Top

महिलाओं और बालिकाओं के प्रति अपराध करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

महिलाओं और बालिकाओं के प्रति अपराध करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

प्रदेश में नवरात्र तक चलेगा महिला सुरक्षा अभियान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अपराधों को रोकने के लिए योगी सरकार ने कानून की सख्ती के साथ ही जन जागरण का बड़ा अभियान चलाने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शारदीय नवरात्र से वासंतिक नवरात्र तक महिला सुरक्षा अभियान चलाने के निर्देश पुलिस के उच्चाधिकारियों को दिए हैं। यह अभियान 17 से 25 अक्टूबर तक चलेगा। महिला सुरक्षा और सशक्तीकरण के संबंध में गृह विभाग ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष उनके सरकारी आवास पर प्रस्तुतीकरण किया। इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि महिलाओं और बालिकाओं के प्रति अपराध की जड़ पर प्रहार करने की जरूरत है। इसे देखते हुए महिला सुरक्षा का अभियान शारदीय नवरात्र से लेकर वासंतिक नवरात्रि तक लगातार चलाया जाए।
अभियान के पहले चरण में महिला सुरक्षा और सशक्तीकरण के जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरे चरण में अभियान को ऑपरेशन के रूप में चलाया जाए। उन्होंने कहा कि अभियान से संबंधित सभी विभाग सोमवार शाम तक अपने द्वारा आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों की विस्तृत रूपरेखा तैयार कर प्रस्तुत करें। वीमेन पावर लाइन 1090 और सेफ सिटी परियोजना में चल रहे काम की जानकारी लेने के साथ ही सीएम योगी ने कहा कि 1090 को और प्रभावी बनाएं। महिला-बालिका की संतुष्टिï तक प्रकरण की मानीटरिंग होनी चाहिए। जागरूकता अभियान के लिए उन्होंने मिशन शक्ति और कानूनी कार्रवाई के लिए आपरेशन शक्ति नाम का सुझाव दिया। इस अवसर पर मुख्य सचिव आरके तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्थी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, एडीजी विमेन पावर लाइन नीरा रावत, आईजी लखनऊ रेंज लक्ष्मी सिंह और निदेशक सूचना शिशिर भी उपस्थित थे।

कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन जरूर हो
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शारदीय नवरात्र के दौरान पूजा पंडालों और रामलीला स्थलों पर कन्या भू्रण हत्या, महिलाओं के प्रति हिंसा आदि अपराधों पर अंकुश लगाने के संबंध में जागरूक करने वाली लघु फिल्मों और नुक्कड़ नाटकों आदि का प्रदर्शन किया जाए। इन कार्यक्रमों के दौरान कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन जरूर हो। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए कि अभियान को सामान्य दिनचर्या को प्रभावित किए बगैर चलाया जाए। विभागीय और अंतरविभागीय स्तर पर कार्यक्रमों के संचालन की निगरानी की व्यवस्था रहे।

अयोध्या की रामलीला देखने जाएंगे सीएम योगी
अयोध्या रामलीला कमेटी के मुख्य संरक्षक सांसद व बीजेपी सीनियर नेता प्रवेश साहिब सिंह वर्मा और अध्यक्ष सुभाष मलिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले और उनको अयोध्या की रामलीला में आने का निमंत्रण दिया। मुख्यमंत्री ने निमंत्रण स्वीकार किया और मंचन के दौरान किसी एक दिन अयोध्या की रामलीला में आने का वादा किया। प्रवेश साहिब सिंह ने रामलीला की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री को अवगत कराया। इस मौके पर बिंदु दारा सिंह भी मौजूद थे और उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि वह अयोध्या की रामलीला में भगवान हनुमान का किरदार निभा रहे हैं। अयोध्या की रामलीला के मंचन में दर्शकों को आने की अनुमति नहीं है। रामलीला को सिर्फ सैटलाइट चैनल्स, यूट्यूब चैनल और अन्य सोशल मीडिया चैनल्स पर ही 17 से 25 अक्टूबर तक शाम 7 बजे से 10 बजे तक दिखाया जाएगा और रामलीला समाप्त होने के बाद रिकॉर्ड कर 14 भाषाओं में यूट्यूब पर दिखाया जाएगा। इस रामलीला का मंचन लक्ष्मण किला (सरयू नदी तट), अयोध्या में होगा।

https://www.youtube.com/watch?v=O7kdg9g_DlI

Next Story
Share it