यनाथ कार्यालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ये जानकारी दी गई है। ट्वीट में यह भी बताया गया कि अब तक उसकी 66 करोड़ रुपए की अवैध संपत्ति जब्त हो चुकी है।
41 करोड़ की अवैध आय की प्राप्ति का मार्ग बंद किया जा चुका है। मुख्तार अंसारी गिरोह के 97 साथी पुलिस की हिरासत में हैं। यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी। ट्वीट के अनुसार अवैध कब्जेदारों, फर्जी दस्तावेजों के आधार पर निष्क्रांत सम्पत्ति पर अवैध कब्जे एवं अवैध निर्माण कराने के षड्यंत्र में शामिल माफिया मुख्तार अंसारी, उनके पुत्रगण और इस षड्यंत्र में शामिल सभी व्यक्तियों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

अपराधियों से किराया भी वसूलेगी सरकार

ट्विटर पर सीएम योगी ने यह भी ऐलान किया कि अपराधियों की अवैध सम्पत्तियों के उपभोग से हुई किराए की वसूली और उनको ढहाने का खर्च भी अपराधियों से ही वसूला जाएगा। वहीं पूरे प्रकरण में लिप्त अधिकारियों/कर्मचारियों के खिलाफ भी प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी, जिससे इस प्रकार के आपराधिक कृत्यों की पुनरावृत्ति न हो।

राजधानी लखनऊ में मुख्तार अंसारी की दो बिल्डिंग ढहाई

लखनऊ में एक दिन पहले माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की दो अवैध कब्जा कर बनाई गई दो मंजिला बिल्डिंगों को जमींदोज कर दिया गया। लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा पुलिस के साथ मिलकर डालीबाग स्थित इन दोनों बिल्डिंगों को गिराने की कार्रवाई की गई है। मुख्तार अंसारी ने शत्रु संपत्ति पर अवैध कब्जा कर ये इमारतें खड़ी की थी। दरअसल अंसारी ने इन दोनों बिल्डिंगों को पहले अपनी मां राबिया के नाम ट्रांसफर करवाया। उसके बाद अपने दोनों बेटों के नाम ट्रांसफर करवा दिया। यह दोनों बिल्डिंग गलत तरीके से रजिस्ट्री कराई गई थीं।

कोरोना: कम्युनिटी स्प्रेड का पता लगाने के लिए यूपी के 11 जिलों में सीरो सर्वे शुरू

१११ 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कोरोना वायरस के सामुदायिक संक्रमण (कम्युनिटी स्प्रेड) का पता लगाने के लिए यूपी में सीरो सर्वे शुरू हो गया है। यह सर्वे अभी 11 जिलों में किया जाएगा। सर्वे में लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज, गोरखपुर, आगरा, मुरादाबाद, मेरठ, कौशांबी, बागपत व गाजियाबाद आदि पहले चरण में है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि लखनऊ में सीएमओ के खुद कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण यहां सर्वे का काम एक-दो दिन आगे टलेगा, जबकि बाकी जिलों में सीरो सर्वे शुरू कर दिया गया है। कोरोना वायरस के सामुदायिक संक्रमण का पता लगाने के लिए सीरो सर्वे के साथ हेपेटाइटिस-बी व हेपेटाइटिस-सी की भी जांच होगी। महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डॉ.डीएस नेगी की ओर से सभी जिलों को सीरो सर्वे का काम शुरू करने के निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस सर्वे में करीब 20 हजार लोगों के खून के नमूने लिए जाएंगे। इससे कोरोना एंटीबाडी, हेपेटाइटिस बी व सी की भी जांच होगी। किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) लखनऊ के निर्देशन में 11 जिलों में सीरो सर्वे होगा। केजीएमयू सभी जिलों के जिला प्रशासन की सर्वे में मदद करेगा।

https://www.youtube.com/watch?v=Q-ivk0Kgc7o

Next Story
Share it